1. home Hindi News
  2. sports
  3. cricket
  4. three time champion chennai super kings in ipl 2021 know csk strengths weaknesses team profile ms dhoni rkt

IPL 2021: तीन बार की चैंपियन धौनी की CSK चौथी बार IPL ट्रॉफी पर कर पायेगी कब्जा, जानिए टीम में इस बार कितना है दम

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
तीन बार की चैंपियन धौनी की CSK इस चौथी बार IPL ट्रॉफी पर कर पायेगी कब्जा
तीन बार की चैंपियन धौनी की CSK इस चौथी बार IPL ट्रॉफी पर कर पायेगी कब्जा
Twitter

IPL 2021 : महेंद्र सिंह धौनी की अगुआई वाली चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) की टीम इंडियन प्रीमियर लीग (आइपीएल) में पिछले साल के दु:स्वप्न को भुला कर इस बार दमदार वापसी करने की कोशिश करेगी. संयुक्त अरब अमीरात में खेले गये 2020 के टूर्नामेंट में तीन बार की चैंपियन सीएसके प्लेऑफ में जगह बनाने में असफल रही थी.

यह टूर्नामेंट के इतिहास में पहला अवसर था, जबकि धौनी की टीम प्लेऑफ में जगह नहीं बना पायी थी. सीएसके को पिछले साल अपनी कमजोर बल्लेबाजी के कारण नुकसान उठाना पड़ा था. यदि इस विभाग में उसने सुधार नहीं किया, तो फिर उसकी वापसी की संभावना कम हो जायेगी. यही नहीं टीम को जीत दिलाने के लिए उसके तेज गेंदबाजों को भी महत्वपूर्ण भूमिका निभानी होगी.

CSK की कमजोरी : टीम में उम्रदराज खिलाड़ी

सीएसके में उम्रदराज खिलाड़ी हैं और क्रिकेट के तेजतर्रार प्रारूप टी-20 में यह उसकी कमजोरी साबित हो सकती है. धौनी, रैना, रायडू और ताहिर जैसे उसके खिलाड़ी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले चुके हैं और घरेलू क्रिकेट में भी नहीं खेलते. ऐसे में मैच अभ्यास की कमी टीम को भारी पड़ सकती है. धौनी के फिनिशर की भूमिका नहीं निभा पाने से भी टीम को नुकसान हुआ है.

सबसे अधिक फाइनल खेलने वाली टीम है चेन्नई

वर्ष परिणाम

  • 2008 उपविजेता

  • 2009 सेफा

  • 2010 विजेता

  • 2011 विजेता

  • 2012 उपविजेता

  • 2013 उपविजेता

  • 2014 तीसरा

  • 2015 उपविजेता

  • 2018 विजेता

  • 2019 उपविजेता

  • 2020 सातवां

CSK की मजबूत पक्ष : टीम के पास अनुभवी बल्लेबाजों का होना

सीएसके का मजबूत पक्ष उसके पास अनुभवी खिलाड़ियों का होना है, जो मुश्किल परिस्थितियों में टीम की नैया पार लगाते रहे हैं. धौनी का प्रेरणादायी नेतृत्व टीम का एक अन्य सकारात्मक पहलू है. सुरेश रैना की वापसी से उसकी बल्लेबाजी मजबूत हुई है. रैना के अलावा फाफ डुप्लेसी, धौनी, अंबाती रायडू, रवींद्र जडेजा, सैम करन, मोईन अली और रुतुराज गायकवाड़ जैसे खिलाड़ियों की मौजूदगी में सीएसके की बल्लेबाजी मजबूत नजर आती है.

गेंदबाजी भी संतुलित : गेंदबाजी आक्रमण भी अच्छा है, जिसमें लुंगी एनगिडी, शार्दुल ठाकुर, सैम करन, इमरान ताहिर, जडेजा और दीपक चाहर जैसे गेंदबाज हैं. सीएसके अपने स्पिन विभाग पर काफी निर्भर रहा है और ऐसे में उसे अपनी रणनीति बदलनी होगी. विशेषकर मुंबई के विकेटों पर, जहां तेज गेंदबाजों को भी मदद मिलती है.

CSK की टीम 

टीम : महेंद्र सिंह धौनी (कप्तान), सुरेश रैना, अंबाती रायडू, केएम आसिफ, दीपक चहर, ड्वेन ब्रावो, फाफ डुप्लेसी, इमरान ताहिर, एन जगदीशन, कर्ण शर्मा, लुंगी एनगिडी, मिचेल सैंटनर, रवींद्र जडेजा, रुतुराज गायकवाड़, शार्दुल ठाकुर, सैम करन, आर साई किशोर, मोईन अली, के गौतम, चेतेश्वर पुजारा, हरिशंकर रेड्डी, भगत वर्मा, सी हरि निशांत.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें