काली पूजा पर मां खड्गेश्वरी मंदिर में उमड़ा जनसैलाब, लगा महाभोग

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

अररिया : मां खड्गेश्वरी काली महाकाली मंदिर में वैदिक मंत्रों व धार्मिक रीति-रिवाज व हर्षोल्लास के माहौल में काली पूजा संपन्न हुआ. मां काली मंदिर में रविवार को मां खड्गेश्वरी की विधिवत पूजा अर्चना की गयी. रविवार व सोमवार को मां को महाभोग लगाया गया.

इस दौरान जिला मुख्यालय स्थित मां खड्गेवरी काली मंदिर स्थानीय लोगों के आस्था का केंद्र बना रहा. जबकि काली पूजा को लेकर मंदिर को भी आकर्षक रूप से सजाया गया था. मंदिर में होने वाले मां काली की विशेष पूजा अर्चना में हजारों की संख्या में श्रद्धालु शामिल हुए. इस पूजा में नेपाल सहित अन्य राज्यों से बड़ी संख्या में मां के भक्त काली मां के दर्शन व आशीर्वाद के लिए मंदिर पहुंचे.
मां खड्गेश्वरी के साधक नानू बाबा ने बताया कि विशेष वार्षिक आयोजन को लेकर मां के मंदिर को आकर्षक तरीके से सजाया गया था. इसके अलावा भक्तों के स्वागत के लिए जगह-जगह विशाल तौरण द्वार बना कर इन्हें रंगबिरंगे रोशनी की लड़ियों से सजाया गया था. बाबा ने यह भी बताया कि इस आयोजन को सफल बनाने में सभी भक्तों का अहम भुमिका के कारण ही सफल हो पाया है. वही काली पूजा को लेकर सांसद प्रदीप कुमार सिंह काली मंदिर पहुंचे व मां खड्गेश्वरी व उनके साधक नानू बाबा से आशीर्वाद लिया.
साथ ही सांसद ने अररिया की जनता के सुख समृद्धि के लिए कामना किया. इधर इस पूजा को सफल बनाने में अरूण मिश्रा, अखिलेश दास, शशिकांत दूबे, रामजिनिश पासवान, शोभा कांत झा, भैरव पांडे उर्फ किमी आनंद, शंकर माली, किशन भगत, रतन भगत, कृष्ण भगत, भानु कुमार, सनद कुमार, नंद किशोर झा, रौशन कुमार, दीपक कुमार, गुड्डु सिंह, विकास सिंह, हिमांशु कुमार सहित आदि सक्रिय दिखे.
सिमराहा से प्रतिनिधि के अनुसार दीपावली ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों ने अपने अपने घरों को सुरुचिपूर्ण ढंग से सजाकर दीप जलाये. इस मौके पर लोगों ने लक्ष्मी गणेश की भी पूजा अर्चना की. वही क्षेत्र के सिमराहा, खवासपूर, ठिलामोहन आदि गांवों में प्रतिमा की स्थापना कर देर रात्रि मां काली की पूजा धूमधाम के साथ की गई. वहीं सोमवार को ग्रामीण क्षेत्र में लोगों ने गोवर्धन पूजा की. इस दौरान पशुओं को रंग बिरंगे डोरियो में घुंघरू, मूंगा इत्यादि का माला बनाकर पहनाया.
भीम व बकासुर का झांकी रहा आकर्षण का केंद्र
काली पूजा के अवसर पर हर वर्ष काली मंदिर चौक पर भक्ति धार्मिक झांकी बनाया जाता है. इस वर्ष मां खड्गेश्वरी के साधक नानू बाबा के द्वारा भीम व बकासुर युद्ध का एक भव्य झांकी बनाया गया था. जो भक्तों को काफी आकर्षित कर रहा था. साथ ही आकर्षक झांकी को देखने के लिए भारी संख्या में भक्तों की भीड़ उस तरफ आकर्षित हो रही थी.
पांच किमी से अधिक हुआ था भव्य सजावट : काली पूजा को लेकर मंदिर को लाइटिंग से सजावट कर आकर्षक रूप दिया गया था. काली मंदिर के 152 फीट के भव्य गुम्मद को लाईटिंग से सजाया गया था. इसके साथ ही काली मंदिर की आसपास लगभग पांच किमी से अधिक सुंदर सजावट किया गया था, जो भक्तों को काफी आकर्षित कर रहा था.
भजन-कीर्तन में झूमते रहे श्रद्धालु
काली पूजा के उपलक्ष्य में हुए भजन कीर्तन के दौरान जय मां खड्गेश्वरी...जय बाबा खड्गेश्वर नाथ ..., जयकारे भक्ति जागरण के दौरान गुंजायमान होता रहा. यह भक्ति जागरण प्रसिद्ध मां खड्गेवरी काली मंदिर में हुआ. इस भक्ती जागरण आयोजान मां खड्गवरी के साधक नानू बाबा के द्वारा किया गया.
जिसमें जिले के प्रसिद्ध दर्जनों गायक ने मां के गीत पेश किये. भक्ती जागरण की शुरुआत अररिया के प्रसिद्ध गायक मिथिलेश मनमोहक ने गणेश वंदना के साथ किया. इसके बाद मां के लिए कई गीत पेश किये गये.
गायक मिथिलेश ने सुनले पुकार माता... मैया का दरबार सुहाना लगता है...गाया. जबकि रेश्मी कुमारी ने प्यारा सजा है तेरा दरबार भवानी..., जय अम्बे जय जगदंबे ... जैसे गीतों पर भक्तों को खूब झूमाया. इस दौरान सन्नी कुमार, गोपाल आनंद, विद्यानंद सिंह, सिम्पी, अरूण अलवेला, शशि कुमार शेखर, भोला विश्वास सहित दर्जनों गायक ने भजन के माध्यम से देर रात तक बच्चे बुजुर्ग भक्त मां के भजन पर झूमते रहे .
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें