1. home Hindi News
  2. sports
  3. cricket
  4. ms dhoni farm house ranchi farmer dhoni tested savours fresh strawberries shared video team india captain cool mahi avd

Dhoni Farm House Strawberry : 'किसान' धौनी ने टेस्ट किया खुद के खेत का तैयार स्ट्रॉबेरी, शेयर किया VIDEO

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Dhoni Farm House Strawberry
Dhoni Farm House Strawberry
instagram
  • क्रिकेट से संन्यास के बाद धौनी कर रहे रांची में खेती

  • 43 एकड़ में फैला है धौनी का फॉर्म हाउस

  • धौनी ने खुद के फॉर्म हाउस में तैयार स्ट्रॉबेरी को किया टेस्ट, शेयर किया वीडियो

टीम इंडिया के सबसे सफल कप्तानों में शामिल महेंद्र सिंह धौनी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यास के बाद इस समय अपने गृह जिले रांची में खेती-किसानी से जुड़ गये हैं. धौनी ने रांची रिंग रोड से सटे सेंबो गांव में 43 एकड़ क्षेत्र में ऑर्गेनिक खेती कर रहे हैं. जिसमें उन्होंने स्ट्रॉबेरी की खेती भी की है, जो फिलहाल तैयार है. धौनी ने अपने खेत में तैयार स्ट्रॉबेरी को चखा और उसका वीडियो भी इंस्टाग्राम में शेयर किया.

धौनी के स्ट्रॉबेरी की बाजार में धूम

धौनी के फॉर्म हाउस में तैयार उत्पादों की रांची के बाजारों में जमकर मांग देखी जा रही है. डेली मार्केट में दुकानदार धौनी की तसवीर लगाकर उनके फॉर्म हाउस के उत्पादों की बिक्री करे रहे हैं. लोगों को जब पता लगता है कि सब्जी और स्ट्रॉबेरी धौनी के फॉर्म हाउस की हैं, तो उसे खरीदने वालों की संख्या बढ़ जाती है.

स्ट्रॉबेरी के साथ-साथ धौनी के फॉर्म हाउस में गाय और कड़नाथ मुर्गे भी

धौनी जिस तरह से क्रिकेट के मैदान पर चैंपियन माने जाते हैं, अब खेती-किसानी में भी चैंपियन बन गये हैं. उन्होंने अपने फॉर्म हाउस में केवल स्ट्रॉबेरी की खेली नहीं लगाये हैं, बल्कि मटर, बैंगन जैसी सब्जियों की खेती भी कर रहे हैं. इसके अलावा अनानास, शरीफा, अमरूद, पपीता जैसे फलों के बगान भी लगाये हैं.

धौनी ने खेती के लिए ऑर्गेनिक तरीका अपनाया है. उन्होंने अपने खेत में खुद के तैयार खाद का प्रयोग करते हैं. उन्होंने अपने फॉर्म हाउस में जगह-जगह पर जीवामृत तैयार कर रहे हैं और उसी से फसलों में छीड़काव करते हैं, जिससे उत्पादन बढ़ जाता है. ऑर्गेनिक खेती के लिए धौनी ने अपने फॉर्म हाउस में कड़कनाथ मुर्गे और गाय भी पाल रखे हैं. धौनी के फॉर्म हाउस में तैयार दूध भी रांची और आस-पास के बाजारो में रोजाना पहुंच रहे हैं.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें