1. home Hindi News
  2. sports
  3. cricket
  4. rahul dravid broke silence on 6 captains in 8 months said did not plan but prepared many captains aml

राहुल द्रविड़ ने 8 माह में 6 कप्तान पर तोड़ी चुप्पी, कहा- योजना नहीं बनायी थी लेकिन कई कप्तान तैयार किये

टीम इंडिया ने पिछले आठ महीनें में छह कप्तान देखे हैं. चीफ कोच राहुल द्रविड़ से जब यह सवाल पूछा गया तो उन्होंने इसका बड़ा ही दिलचस्प जवाब दिया. उन्होंने कहा कि ऐसी कोई योजना तो नहीं थी, लेकिन इसी बहाने हमने कई कप्तान तैयार किये. उन्होंने कहा कि परिस्थितियों के अनुरूप काम करना ही होता है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
राहुल द्रविड़ और हार्दिक पांड्या.
राहुल द्रविड़ और हार्दिक पांड्या.
Twitter

टीम इंडिया के चीफ कोच राहुल द्रविड़ का कहना है कि उन्होंने आठ महीनों में क्रिकेट के सभी प्रारूपों में छह कप्तानों की योजना नहीं बनायी थी, लेकिन इससे ज्यादा इस बात की खुशी है कि इतने ‘कप्तान' तैयार करने का मौका मिला. द्रविड़ टी-20 विश्व कप के बाद नवंबर में टीम इंडिया के चीफ कोच बने थे. इसके बाद अपरिहार्य कारणों से टीम इंडिया ने कई कप्तानों को देखा. विराट कोहली ने कप्तानी छोड़ी. रोहित शर्मा को कप्तान बनाया गया.

राहुल द्रविड़ के आने के बाद खेले 6 कप्तान

राहुल द्रविड़ के चीफ कोच बनने के बाद से कोविड-19 संबंधित ‘बबल ब्रेक' और चोटों के कारण दिये गये ब्रेक के कारण राष्ट्रीय कप्तान के तौर पर विराट कोहली, रोहित शर्मा, शिखर धवन, लोकेश राहुल, ऋषभ पंत, हार्दिक पंड्या (आयरलैंड में टीम की अगुआई को तैयार) ने जिम्मेदारी संभाली. इस मुद्दे पर राहुल द्रविड़ ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पांचवें टी-20 मैच से पहले खुलकर बात की.

परिस्थितियों को स्वीकार करना पड़ता है

द्रविड़ ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पांचवें टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच शुरू होने से पहले ‘स्टार स्पोर्ट्स' से कहा कि यह चुनौतीपूर्ण भी रहा है, हमने अंतिम आठ महीनों में छह कप्तान उतारे, जो वास्तव में योजना नहीं थी. लेकिन हम जितने मैच खेल रहे हैं, यह उसकी वजह से हुआ है. द्रविड़ ने स्वीकार किया कि ऐसा भी समय आता है जब परिस्थितियों को स्वीकार करना पड़ता है.

कोरोना के कारण भी हुआ कुछ बदलाव

उन्होंने कहा कि कोविड-19 के कारण मुझे कुछ लोगों के साथ काम करना पड़ा जो शानदार रहा. कई खिलाड़ियों को टीम की अगुआई का मौका मिला, हमें ग्रुप में और ‘कप्तान' तैयार करने का मौका मिला. दक्षिण अफ्रीका में टेस्ट और वनडे श्रृंखला गंवाना निराशाजनक था इसलिए टीम हर पहलू में बेहतर होने की कोशिश में जुटी है. उन्होंने कहा कि हम लगातार बेहतर करने की कोशिश करते हैं, हमने विभिन्न लोगों के साथ काफी कोशिश की. पिछले आठ महीनों में दक्षिण अफ्रीका का दौरा टेस्ट क्रिकेट के लिहाज से थोड़ा निराशाजनक रहा.

आईपीएल से कई प्रतिभा बाहर निकले

द्रविड़ खुश हैं कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की बदौलत गेंदबाजी प्रतिभाएं सामने आयी हैं. उन्होंने कहा कि हमारा सफेद गेंद का क्रिकेट अच्छा है, इससे टीम का जज्बा झलकता है. आईपीएल के दौरान तेज गेंदबाजी प्रतिभाएं देखना शानदार था, विशेषकर कुछ गेंदबाज काफी रफ्तार से गेंदबाजी कर रहे थे. द्रविड़ ने कहा कि काफी युवाओं को अपना कौशल दिखाने का मौका मिला और काफी ने अच्छा किया जो भारतीय क्रिकेट के लिये काफी अच्छा संकेत है.

Prabhat Khabar App: देश-दुनिया, टेक-ऑटो, बॉलीवुड, बिजनेस, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. हर दिन की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड कीजिए
प्रभात खबर ऐप.

FOLLOW US ON SOCIAL MEDIA
Facebook
Twitter
Instagram
YOUTUBE

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें