1. home Home
  2. religion
  3. surya grahan 2021 mantra for bad effects last solar eclipse of this year mantra jap and its benefits sry

Surya Grahan 2021: लगने वाला है साल का आखिरी सूर्यग्रहण, इससे बचने के लिए करें इन मंत्रों का जाप

साल का आखिरी सूर्य ग्रहण 4 दिसंबर (शनिवार) सुबह 10 बजकर 59 मिनट पर शुरू होगा और दोपहर 03 बजकर 07 मिनट पर समाप्त होगा. इसके बुरे प्रभावों से बचने के लिए सूर्य ग्रहण के दौरान विशेष मंत्रों (Surya Grahan Mantra) का जाप करें.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Surya Grahan 2021: ग्रहण के दौरान करें इन मंत्रों का जाप
Surya Grahan 2021: ग्रहण के दौरान करें इन मंत्रों का जाप
Prabhat Khabar Graphics

साल का आखिरी सूर्यग्रहण (Surya Grahan 2021) दिसंबर महिने के पहले शनिवार को लगने जा रहा है. खगोलीय वैज्ञानिक इसे कई तरह से खास बता रहे हैं. जबकि हिंदू धार्मिक मान्‍यताओं के अनुसार, इस सयम राहु और केतु की बुरी छाया धरती पर पड़ती है जिसका इंसानों और जानवरों पर बुरा असर पड़ता है.

सूर्य ग्रहण का समय

साल का आखिरी सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse 2021) 4 दिसंबर (शनिवार) सुबह 10 बजकर 59 मिनट पर शुरू होगा और दोपहर 03 बजकर 07 मिनट पर समाप्त होगा.

कहां कहां दिखेगा

यह साल 2021 का अंतिम सूर्य ग्रहण है. इस सूर्य ग्रहण को दक्षिण अमेरिका, अंटार्कटिका, ऑस्ट्रेलिया,अटलांटिक के दक्षिणी भाग और दक्षिण अफ्रीका में देखा जा सकेगा. इसे शाम को लगभग 5:52 बजे अरुणाचल प्रदेश में दिबांग वन्यजीव अभयारण्य के पास से देखा जा सकेगा. जबकि लद्दाख के उत्तरी हिस्से में ये शाम लगभग 6 बजे दिखाई देगा. इसके बुरे प्रभावों से बचने के लिए सूर्य ग्रहण के दौरान विशेष मंत्रों (Surya Grahan Mantra) का जाप करें.

ग्रहण के दौरान करें इन मंत्रों का जाप (Surya Grahan Mantra To Remove Bad Effects)

1. नकारात्‍मक शक्तियों का नाश करने के लिए

ॐ ह्लीं बगलामुखी सर्वदुष्टानां वाचं मुखं पदं स्तंभ

जिह्ववां कीलय बुद्धि विनाशय ह्लीं ओम् स्वाहा।।

2. धन लाभ के लिए

ॐ श्रीं ह्रीं श्रीं कमले कमलालये

प्रसीद-प्रसीद श्रीं ह्रीं श्रीं महालक्ष्म्यै नम:।

3. बुरी शक्तियों का नाश

विधुन्तुद नमस्तुभ्यं सिंहिकानन्दनाच्युत

दानेनानेन नागस्य रक्ष मां वेधजाद्भयात्॥

4.शांति कायम करने के लिए

तमोमय महाभीम सोमसूर्यविमर्दन।

हेमताराप्रदानेन मम शान्तिप्रदो भव॥

5. सिद्धि प्राप्‍त करने के‍ लिए

ॐ मां भयात् सर्वतो रक्ष, श्रियं वर्धय सर्वदा। शरीरारोग्यं मे देहि, देव-देव नमोऽस्तु ते

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें