1. home Hindi News
  2. sports
  3. cricket
  4. australia vs india 2nd test ajinkya rahane wants to blow kangaroos second match strategy for melbourne ground rjh

Australia vs India, 2nd Test : आस्ट्रेलिया को धूल चटाना है, तो भारत को अपनानी होगी ये रणनीति

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Australia vs India 2nd Test
Australia vs India 2nd Test
Twitter

मेलबॉर्न में कल यानी 26 दिसंबर को आस्ट्रेलिया और भारत के बीच खेला जाने वाला दूसरा टेस्ट मैच भारतीय क्रिकेट के लिहाज से बहुत ही महत्वपूर्ण है. यही कारण है कि कल के मैच में पर ना सिर्फ क्रिकेट विशेषज्ञों बल्कि क्रिकेटप्रेमियों की भी नजर टिकी है.दरअसल पहले टेस्ट मैच में एडीलेड ग्राउंड पर भारतीय पारी मात्र 36 रन पर सिमट गयी थी और उसके बाद उसे आठ विकेट से हार का सामना करना पड़ा था. इस हार के दबाव से मुक्त होने के लिए कल का मैच भारत के बहुत महत्वपूर्ण है. तो आइए जानते हैं कि कल के मैच में पूरी टीम के साथ-साथ कप्तान रहाणे के सामने क्या हैं चुनौतियां:-

विराट कोहली की अनुपस्थिति

विराट कोहली की अनुपस्थिति के कारण भारत के पास ना सिर्फ एक सफल और आक्रामक कप्तान की कमी है, बल्कि उसके पास एक अंतरराष्ट्रीय स्तर का बल्लेबाज भी नहीं है, जो उसे किसी भी परिस्थिति से निकालने की क्षमता रखता था. अब रहाणे के सामने यह चुनौती है कि वे विराट के विकल्प के रूप में किसे मैदान में उतारते हैं.

रहाणे को दबाव में भी करना होगा अच्छा प्रदर्शन

अजिंक्य रहाणे अभी तीन मैचों के लिए टीम के कप्तान हैं. उनके सामने यह बड़ी चुनौती है कि वे टीम का मनोबल वापस लायें और पूरी सकारात्मकता के साथ टीम को संघर्ष करने और जीतने के लिए तैयार करें. साथ ही अपना प्रदर्शन भी उन्हें बेहतर करना होगा, तभी भारतीय टीम कंगारूओं के सामने टिक पायेगी.

ओनपर्स की भूमिका होगी खास

आज बीसीसीआई ने कल के मैच के लिए प्लेइंग 11 की घोषणा कर दी है. उसके अनुसार पृथ्वी शॉ को ड्रॉप करके शुभमन गिल को टीम में जगह दी गयी है. गिल, मयंक अग्रवाल के साथ पारी की शुरुआत करेंगे. इनके सामने चुनौती यह है कि वे टीम को एक अच्छी शुरुआत दें. ओपनिंग पारी में अच्छी शुरुआत बहुत जरूरी है.

मध्यक्रम को संभालना पुजारा और पंत की जिम्मेदारी

चेतेश्वर पुजारा काफी सीनियर और अनुभवी खिलाड़ी हैं. लेकिन काफी समय से उनका बल्ला चल नहीं रहा है. ऐसे में यह जरूरी है कि वे टीम के मध्यक्रम को संभालें और पारी को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचायें.

फील्डिंग को टाइट करना होगा

पहले टेस्ट मैच में भारतीय फील्डर्स ने काफी कैच टपकाये जिसका खामियाजा टीम को भुगतना पड़ा. ऐसे में यह जरूरी है कि टीम के फील्डर चुस्त और मुस्तैद हों ताकि उन्हें छकाने में बॉल सफल ना हो.

तेज गेंदबाजों के लिए मौका

मेलबॉर्न ग्राउंड में फास्ट बॉलर्स को फायदा मिलने की पूरी उम्मीद है. ऐसे में यह जरूरी है कि शमी की अनुपस्थिति में बुमराह, यादव और डेब्यू कर रहे मोहम्मद सिराज आस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों पर लगाम कस दें.

Posted By : Rajneesh Anand

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें