1. home Hindi News
  2. religion
  3. shubh muhurat 2022 in the year 2022 from january to april these are the auspicious times tvi

Shubh Muhurat 2022: शादी समेत सभी शुभ कार्यों के लिए जनवरी से अप्रैल तक ये हैं शुभ मुहूर्त

शादी-विवाह, मुंडन जैसे विभिन्न शुभ कार्यों के लिए नए साल में 22 जनवरी 2022 से शुभ मुहूर्त शुरू हो जाएंगे. जनवरी 2022 से लेकर अप्रैल 2022 तक कई शुभ मुहूर्त हैं. जानें

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
shubh muhurat 2022
shubh muhurat 2022
prabhat khabar graphics

हिंदू धर्म में शादी-विवाह हो या अन्य कोई भी शुभ कार्य बिना शुभ मुहूर्त के काम शुरू नहीं किया जाता. साल 2022 में जनवरी से अप्रैल 2022 तक के शादी समेत अन्य शुभ कार्यों के लिए कई शुभ मुहूर्त हैं. शादी के लिए तारीख तय करनी हो या गृह प्रवेश करना हो या फिर अन्य कोई शुभ कार्य संपन्न करने हों यहां वर्ष 2022 अप्रैल तक के लिए शुभ तारीखों की पूरी लिस्ट देख सकते हैं.

जनवरी 2022 में विवाह के लिए 4 शुभ मुहूर्त हैं

साल 2022 में जनवरी से अप्रैल तक शुभ मुहूर्त

जनवरी 2022 में शुभ मुहूर्त

जनवरी 2022 की 22, 23, 24 और 25 तारीख को शादी समेत अन्य कार्यों के लिए शुभ मुहूर्त रहेंगे.

फरवरी 2022 में शुभ मुहूर्त

फरवरी 2022 की 5,6,7,9,10,11,12,18,19,20 और 22 तारीख को विवाह अन्य कार्यों के लिए शुभ हैं.

मार्च 2022 में विवाह के शुभ मुहूर्त

मार्च 2022 में विवाह के सिर्फ 2 शुभ मुहूर्त हैं. इस महीने की 4 और 9 तारीख को शादी और अन्य कार्यों के शुभ मुहूर्त हैं.

अप्रैल 2022 में विवाह के शुभ मुहूर्त

अप्रैल 2022 की 14, 15, 16, 17,19, 20, 21, 22, 23, 24 और 27 तारीख को विवाह समेत अन्य कार्यों के शुभ मुहूर्त हैं.

16 दिसंबर 2021 से 14 जनवरी 2022 तक रहेगा खरमास

16 दिसंबर 2021 से 14 जनवरी 2022 तक खरमास के कारण शादियों पर ब्रेक लगा रहेगा. सनातन धर्म और ज्‍योतिष में खरमास के दौरान शादी समेत सभी शुभ कार्यों को वर्जित बताया गया है. 2022 में खरमास खत्‍म होते ही एक बार फिर से शादियां शुरू हो जाएंगी.

हर साल मार्गशीर्ष और पौष माह के बीच में लगता है खरमास

ज्योतिषियों के अनुसार हर साल मार्गशीर्ष माह (Margashirsha Month) और पौष माह 2021 (Poush Month) के बीच में खरमस लगता है. इस दौरान सूर्य धनु राशि में प्रवेश करते हैं, तो खरमास की शुरुआत होती है. हिंदू पंचांग के अनुसार, जब खरमास या मलमास लगता है तो उस दौरान कोई भी शुभ कार्य करना वर्जित माना जाता है. धार्मिक मान्यता के अनुसार, खरमास के दौरान सूर्य की चाल धीमी होती है इसलिए इस दौरान किया गया कोई भी कार्य शुभ फल प्रदान नहीं करता है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें