अभूतपूर्व होगा राजद का बिहार बंद

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

अररिया : भारत हमेशा से अनेकता में एकता की मिशाल वाला देश रहा है. भाजपा अपने वोट की राजनीति व राग, द्वेष, घृणा वाली मानसिकता के कारण एक कौम को निशाना बनाकर यह संदेश देने की कोशिश कर रही है कि इस कौम के लोगों की देश को कोई जरूरत नहीं है. ये बातें राजद के वरीय नेता अब्दुल बारी सिद्दिकी ने जिला अतिथि गृह में बुधवार को प्रेस वार्ता में कहीं.

उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी मंदिर व मसजिद में भेद नहीं करती. अपने धर्मों के प्रति हमारी आस्था है. लेकिन किसी दूसरे धर्म की आस्था व विश्वास का भी पार्टी के नेता उतना ही सम्मान करते हैं. 21 दिसंबर को पार्टी द्वारा प्रस्तावित बंद में गांव देहात के वैसे गरीब, मजदूर, किसान जिन्हें अपने देश से, देश के संविधान से मुहब्बत है उन लोगों से बंद को सफल बनाने में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेने की अपील उन्होंने की.
उन्होनें कहा कि उनका यह आंदोलन पूरी तरह अहिंसात्मक होगा. जनता को यह संदेश देने की कोशिश की जायेगी कि देश को तोड़ने की मानसिकता रखने वाले किसी भी पार्टी व विचारधारा का प्रखर विरोध जरूरी है. उन्होंने कहा कि राजद एनआरसी व कैब का सैद्धांतिक रूप से विरोध करती है. 1977 के आंदोलन की याद दिलाते हुए उन्होंने कहा कि उस वक्त भी सत्ता पक्ष के लोगों ने आंदोलन को दबाने का हर संभव प्रयास किया था.
इसका नतीजा लोग देख चुके हैं. राजद नेता ने कहा कि देश की एकता, अखंडता व संप्रभुता की चिंता करने वाले तमाम लोग एनआरसी व कैब का विरोध कर रहे हैं. कैब व एनआरसी के बहाने केंद्र सरकार पिछड़े, अति पिछड़े सहित अन्य वर्ग के लिये उपलब्ध आरक्षण को खत्म करना चाहती है.
देश को आजादी दिलाने वाली पुर्खों का हम सम्मान करते हैं. अलग बात है कि भाजपा अपने उन पुर्खों में भी भेद कर रही है. बील का विरोध करने वालों को एंटी नेशनलिस्ट बता कर उन्हें प्रताड़ित करने की कोशिश की जा रही है. राजद इसका प्रखर विरोध करता है. राज्य व देश की आधिकांश आबादी पार्टी के इस फैसले के साथ खड़ी है. इसलिये राजद द्वारा 21 दिसंबर को प्रस्तावित बंद के अभूतपूर्व होने का भरोसा उन्होंने जाहिर किया.
मौके पर पूर्व सांसद व राजद नेता सरफराज आलम, नरपतगंज विधायक अनिल यादव, जोकीहाट के पार्टी विधायक शहनवाज आलम, राजद नेता व पूर्व विधायक आनंदी यादव, पार्टी जिलाध्यक्ष कमरूजम्मा, अजहरूद्दीन, मीर रज्जाक, क्रांति कुंवर, राजू यादव, चंदन यादव, लालमोहन यादव, सुधीर यादव शम्स रजा उर्फ बबलू सहित अन्य पार्टी नेता मौजूद थे.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें