1. home Hindi News
  2. sports
  3. cricket
  4. ind vs eng 2nd test team india close to victory ravichandran ashwins all rounder performance century 3 wickets of england fell in second innings scorecard on third day avd

IND vs ENG 2nd Test : अश्विन के नाम रहा खेल का तीसरा दिन, शतक के बाद चटकाया विकेट, जीत के बेहद करीब टीम इंडिया

By Agency
Updated Date
दूसरे टेस्ट में जीत के बेहद करीब टीम इंडिया
दूसरे टेस्ट में जीत के बेहद करीब टीम इंडिया
pti photo
  • दूसरे टेस्ट के तीसरे दिन अश्विन का ऑलराउंडर प्रदर्शन

  • अश्विन ने जमाया रिकॉर्ड शतक

  • इंग्लैंड को जीत के लिए 482 रन का टारगेट

चेपॉक की जिस पिच को बल्लेबाजी के लिये मुश्किल माना जा रहा है उस पर रविचंद्रन अश्विन ने आठवें नंबर पर उतरकर सैकड़ा जड़ा और बाद में अक्षर पटेल के साथ मिलकर इंग्लैंड का शीर्ष क्रम लड़खड़ा कर सोमवार को यहां भारत को दूसरे टेस्ट क्रिकेट मैच में बड़ी जीत की तरफ अग्रसर किया.

भारत ने अपनी दूसरी पारी में 286 रन बनाकर इंग्लैंड के सामने 482 रन का मुश्किल लक्ष्य रखा. इंग्लैंड ने तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक अपनी दूसरी पारी में तीन विकेट पर 53 रन बनाये हैं. वह अभी लक्ष्य से 429 रन दूर है जबकि दो दिन का खेल बचा हुआ है.

भारत ने पहली पारी में 329 रन बनाकर इंग्लैंड को 134 रन पर समेट दिया था. अश्विन ने दो जीवनदान का फायदा उठाकर 106 रन की आकर्षक पारी खेली जो उनके करियर का पांचवां और अपने घरेलू मैदान पर पहला शतक है. सुबह के सत्र में पांच विकेट जल्दी गंवाने के बाद अश्विन ने कप्तान विराट कोहली (149 गेंदों पर 62) के साथ सातवें विकेट के लिये 96 रन की साझेदारी की.

उन्होंने मोहम्मद सिराज (नाबाद 16) के साथ आखिरी विकेट के लिये 49 रन जोड़े और इस बीच अपना शतक पूरा किया. इंग्लैंड की तरफ से ऑफ स्पिनर मोईन अली (98 रन देकर चार) और बायें हाथ के स्पिनर जैक लीच (100 रन देकर चार) ने चार-चार विकेट लिये. ओली स्टोन ने अश्विन को बोल्ड करके भारतीय पारी का अंत किया.

भारत ने सुबह एक विकेट पर 54 रन से आगे खेलना शुरू किया. उसने पहले सत्र में पांच विकेट गंवाने के साथ 102 रन भी बनाये. दूसरे और तीसरे सत्र में विशेषकर पुछल्ले बल्लेबाजों ने 65-65 रन जोड़े. इंग्लैंड के सामने एवरेस्ट फतह करने से भी बड़ी चुनौती है और तिस पर उसकी शुरुआत भी अच्छी नहीं रही. डोम सिब्ली (तीन) आठ ओवर तक ही संघर्ष कर पाये.

इशांत शर्मा के साथ गेंदबाजी का आगाज करने वाले अक्षर पटेल (15 रन देकर दो) ने उन्हें पगबाधा आउट किया. अश्विन (28 रन देकर एक) ने शतक जड़ने के बाद चौथे ओवर में गेंद संभाली और सलामी बल्लेबाज रोरी बर्न्स (25) के संघर्ष पर विराम लगाया. जैक लीच को नाइटवाचमैन के रूप में भेजना कारगर साबित नहीं हुआ.

पटेल ने उन्हें आते ही चलता कर दिया. स्टंप उखड़ने के समय डैन लॉरेन्स 19 और कप्तान जो रूट दो रन पर खेल रहे थे. अश्विन ने पटेल (सात) के आउट होने के बाद संभाली और सकारात्मक बल्लेबाजी की. इस बीच भाग्य ने भी उनका साथ दिया. पारी के 45वें ओवर में गेंदबाजी के लिये उतरे स्टुअर्ट ब्रॉड इसी ओवर में अश्विन का विकेट ले लेते लेकिन स्लिप में बेन स्टोक्स ने आसान कैच छोड़ दिया. अश्विन तब 28 रन पर थे.

इसके बाद 56 रन के निजी योग पर भी अश्विन को विकेटकीपर बेन फॉक्स ने जीवनदान दिया. कोहली ने टिककर बल्लेबाजी की लेकिन इस बीच कुछ दर्शनीय ड्राइव लगाये और अपना 25वां टेस्ट अर्धशतक पूरा किया. कोहली की शानदार पारी का अंत मोईन ने किया. उनकी पगबाधा की सफल अपील पर कोहली ने रिव्यू भी लिया लेकिन फैसला भारतीय कप्तान के खिलाफ ही गया.

कोहली ने 149 गेंदें खेली तथा सात चौके लगाये. मोईन ने कोहली को कुल पांचवीं और मैच में दूसरी बार आउट किया. लेकिन अश्विन न सिर्फ टिके रहे बल्कि रन भी बनाते रहे. जब इशांत शर्मा (सात) के रूप में भारत का नौवां विकेट गिरा तब अश्विन 77 रन पर खेल रहे थे शतक दूर की कौड़ी लग रहा था लेकिन सिराज ने उनका अच्छा साथ दिया.

अश्विन ने लंबे शॉट खेलने शुरू किये. वह मोईन पर ‘कॉउ कार्नर' पर छक्का जड़कर 99 रन पर पहुंचे और इसी ओवर में चौके से उन्होंने अपना सैकड़ा पूरा करके अपने करियर में तीसरी बार शतक और पारी में पांच विकेट का अनूठा कारनामा किया. इस मामले में उनसे आगे केवल इयान बॉथम (पांच बार) हैं.

अश्विन ने अपनी पारी में 148 गेंदें खेली तथा 14 चौके और एक छक्का लगाया. सिराज ने अश्विन के शतक का जमकर जश्न बनाया और इसके बाद खुलकर खेले. उन्होंने लीच पर दो छक्के भी लगाये. सुबह के सत्र की स्थिति देखकर हालांकि नहीं लग रहा था कि भारत इतना बड़ा लक्ष्य तय कर पाएगा.

चेतेश्वर पुजारा (सात) दिन के पहले ओवर में ही रन आउट हो गये. वह लीच की गेंद फ्लिक करने के लिये आगे आये लेकिन सही समय पर क्रीज पर नहीं पहुंच सके. रोहित शर्मा (26) को फॉक्स ने स्टंप आउट किया और फिर ऋषभ पंत (आठ) को भी आगे बढ़कर शॉट मारने की सजा देकर उन्हें पवेलियन चलता किया. अजिंक्य रहाणे (10) ने मोईन अली की गेंद पर शार्ट लेग पर कैच देने से पहले दो अच्छे शॉट लगाये. इंग्लैंड चार मैचों की शृंखला में अभी 1-0 से आगे है.

Posted By - Arbind kumar mishra

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें