1. home Hindi News
  2. religion
  3. makar sankranti 2021 date auspicious time shubh muhurat tithi puja vidhi samagri list ma lakshmi puja importance to get happiness prosperity worship with 14 kauri on 14th january smt

Makar Sankranti 2021: मकर संक्रांति शुरू, शुभ मुहूर्त में एक दीपक और 14 कौड़ियों से ऐसे करें मां लक्ष्मी की पूजा, घर में धन और सुख-समृद्धि का होगा वास

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Makar Sankranti 2021, Date & Time, Ma Laxmi Puja Vidhi, Samagri List, Shubh Muhurat
Makar Sankranti 2021, Date & Time, Ma Laxmi Puja Vidhi, Samagri List, Shubh Muhurat
Prabhat Khabar Graphics

Makar Sankranti 2021, Date & Time, Ma Laxmi Puja Vidhi, Samagri List, Shubh Muhurat: हर वर्ष की तरह आज, 14 जनवरी 2021 को मकर संक्रांति का पर्व मनाया जा रहा है. सूर्य को नवग्रहों का राजा माना गया है. इनके गोचर को ही संक्रांति कहते हैं. हालांकि, संक्रांति प्रतिमाह आती है. लेकिन, धनु से मकर राशि में जब सूर्य का गोचर होता है तो इसे मकर सक्रांति के रूप में जाना जाता है. इस बार शुभ मुहूर्त सुबह 8 बजकर 05 मिनट पर शुरू हो रहा है जो रात्रि 10:46 तक रहेगा. इस दिन से कई मांगलिक कार्य शुरू हो जाते हैं. गांवों में इसे लेकर विशेष मान्यताएं है. कहा जाता है कि एक दीपक और 14 कौड़ियों के साथ इस दिन पूजा करने से घर में धन, सुख-समृद्धि आदि का वास होता है. आइए जानते हैं क्या है यह मान्यताएं...

दरअसल, दिसंबर माह में सूर्य जब धनु व मीन राशि में गोचर करते हैं तो खरमास या मलमास का प्रारंभ हो जाता है. वहीं, जब सूर्य का धनु से मकर राशि में ग्रह परिवर्तन होता है तो उसे मकर संक्रांति कहा जाता है. हिंदू धर्म में मकर संक्रांति को बेहद शुभ माना गया है. इस दिन के बाद से कई मांगलिक कार्य शुरू हो जाते हैं. आज भी ग्रामीण स्थानों पर इस दिन विशेष परंपरा के साथ पूजा-पाठ किया जाता है. स्नान दान के अलावा 14 कौड़ियों और एक दीपक जलाकर भगवान की पूजा की जाती है. कहा जाता है कि इससे मां लक्ष्मी की कृपा बरसती है. घर में सुख-समृद्धि का वास होता है. सूर्यदेव यश, राजयोग देते है.

कैसे करें एक दीपक और 14 कौड़ियों से पूजा

  • घर में धन और सुख समृद्धि के लिए सबसे पहले आपको मकर संक्रांति की सुबह 8:00 बजे शुभ मुहूर्त पर 14 साफ कौड़िया लेनी होंगी.

  • इन्हें अच्छे से दूध के साथ मिश्रण करके धो लेना होगा.

  • फिर पूजा के पात्र में से गंगा जल से स्नान करवाकर रखना होगा

  • इसके बाद महालक्ष्मी की फोटो के समक्ष शुद्ध घी और तिल का दीपक जलाना होगा.

  • आपको बता दें कि तिल के तेल का दीपक मां लक्ष्मी के बाईं ओर रखें और घी दीपक दाईं ओर.

  • कौड़ियों को छूकर ॐ संक्रात्याय नम: का 14 बार जाप करें.

  • साथ ही साथ संक्रांति की पूजा भी कर लें. इस दौरान आप भोग में तिलकुट, चूड़ा दही भी चढ़ा सकते हैं.

  • ठीक 12 बजे इन कौड़ियों को उठा लें और अलग-अलग आपके बरकत वाले स्थान पर रख दें. जैसे अलमारी, पूजालय, रसोई घर, भंडार घर आदि

  • अब दिए का स्थान आपस में बदल दें. जो पहले बाईं ओर था उसे दाएं तरफ कर दें और जो दाईं ओर था उसे बाईं ओर कर दें. याद रहे दीपक बुझना नहीं चाहिए.

  • अब तिल के तेल का दीपक घर के बाहर चौखट पर रख दें जबकि घी का दीपक तुलसी के चबूतरे पर रख दें.

  • ऐसी मान्यता है कि मकर सक्रांति के दिन ऐसा करने से घर में धन, लक्ष्मी व सुख-समृद्धि का वास होता है.

Posted By: Sumit Kumar Verma

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें