1. home Hindi News
  2. sports
  3. cricket
  4. a ball bowled to yuvraj singh changed my life dwayne bravo recalls 16 year old match aml

युवराज सिंह को फेंकी गयी एक गेंद ने मेरी जिंदगी बदल दी, ड्वेन ब्रावो ने याद किया 16 साल पुराना मुकाबला

ड्वेन ब्रावो ने 16 साल पहले के एक मुकाबले को याद करते हुए कहा कि उस गेंद ने मेरी जिंदगी बदल दी. उन्होंने एक शानदार गेंद पर युवराज सिंह को आउट किया था. वेस्टइंडीज, भारत के खिलाफ वह मुकाबला मात्र एक रन से जीत गया था. जब भारत को आखिरी तीन गेंद में जीत के लिए दो रनों की जरूरत थी.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Dwayne Bravo
Dwayne Bravo
twitter

2006 में भारत वेस्टइंडीज के दौरे पर था जहां टीम ने पांच एकदिवसीय और चार टेस्ट खेले. राहुल द्रविड़ की अगुवाई वाली टीम को वनडे सीरीज में 1-4 से हार का सामना करना पड़ा था. लेकिन टेस्ट सीरीज में भारत ने विंडीज को 1-0 से हराया. टीम ने दौरे की अच्छी शुरुआत की थी और जमैका में पहला वनडे पांच विकेट से जीत लिया था. हालांकि, उसी स्थान पर दूसरा मैच अब भी प्रशंसकों को याद होगा, जिसमें भारत को एक रन से हार का सामना करना पड़ा था.

आखिरी ओवर का रोमांच

ड्वेन ब्रावो द्वारा बोल्ड किये गये युवराज सिंह की छवि भारतीय क्रिकेट प्रशंसकों के दिमाग में ताजा है. 16 साल बाद, वेस्टइंडीज के हरफनमौला खिलाड़ी ने उस पल को याद किया. उन्होंने कहा कि युवराज को फेंकी गयी उस गेंद ने उनका जीवन बदल दिया. ब्रावो ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया कि इसको दुनिया ने देखा और नोटिस किया कि मेरे पास अच्छी बदलाव वाली गेंदों में से एक है और इसने मेरा टी-20 करियर बनाया.

एक रन से मैच जीता था वेस्टइंडीज

उस डिलीवरी से पहले, युवराज ने ब्रावो को लगातार दो चौके मारे थे. इसने पांच गेंदों में आवश्यक 10 रनों की जरूरत को घटाकर 3 गेंद में 2 रन पर ला दिया. अंतिम ओवर की चौथी गेंद ब्रावो ने धीमी फेंकी और युवराज समायोजित करने में विफल रहे. गति में बदलाव के साथ जैसे ही उन्होंने गेंद को स्क्वायर की ओर फ्लिक करने का प्रयास किया. गेंद लेग स्टंप से लगी और विंडीज ने एक रन से जीत हासिल की.

ब्रावो ने किया खुलासा 

ब्रावो ने खुलासा किया कि वेस्टइंडीज के तत्कालीन कप्तान ब्रायन लारा ने विकेट लेने वाली गेंद से पहले उनके साथ फील्ड प्लेसमेंट पर चर्चा की थी. उन्होंने कहा कि मैंने अभी भी वास्तव में नहीं सोचा था कि कौन सी गेंद फेंकी जाए. मैं अभी भी स्पष्ट नहीं हूं कि मैं अपने रन-अप के शीर्ष पर कब जाता हूं. अंपायर के पास पहुंचने से पहले, मैं तय करता हूं कि मैं बल्लेबाज को कौन सा गेंद फेंकूंगा.

काफी निराश देखे युवराज सिंह

जब उनसे अपनी पसंदीदा डिलीवरी का नाम पूछा गया, तो ब्रावो ने युवराज को फेंके गये गेंद को याद किया. उन्होंने कहा कि युवराज की उस गेंद ने मेरी जिंदगी बदल दी. इस एक रन से हार के बाद युवराज सिंह भी काफी निराश दिखे. उन्होंने खेल को लगभग भारत के पाले में डाल दिया था, लेकिन एक ही गेंद में सब बदल गया.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें