#INDvsNZ: 52 सालों से है टीम इंडिया को वेलिंगटन में जीत का इंतजार

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

वेलिंग्टन : भारतीय टीम न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में मिली हारकर को भूलकर टेस्ट चैंपियनशिप में अपनी स्थिति मजबूत करने के इरादे से उतरेगी, लेकिन टेस्ट सीरीज में बेहतर परफॉर्म करना चुनौती भरा रहने वाला है.

क्योंकि न्यूजीलैंड की तेज पिचों पर बल्ले और बॉल के साथ-साथ हवा की हरकत भी खेल पर अपना प्रभाव छोड़ती है और सीम-स्विंग बोलिंग विराट की टीम के लिए हमेशा से ही चुनौती रहा है. भारत के लिए टेस्ट सीरीज न्यूजीलैंड में हमेशा से ही चुनौती भरा रहा है. बता दें न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीजआज से शुरू हो गया है.. ऐसे में कोहली, रहाणे और पुजारा के अलावा टीम के बाकी बल्लेबाजों को भी हर हाल में अपने साहस का परिचय देना होगा.

तेज गेंदबाजों को करना होगा बेहतर प्रदर्शन

वनडे सीरीज में भारत के तेज गेंदबाजों का प्रदर्शन खराब रहा था और हमारे तेज गेंदबाज कीवी टीम के सामने बेअसर साबित हुए थे. यहां तक कि टीम इंडिया के यॉर्कर स्पेशलिस्ट जसप्रीत बुमराह भी कीवी टीम के सामने बेअसर साबित हुए थे और बिना विकेट लिए 3 मैचों की सीरीज में 167 रन लुटा दिए थे, जिस वजह से उन्हें आलोचना का सामना करना पड़ा था.

कैसा रहा है वेलिंगटन में भारत का इतिहास

वेलिंगटन में भारत का रिकॉर्ड अच्छा नहीं रहा है इस बात का अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि पिछले 52 वर्षों से भारत ने वेलिंगटन में टेस्ट मैच जीत नहीं पायी है. इस स्थान पर उनकी अंतिम और एकमात्र टेस्ट जीत 1968 में हुई थी जिसमें महान मंसूर अली खान पटौदी और बापू नाडकर्णी और इरापल्ली प्रसन्ना स्पिन जोड़ी ने धमाल मचाया था.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें