1. home Home
  2. sports
  3. cricket
  4. sourav ganguly told virat kohli the asset best captain of all three formats avd

Virat Kohli Resigns: सौरव गांगुली ने विराट कोहली को बताया एसेट, कप्तानी पर कही ये बड़ी बात

सौरव गांगुली ने विराट कोहली को एसेट बताया और कहा कि टीम इंडिया की बेहतरीन नेतृत्व किया है. उन्होंने कहा, कोहली सभी प्रारूपों में सबसे सफल कप्तानों में से एक हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
सौरव गांगुली ने विराट कोहली को बताया एसेट
सौरव गांगुली ने विराट कोहली को बताया एसेट
twitter

Virat Kohli Resigns: विराट कोहली ने टी20 टीम की कप्तानी छोड़ने का एलान कर सबको चौंका दिया. कोहली ने लंबी चिट्ठी लिखकर कप्तानी छोड़ने की घोषणा की. उन्होंने कहा कि टी20 वर्ल्ड कप के बाद वो टी20 टीम की कप्तानी छोड़ देंगे.

इधर कोहली के कप्तानी छोड़ने की घोषणा के बाद सोशल मीडिया पर प्रतिक्रियाओं की बाढ़ आ गयी है. बीसीसीआई अध्यक्ष और पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने विराट कोहली को सभी प्रारूपों में सफल कप्तान बताया.

गांगुली ने विराट कोहली को एसेट बताया और कहा कि टीम इंडिया की बेहतरीन नेतृत्व किया है. उन्होंने कहा, कोहली सभी प्रारूपों में सबसे सफल कप्तानों में से एक हैं. भविष्य के रोडमैप को ध्यान में रखते हुए निर्णय लिया गया है. T20 कप्तान के रूप में उनके शानदार प्रदर्शन के लिए हम उन्हें धन्यवाद देते हैं.

गांगुली ने कहा, हम उन्हें आगामी विश्व कप और उससे आगे के लिए शुभकामनाएं देते हैं और आशा करते हैं कि वह भारत के लिए खूब रन बनाते रहेंगे.

इधर बीसीसीआई सचिव जय शाह ने कोहली के कप्तानी छोड़ने के बारे में बताया और कहा, हमारे पास टीम इंडिया के लिए एक स्पष्ट रोडमैप है. उन्होंने बताया कि विराट कोहली ने T20 वर्ल्ड कप के बाद टी20 टीम की कप्तानी छोड़ने का फैसला किया है.

उन्होंने आगे कहा, मैं पिछले 6 महीने से विराट और कप्तानी को लेकर बातचीत कर रहा हूं. विराट भारतीय क्रिकेट के भविष्य को आकार देने में एक खिलाड़ी और टीम के एक वरिष्ठ सदस्य के रूप में योगदान देना जारी रखेंगे.

गौरतलब है कि विराट कोहली ने कप्तानी छोड़ने की घोषणा करते हुए लिखा, वो संयुक्त अरब अमीरात में होने वाले टी20 विश्व कप के बाद भारतीय टी20 टीम के कप्तान के पद से हट जायेंगे.

कार्यभार को समझना बहुत महत्वपूर्ण चीज है और पिछले आठ-नौ वर्षों से मेरे अत्यधिक कार्यभार को देखते हुए जिसमें मैं सभी तीनों प्रारूपों में खेल रहा हूं और नियमित रूप से पिछले पांच से छह वर्षों से कप्तानी कर रहा हूं, मुझे लगता है कि मुझे टेस्ट और वनडे क्रिकेट में भारतीय टीम की अगुआई के लिये पूरी तरह से तैयार होने के लिये खुद को थोड़ा ‘स्पेस' देने की जरूरत है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें