26.1 C
Ranchi
Thursday, February 29, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

कभी मनोरंजन के लिए निशानेबाजी किया करती थी पलक, आज एशियन गेम्स में जीता गोल्ड मेडल

पलक गूलिया कभी पढ़ाई की थकान को दूर करने और मनोरंजन के लिए निशानेबाजी किया करती थी लेकिन यह जल्द ही उनका शगल बन गया और फिर उन्होंने एशियन गेम्स में भारत के लिए गोल्ड मेडल जीतकर देश का नाम रौशन किया.

Undefined
कभी मनोरंजन के लिए निशानेबाजी किया करती थी पलक, आज एशियन गेम्स में जीता गोल्ड मेडल 9

हरियाणा के झज्जर जिले की रहने वाली 17 वर्षीय पलक गूलिया ने कोविड-19 महामारी के बाद ही निशानेबाजी को गंभीरता से लेना शुरू किया. इससे पहले वह केवल मनोरंजन और पढ़ाई की थकान मिटाने के लिए निशानेबाजी किया करती थीं.

Undefined
कभी मनोरंजन के लिए निशानेबाजी किया करती थी पलक, आज एशियन गेम्स में जीता गोल्ड मेडल 10

शुक्रवार को व्यक्तिगत वर्ग में स्वर्ण पदक जीतने के बाद पलक ने कहा कि मैं तब गुड़गांव के सेंट जेवियर स्कूल में पढ़ रही थी जब मुझे निशानेबाजी खेल के बारे में पता चला. इसके बाद में सुबह के सत्र में अभ्यास करने लगी. अगले डेढ़ साल तक जब भी मुझे समय मिलता था मैं निशानेबाजी कर लेती थी.

Undefined
कभी मनोरंजन के लिए निशानेबाजी किया करती थी पलक, आज एशियन गेम्स में जीता गोल्ड मेडल 11

पलक ने कहा कि मैं 2019 तक मनोरंजन के लिए ही निशानेबाजी करती थी. मैंने कोविड-19 महामारी बाद ही निशानेबाजी को गंभीरता से लेना शुरू किया. पलक के पिता जोगिंदर गूलिया व्यवसायी हैं और उन्होंने अपनी बेटी को यह खेल अपनाने दिया लेकिन केवल पढ़ाई से विश्राम के लिए.

Undefined
कभी मनोरंजन के लिए निशानेबाजी किया करती थी पलक, आज एशियन गेम्स में जीता गोल्ड मेडल 12

पलक ने कहा कि हमारे परिवार में कभी किसी ने भी निशानेबाजी नहीं की थी. मैं पहली हूं जिसने निशानेबाजी को अपनाया. मैं पढ़ाई पर अधिक ध्यान देती थी. निशानेबाजी को अपनाने से पहले मैं एथलेटिक्स और तैराकी जैसे खेल भी खेलती थी. निशानेबाजी शुरू करने के बाद भी मैं अन्य खेलों से जुड़ी रही.

Undefined
कभी मनोरंजन के लिए निशानेबाजी किया करती थी पलक, आज एशियन गेम्स में जीता गोल्ड मेडल 13

उन्होंने कहा कि मैं खाली समय में ही निशानेबाजी किया करती थी. मैं पढ़ाई से विश्राम के समय निशानेबाजी करती थी. मेरे पिताजी ने कहा कि अगर मैं विश्राम के दौरान कुछ अच्छा करती हूं तो इससे मुझे मदद मिलेगी.

Undefined
कभी मनोरंजन के लिए निशानेबाजी किया करती थी पलक, आज एशियन गेम्स में जीता गोल्ड मेडल 14

पलक ने कहा कि इस तरह से निशानेबाजी खेल से हमारा परिचय हुआ. हमारे स्कूल में शूटिंग रेंज है और मैंने सुबह के सत्र में प्रशिक्षण लेना शुरू कर दिया.

Undefined
कभी मनोरंजन के लिए निशानेबाजी किया करती थी पलक, आज एशियन गेम्स में जीता गोल्ड मेडल 15

पलक ने जब इस खेल को गंभीरता से लेना शुरू किया तो फिर वह नियमित तौर पर अभ्यास करने लगी और उन्होंने खेल की जरूरत के अनुसार अपनी दिनचर्या भी बदल दी. उनका अगला लक्ष्य अक्टूबर में होने वाली एशियाई चैंपियनशिप और उसके बाद पेरिस ओलंपिक में अच्छा प्रदर्शन करना है.

Undefined
कभी मनोरंजन के लिए निशानेबाजी किया करती थी पलक, आज एशियन गेम्स में जीता गोल्ड मेडल 16

उन्होंने कहा कि हमने ओलंपिक के लिए पिछले दो तीन महीने से तैयारी शुरू कर दी है. भारत की निशानेबाजी टीम ने इस बार एशियन गेम्स में कमाल का प्रदर्शन किया है और शुक्रवार तक 18 मेडल जीत लिए हैं. इनमें छह गोल्ड मेडल हैं.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें