1. home Home
  2. sports
  3. cricket
  4. ravichandran ashwin did not get playing 11 in oval test former cricketers raised questions on virat kohlis decision avd

IND vs ENG : रविचंद्रन अश्विन को ओवल टेस्ट में भी नहीं मिली टीम में जगह, कोहली के फैसले पर उठ रहे सवाल

England vs India 4th Test रविचंद्रन अश्विन को इंग्लैंड के खिलाफ चौथे टेस्ट में भी प्लेइंग इलेवन में एंट्री नहीं मिली. हेडिंग्ले में टीमइंडिया की शर्मनाक हार के बाद ऐसी संभावना जतायी जा रही थी कि अश्विन को चौथे टेस्ट में जरूर मौका दिया जाएगा.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
England vs India 4th Test
England vs India 4th Test
twitter

England vs India 4th Test : रविचंद्रन अश्विन को इंग्लैंड के खिलाफ चौथे टेस्ट में भी प्लेइंग इलेवन में एंट्री नहीं मिली. हेडिंग्ले में टीमइंडिया की शर्मनाक हार के बाद ऐसी संभावना जतायी जा रही थी कि अश्विन को चौथे टेस्ट में जरूर मौका दिया जाएगा. लेकिन जब विराट कोहली टॉस के लिए आये तो उन्होंने सारी संभावनाओं को खारिज कर दिया और एक बार फिर से उन्होंने ऑलराउंडर रविंद्र जडेजा पर अधिक विश्वास जताया.

कुछ दिनों पहले रविचंद्रन अश्विन ने सोशल मीडिया पर तस्वीरें साझा की थी जिसमें वह बल्लेबाजी अभ्यास करते नजर आ रहे थे. एक तस्वीर में कवर ड्राइव लगा रहे थे तो दूसरी में गेंद को छोड़ते हुए दिख रहे थे. इसमें खास बात यह थी कि वह बायें हाथ से अभ्यास कर रहे थे और ट्वीट में लिखा था, हर रोज कुछ नया सीखने की इच्छा कभी खत्म नहीं होती.

कप्तान विराट कोहली ने टॉस के समय एक बार फिर दोहराया कि टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले चौथे भारतीय गेंदबाज अश्विन उन पांच सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजों में से नहीं हैं जो इंग्लैंड के खिलाफ ओवल टेस्ट खेलेंगे.

पिछले तीन टेस्ट में दो विकेट लेने वाले रविंद्र जडेजा को खब्बू बल्लेबाजी के कारण टीम में रखा गया. कोहली ने कहा, हमें लगा कि हालात के अनुरूप जडेजा सही बैठते हैं. टीम में बायें हाथ के खिलाड़ी के लिये जगह है और वह इस समय बतौर बल्लेबाज टीम को संतुलन दे रहे हैं.

उनका यह तर्क हालांकि क्रिकेट पंडितों के गले नहीं उतरा. इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन ने कहा , ब्रिटेन में चार टेस्ट में एक में भी रविचंद्रन अश्विन का चयन नहीं होना सबसे बड़े ‘चयन नहीं करने ' के फैसले में से है जो हमने देखे हैं. 413 टेस्ट विकेट और पांच टेस्ट शतक. पागलपन है.

आम तौर पर विवादास्पद टिप्पणी नहीं करने वाले मार्क वॉ ने उस पर जवाब लिखा , हैरानी हो रही है कि क्या भारतीय खेमे ने कुछ सोचा नहीं. टॉस के समय अश्विन को बाहर रखने के फैसले पर कोहली का जवाब सुनने वाले भारत के एक पूर्व क्रिकेटर ने कहा , क्या उसने यह कहा कि चार खब्बू बल्लेबाजों के सामने आर अश्विन से बेहतर रविंद्र जडेजा है. उसने अपने तेज गेंदबाजों की बात कही.

उन्होंने कहा , जडेजा की गेंदबाजी को देखो और क्या आपको यकीन है कि आप उसे इतने रन दे सकोगे कि वह चौथे या पांचवें दिन पिच में पड़ने वाली दरारों का इस्तेमाल कर सके. एक अतिरिक्त बल्लेबाज को उतारने का समर्थन करने वाले सुनील गावस्कर ने कहा कि एक बार टीम की घोषणा होने पर वह उसका समर्थन करेंगे और नतीजा निकलने तक अपनी राय नहीं देंगे.

जडेजा शृंखला में 133 रन बना चुके हैं जबकि अजिंक्य रहाणे ने तीन टेस्टमें 95 रन बनाये हैं. कप्तान कोहली ने इस सत्र में ब्रिटेन में चार टेस्ट (विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल समेत) में एक भी शतक नहीं लगाया है. उन्होंने आखिरी टेस्ट शतक नवंबर 2019 में बांग्लादेश के खिलाफ लगाया था.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें