1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. banka
  5. goods kept in trucks have started deteriorating due to jam

जाम की वजह से खराब होने लगे हैं ट्रकों में रखे माल

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date

बौंसी : भागलपुर दुमका स्टेट हाईवे पर इन दिनों लगे जाम की वजह से आम लोगों के साथ ही दूसरे राज्यों के वाहन चालक भी परेशान हैं. पिछले तीन दिनों से इस महाजाम से लोगों का जनजीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त हो गया है. खासकर बौंसी बाजार सहित आसपास के बाजारों के लोग खासे परेशान हैं. हालांकि रविवार की सुबह से बौंसी पुलिस की टीम जाम को हटाने के लिए परेशान रही. लेकिन दोपहर बाद तक भी जाम की स्थिति जस की तस बनी रही. कोलकाता, झारखंड सहित अन्य जगहों से आने वाले भारी वाहनों की वजह से पूरा मार्ग अवरुद्ध हो गया है.

ऐसे में रात्रि बस सेवा में चल रहे वाहन समय पर अपने गंतव्य को नहीं पहुंच पा रहे हैं. भागलपुर से बौंसी आ रहे यात्री जिन्हें दो घंटे में पहुंचना था वह 6 से 8 घंटे में बौंसी पहुंच पा रहे हैं. सबसे बड़ी समस्या मरीजों के साथ हो रही है. बीमार व दुर्घटनाग्रस्त मरीज अगर बेहतर चिकित्सा के लिए भागलपुर जाना चाह रहे हैं तो उन्हें जाने में सबसे ज्यादा परेशानी हो रही है. ऐसे में हमेशा मरीजों के परिजनों को डर समाया हुआ है कि रास्ते में ही कोई दुर्घटना ना हो जाये. जाम के कारण बौंसी, बांका, बाराहाट, रजौन सहित अन्य जगहों पर व्यापारियों को काफी समस्या हो रही है. चूंकि इस क्षेत्र का बड़ा बाजार भागलपुर है. भागलपुर से प्रतिदिन लोगों को किसी न किसी प्रकार का काम पड़ता है और लोग दैनिक जरूरतों के लिए भागलपुर पर निर्भर रहते हैं. दूसरी ओर वैश्विक महामारी कोरोना की वजह से ट्रेन का परिचालन बंद रहने से भी दैनिक जरूरतों के लिए भागलपुर जाने वाले व्यापारियों व अन्य लोगों की परेशानी काफी बढ़ गयी है.

जाम की वजह से खराब होने लगे है ट्रकों में रखे माल: वहीं जाम की वजह से इस मार्ग पर खड़े वाहनों में रखे माल सड़ने लगे हैं. खासकर आंध्रप्रदेश, बंगाल आदि राज्यों से बाहर जा रही मछलियों से दुर्गंध आ रहा है. चालकों ने बताया कि तीन दिनों से खड़े हैं अगर दो दिन और खड़ा रहना पड़ा तो सड़क किनारे ही मछलियों को फेंक कर जाना पड़ेगा. चालकों ने प्रशासन से अविलंब मार्ग को साफ करवा कर वाहनों को निकलवाने की मांग की है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें