1. home Home
  2. sports
  3. cricket
  4. ebadot hossain is fan of brett lee bangladeshi cricketer has a special relationship with volleyball aml

ब्रेट ली के जबरा फैन हैं न्यूजीलैंड पर बांग्लादेश की जीत के हीरो एबादोट हुसैन, वॉलीबॉल से है खास नाता

न्यूजीलैंड को उनकी ही धरती पर दूसरे टेस्ट मैच में 8 विकेट से हराकर बांग्लादेश ने इतिहास रच दिया है. इस मैच के हीरो रहे एबादोट हुसैन ने दूसरी पारी में 6 विकेट झटककर न्यूजीलैंड को बड़ा नुकसान पहुंचाया. हुसैन पहले वॉलीबॉल खेलते थे और ब्रेट ली बहुत बड़े फैन हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
जीत का जश्न मनाते बांग्लादेशी खिलाड़ी
जीत का जश्न मनाते बांग्लादेशी खिलाड़ी
Twitter

न्यूजीलैंड पर बांग्लादेश की ऐतिहासिक टेस्ट जीत के हीरो रहे एबादोट हुसैन ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ब्रेज ली के फैन हैं. माउंट माउंगानुई में पहले टेस्ट की दूसरी पारी में हुसैन ने 6/46 के साथ न्यूजीलैंड में बांग्लादेश की पहली जीत दर्ज करने में अहम भूमिका निभायी. भविष्य के लिए हुसैन का सोचना हैं कि टीम की तेज गेंदबाजी इकाई इतनी सक्षम हो जायेगी कि वह घर की पिचों पर 20 विकेट ले सके.

पिछले महीने बांग्लादेश को पाकिस्तान ने घरेलू सरजमीं पर बुरी तरह रौंदा था. जबकि न्यूजीलैंड दौरे पर तीन मैचों की सीरीज में बांग्लादेश ने 1-0 की बढ़त बना ली है. पहला टेस्ट मैच ड्रा रहा. दूसरे टेस्ट मैच में बांग्लादेश ने न्यूजीलैंड को 8 विकेट से हरा दिया. 21 वर्षीय एबादोट हुसैन के लिए किसी भी प्रारूप में पहली बार कीवी टीम को अपनी खोह में समेटने जैसा था. एबाडोट ने गत विश्व टेस्ट चैंपियन के खिलाफ सर्वश्रेष्ठ आंकड़े के साथ वापसी की.

एबादोट ने द इंडियन एक्सप्रेस को बताया कि बांग्लादेश का प्रदर्शन पाकिस्तान के खिलाफ जितना खराब था, यह श्रृंखला उनके तेज गेंदबाजों के लिए सीखने का मौका था. पिच सपाट थी. हमें विकेट-टू-विकेट गेंदबाजी करनी थी. हमने पुरानी गेंद को बेहतर तरीके से इस्तेमाल करने की कला सीखी. हमने उस अनुभव का इस्तेमाल यहां न्यूजीलैंड के खिलाफ किया, क्योंकि यहां की पिच भी तेज गेंदबाजी के लिए अनुकूल नहीं थी.

उन्होंने कहा कि पांचवें दिन, जब न्यूजीलैंड ने अपने आखिरी पांच विकेट 15 रन पर गंवाए, बांग्लादेश ने दबाव का फायदा उठाया. हमारे कप्तान मोमिनुल हक ने दोनों छोर से पहले ओवर की मांग की. एक बार जब हमने चीजों को शांत रखा, तो दबाव बन गया. गेंद थोड़ी नीची भी रख रही थी. मैंने रिवर्स स्विंग का अच्छी तरह से इस्तेमाल किया. अपने 11वें टेस्ट में, 2016 में 27 वर्षीय खिलाड़ी के लिए यात्रा शुरू हुई.

वॉलीबॉल से की थी खेल की शुरुआत

एबादोट, वास्तव में बांग्लादेश वायु सेना के लिए वॉलीबॉल खेला करते थ. जब बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड और रॉबी (एक दूरसंचार कंपनी) द्वारा एक तेज गेंदबाजी प्रतिभा खोज का आयोजन किया गया. यह अलग-अलग जगहों पर आयोजित किया गया था. एबादोट ने बताया कि मैं फरीदपुर ट्रायल में पहुंचा और करीब 140 किलोमीटर की रफ्तार के साथ चयनित हुआ.

ब्रेट ली बड़े फैन हैं एबादोट हुसैन

एबादोट ने बताया कि ब्रेट ली का कट्टर प्रशंसक होने के नाते, मैं उनके एक्शन का अनुकरण करता था. पहले स्पेल के लिए यह ठीक था, लेकिन जब पैर थक जाते थे और गेंद पुरानी हो जाती थी, तो मैं अपनी गेंदबाजी में लय और निरंतरता खो देता था. कारण विशुद्ध रूप से अनुवांशिक है. आनुवंशिक रूप से मजबूत होने के लिए ब्रेट ली पूरे दिन क्या कर सकते थे, मैं नहीं कर सकता था. कोच ओटिस गिब्सन ने कम प्रयास और अधिक गति पर ध्यान केंद्रित करते हुए मेरे एक्शन को बदल दिया.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें