Advertisement

saran

  • Nov 14 2017 5:42AM
Advertisement

नगर पंचायत दिघवारा को मिलेगी निर्बाध बिजली

 कवायद. दिघवारा विद्युत सबस्टेशन में बनेंगे तीन फीडर,पुराने पोल व तार बदले जायेंगे 

दिघवारा : नगर पंचायत के 18 वार्डों में रहने वाले लगभग पांच हजार विद्युत उपभोक्ताओं के लिए एक अच्छी खबर है. आने वाले कुछ महीनों में आपके अच्छे दिन आयेंगे और हर दिन बिजली की कमी से होने वाली आपकी परेशानी दूर हो जायेगी. नगर के सभी वार्डों में आईपीडीएस(इंटीग्रेटेड पावर डेवलपमेंट स्कीम) के तहत वीटीएल(विंध्य टेली लिंक)कंपनी द्वारा केबल वाला तार लगाया जायेगा. नगर में केबल लगाने का काम शुरू भी हो गया है और मुख्य बाजार में 11 हजार वोल्ट के तार को केबल में बदलने का काम तेजी से चल रहा है. पुराने पोल को बदलकर नौ मीटर ऊंचाई का 400 किलो वजन वाला पोल मुख्य बाजार में लगाया जा रहा है.
 
दिघवारा विद्युत  सबस्टेशन से बिजली की निर्बाध सप्लाइ हो इसके लिए नगर व ग्रामीण इलाकों का  अलग-अलग फीडर बनाया जा रहा है.नगर के लिए अलग फीडर के निर्माण का कार्य  अंतिम चरण में है और रेलवे की स्वीकृति मिलने के बाद नगर का अलग फीडर कार्य  करने लगेगा. ऐसी व्यवस्था होने से बिजली की सप्लाइ बेहतर होगी और ग्रामीण  क्षेत्र में किसी तरह का फॉल्ट आने से नगर क्षेत्र की बिजली नहीं कटेगी.
 
बदले जायेंगे कम क्षमता वाले तार व ट्रांसफॉर्मर : नगर के हर वार्ड में अभी 63,100 व 200 केवीए क्षमता का ट्रांसफॉर्मर लगा है. जल्द ही 63 को 100, 100 को 200 व 200 को 315 केवीए की क्षमता वाले ट्रांसफॉर्मर में बदला जायेगा. पूरे नगर क्षेत्र में लगभग 20 जगहों पर नये ट्रांसफॉर्मर लगाये जायेंगे. इसके अलावा पुराने तारों को बदला जायेगा. लगभग 10 किमी केबल लगेंगे और 10 किमी तार बदले जायेंगे. तार व ट्रांसफॉर्मर बदलने का मुख्य उद्देश्य बिजली की निर्बाध आपूर्ति करना है.
 
मटिहान व आमी फीडर का अलग से हो रहा है निर्माण
 
दिघवारा विद्युत सबस्टेशन में तीन फीडर बनेगा. यहां से बिजली को फोरलेन सड़क पर लाया जायेगा, जहां से बिजली का तार सड़क के बायीं ओर से झझिया डगर के सामने से फोरलेन तक पहुंचाया जायेगा. वहां पर ज्वाइनटर बनेगा. एक लाइन झझिया डगर पुल के नीचे से बजाज एजेंसी तक पहुंचेगा जो नगर फीडर का काम करेगा और यह मुख्य बाजार के लाइन से जुड़कर सैदपुर से मलखाचक तक जायेगा. दूसरी लाइन 17 नंबर रेलवे ढाला से पारकर मानुपुर, आमी, हराजी होते झौवा तक जायेगा जो ग्रामीण फीडर का काम करेगा. एक लाइन को फोरलेन सड़क पार करवाया जायेगा जिससे मटिहान से मिर्जापुर तक बिजली की सप्लाइ की जायेगी.
 
तीन प्रखंडों के लगभग 20 हजार उपभोक्ताओं को होगा फायदा 
 
कई वर्षों से विद्युत उपभोक्ता नगर व ग्रामीण फीडर को अलग करने की मांग कर रहे थे जो अब जल्द पूरा होगा. तीन फीडरों का निर्माण हो जाने से दिघवारा, दरियापुर व गड़खा प्रखंडों के लगभग 20 हजार विद्युत उपभोक्ताओं की परेशानी कम होगी. तीन अलग फीडर बन जाने से नगर व ग्रामीण इलाकों में अलग-अलग घंटों में बिजली की सप्लाई होगी और जिस फीडर में तकनीकी खराबी आयेगी. 
 
उसी फीडर की सप्लाई बाधित रहेगी, वहीं अन्य फीडरों में सप्लाई चालू रहेगी.नगर व ग्रामीण क्षेत्रों का अलग अलग बिल आयेगा.
अभी क्या है बिजली की सप्लाई की स्थिति 
 
विद्युत सब स्टेशन दिघवारा में 10 एमवीए का एक और एक 5 एमवीए का मेगा ट्रांसफॉर्मर लगा है. बड़े ट्रांसफॉर्मर से रामदासचक से लेकर बड़ा गोपाल तक व छोटे वाले से  मटिहान से लेकर मिर्जापुर तक बिजली पहुंचाई जाती है. ऐसी स्थिति में बरसात व अन्य कारणों से जब बिजली बाधित होती है तो उस फीडर की सभी बिजली बाधित हो जाती है और हजारों उपभोक्ताओं की परेशानी बढ़ जाती है. नगर व ग्रामीण क्षेत्रों में एक समान बिजली की सप्लाई होती है और एक समान बिजली बिल लगता है. उपभोक्ताओं की यह परेशानी भी हमेशा के लिए दूर हो जायेगी.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement