1. home Home
  2. sports
  3. cricket
  4. discus thrower kamalpreet kaur fan of ms dhoni and virender sehwag cricket as second love tokyo olympics ki khabar avd

Tokyo Olympics : सहवाग और धौनी की फैन हैं कमलप्रीत कौर, क्रिकेट को बताया अपना दूसरा प्यार

टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics ) में 8वें दिन डिस्कस थ्रोअर कमलप्रीत कौर (Discus thrower Kamalpreet Kaur) ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए फाइनल में पहुंच गयीं हैं और भारत के लिए एक मेडल पक्का कर लिया है. कौर ने डिस्कस थ्रो में 64 मीटर के अपने बेस्ट प्रयास के साथ फाइनल राउंड के लिए क्वालीफाई किया.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
धौनी, सहवाग की फैन हैं कमलप्रीत कौर
धौनी, सहवाग की फैन हैं कमलप्रीत कौर
pti photo

टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics day 8) में 8वें दिन डिस्कस थ्रोअर कमलप्रीत कौर (Discus thrower Kamalpreet Kaur) ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए फाइनल में पहुंच गयीं हैं और भारत के लिए एक मेडल पक्का कर लिया है. 25 साल की कौर ने डिस्कस थ्रो में 64 मीटर के अपने बेस्ट प्रयास के साथ शनिवार को फाइनल राउंड के लिए क्वालीफाई किया.

ओलंपिक में भारत के लिए दूसरा पदक पक्का करने वाली कमलप्रीत टीम इंडिया के पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग और कैप्टन कूल महेंद्र सिंह धौनी की जबरदस्त फैन हैं. यही नहीं डिस्कस थ्रो के बाद उनका दूसरा प्यार क्रिकेट है और वो किसी दिन क्रिकेट टूर्नामेंट खेलना चाहती हैं. हालांकि इसके लिए उन्होंने एक शर्त भी रख दी है कि यह उनके पहले प्यार डिस्कस थ्रो के रास्ते में नहीं आये.

धौनी और सहवाग की तरह धुंआधार बल्लेबाजी करना पंसद है कमलप्रीत को

टोक्यो ओलंपिक में शानदार प्रदर्शन के दम पर फाइनल में पहुंचने वाली कमलप्रीत ने बताया कि वो सहवाग या धौनी की तरह बल्लेबाजी करना पसंद है. कौर ने कहा, लॉकडाउन के दौरान उन्होंने पिछले साल क्रिकेट में अपना हाथ आजमाना शुरू कर दिया था. उन्होंने कहा, मैं किसी दिन हालांकि कुछ क्रिकेट टूर्नामेंटों में खेलना चाहती हूं. क्रिकेट मेरा दूसरा जुनून है. मैं एथलेटिक्स जारी रखते हुए क्रिकेट भी खेल सकती हूं. मैंने अपने गांव और आसपास की जगहों पर क्रिकेट खेला है. मुझे लगता है कि मुझमें क्रिकेट खेलने की नैसर्गिक प्रतिभा है. उन्होंने बताया कि वो वीरेंद्र सहवाग और पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी की प्रशंसक हैं.

कमलप्रीत ने सहवाग की पारियों को किया याद

कमलप्रीत ने सहवाग की बेहतरीन पारियों को याद किया और कहा, मैं सहवाग की वेस्टइंडीज के खिलाफ खेली गयी दोहरी शतकीय पारी (2011 में इंदौर में 219 रन) और बांग्लादेश के खिलाफ एकदिवसीय विश्व कप (2011 में 140 गेंद में 175 रन) में खेली गयी पारियों को कभी नहीं भूल सकती हूं. उन्होंने बताया सहवाग और धौनी के अलावा उन्हें सचिन तेंदुलकर व रोहित शर्मा की बल्लेबाजी भी पसंद है.

ओलंपिक के बाद जीतना चाहती हैं विश्व चैंपियनशिप में गोल्ड

टोक्यो ओलंपिक के फाइनल में जगह बनाने के बाद कमलप्रीत कौर ने कहा, सोमवार को अपने फाइनल मुकाबले में गोल्ड जीतकर भारतीय एथलेटिक्स संघ (एएफआई) और भारतीय खेल प्राधिकरण (साइ) का कर्ज चुकाना चाहती हीं. इसके बाद उनका अगला लक्ष्य है विश्व चैंपियनशिप 2022 और एशियाई खेल. जिसमें वो गोल्ड जीतना चाहती हैं.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें