1. home Hindi News
  2. religion
  3. jagannath rath yatra 2021 date kab hai 12 july when why puja celebrated know importance significance beliefs about vishnu avtar smt

Jagannath Rath Yatra 2021 Date: इस साल कब निकलेगी जगन्नाथ रथ यात्रा, जानें इस यात्रा के दर्शन मात्र के लाभ, पर्व के महत्व व मान्यताएं

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jagannath Rath Yatra 2021 Date, Importance, Significance
Jagannath Rath Yatra 2021 Date, Importance, Significance
Prabhat Khabar Graphics

Jagannath Rath Yatra 2021 Date, Importance, Significance: हिंदू पंचांग के मुताबिक आषाढ़ माह के शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि को जगन्नाथ रथ यात्रा निकाली जाती है. झारखंड, ओडिसा समेत देश के अन्य हिस्सों में इनकी पूजा की जाती है. आपको बता दें कि भगवान जगन्नाथ को विष्णु का अवतार माना गया है. लेकिन, इस बार भी कोरोना वायरस के कारण भक्त इस यात्रा में सम्मिलित नहीं हो पाएंगे.

दरअसल, इस दिन भगवान जगन्नाथ की यात्रा उनके भाई बलभद्र व बहन देवी सुभद्रा के साथ निकाली जाती है. करीब 10 दिन तक इनकी पूजा होती है. इस दौरान नेत्रदान से लेकर रथयात्रा तक कई पारंपरिक आयोजन किए जाते हैं.

कैसा होता है रथ यात्रा

आपको बता दें कि इस यात्रा का नेतृत्व बलभद्र करते हैं. अर्थात बलभद्र का रथ सबसे आगे होता है जिसे तालध्वज भी कहा जाता है. वहीं, बीच में बहन सुभद्रा का रथ होता है जिसे पद्म रख या दर्पदलन कहा जाता है और अंतिम में भगवान जगन्नाथ का रथ होता है जिसे नंदीघोष भी कहा जाता है.

कब है रथयात्रा?

इस बार 12 जुलाई को रथ यात्रा पर्व शुरू हो रही है जो 20 जुलाई यानी देवशयनी एकादशी के दिन तक मनाया जाएगा.

क्या है जगन्नाथ पर्व का महत्व

  • ऐसी मान्यता है कि इस यात्रा को देखने मात्र से भी आपके पापों का नाश होता है.

  • साथ ही साथ रथ यात्रा में सम्मिलित होने से मोक्ष की प्राप्ति होती है.

  • तरक्की के कई मार्ग खुलते हैं.

  • जगन्नाथ मंदिर को भारत के चार धामों में से एक माना गया है. झारखंड के रांची, ओडिशा के पूरी सहित देश के अन्य स्थानों में इनकी विशाल मंदिर है.

  • मान्यता यह भी है कि भगवान जगन्नाथ के भाई बलभद्र, बहन देवी सुभद्रा के मंदिर में दर्शन से सभी इच्छाएं पूर्ण होती हैं.

Posted By: Sumit Kumar Verma

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें