34.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Weather Forecast: कहीं बारिश का कहर तो कहीं गर्मी का अलर्ट, जम्मू-कश्मीर से लेकर केरल तक बदला मौसम, जानिए बिहार-झारखंड का हाल

Weather Forecast: देश के कई राज्यों में मौसम का मिजाज बदल गया है. जम्मू कश्मीर में जोरदार बारिश से कई घर और सड़क टूट गये हैं. कहीं-कहीं भूस्खलन की भी हुआ है. वहीं ओडिशा, केरल, बिहार, झारखंड समेत कई और राज्यों में पसीना छुड़ाने वाली गर्मी पड़ रही है. लू चल रही है. मौसम विभाग ने गर्मी को लेकर अलर्ट जारी किया है.

Weather Forecast: जम्मू कश्मीर के अनेक हिस्सों में रात को बारिश के बाद भूस्खलन की अनेक घटनाओं के कारण सोमवार को जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग को यातायात के लिए बंद कर दिया गया. कश्मीर को देशभर से जोड़ने वाले इस राजमार्ग पर रामबन जिले के मेहर, गांगरू, मोम पस्सी और किश्तवाड़ी पाथेर में भूस्खलन की घटनाओं के बाद यातायात बंद कर दिया गया. यहीं नहीं तेज बारिश के कारण मरम्मत का काम भी नहीं हो पा रहा है. अधिकारियों ने एडवाइजरी जारी कर इन रास्तों से आवाजाही से बचने की सलाह दी है. अधिकारियों ने बताया कि जम्मू के पुंछ और राजौरी जिलों को दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिले से जोड़ने वाला वैकल्पिक मार्ग मुगल रोड भी पीर की गली और आसपास के क्षेत्रों में हिमपात की वजह से तीसरे दिन भी बंद रहा.

बारिश के कारण स्कूल बंद

लगातार बारिश के कारण जम्मू कश्मीर के किश्तवाड़ में स्कूलों को बंद कर दिया गया है. अधिकारियों ने बताया कि बच्चों की सुरक्षा को देखते हुए यह फैसला किया गया है. तेज बारिश के कारण किश्तवाड़ के बाशा-सिंबूल गांव में भूस्खलन से दो मकान ढह गए, वहीं रामबन और सांबा जिलों में रात में बारिश तथा आकाशीय बिजली गिरने की घटनाओं में बड़ी संख्या में मवेशी मारे गए. जम्मू कश्मीर के विभिन्न हिस्सों में सोमवार को दूसरे दिन भी बारिश हो रही है. वहीं जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा में अचानक भारी बारिश के कारण अचानक आई बाढ़ से सड़कें और इमारतें क्षतिग्रस्त हो गईं.

भारी बारिश से तबाही सिर्फ किश्तवाड़ और कुपवाड़ा में नहीं बरप रही है. जम्मू-कश्मीर में पुंछ के मंडी इलाके में भी बारिश से भारी तबाही मची है. भारी बरसात  से 8 से 10 घर क्षतिग्रस्त हो गए.

जम्मू-कश्मीर के एसडीएम अशफाक हुसैन ने भारी बारिश को लेकर कहा कि भारी बारिश में 8 से 10 घर क्षतिग्रस्त हो गए. कुछ घर पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गए हैं और कुछ आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हुए हैं. कुछ सड़कें भी क्षतिग्रस्त हो गई हैं. एसडीएम ने कहा कि प्रभावितों को नियमानुसार राहत राशि दी जाएगी.  प्रभावित परिवारों को तंबू उपलब्ध कराने के लिए हमने क्षेत्र में संवेदनशील स्थानों और वैकल्पिक आवास के स्थानों की पहचान की है.

राजस्थान में हो सकती है बारिश

वहीं, नए पश्चिमी विक्षोभ का असर राजस्थान में दिख सकता है. मौसम विभाग ने कहा है कि राजस्थान के कई इलाकों में बीते चौबीस घंटे में मेघ गर्जन के साथ हल्की बारिश दर्ज की गई है. मौसम केंद्र जयपुर के अनुसार पिछले 24 घंटे में बीकानेर, गंगानगर, हनुमानगढ़ जिलों में मेघ गर्जन के साथ कहीं-कहीं हल्की बारिश दर्ज की गई. वहीं अगले 48 घंटे में उत्तरी हवाओं के प्रभाव से न्यूनतम व अधिकतम तापमान में 2-3 डिग्री सेल्सियस गिरावट होने की संभावना है. मौसम केंद्र ने बताया कि एक और कमजोर पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से चार मई को पश्चिमी व उत्तरी राजस्थान में कहीं-कहीं बादल गरजने के साथ हल्की बारिश होने की संभावना है.

झारखंड में भीषण गर्मी,  8वीं तक की कक्षाएं बंद

पूरे झारखंड में भीषण गर्मी पड़ रही है. कई इलाकों में लू चल रहा है.  भीषण गर्मी को देखते हुए झारखंड में आठवीं कक्षा तक स्कूलों को बंद करने का फैसला लिया है. प्रदेश सरकार ने इसको लेकर आदेश भी जारी कर दिया है. स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग ने केजी से आठवीं तक की कक्षाओं को अगले आदेश तक बंद रखने का आदेश दिया है.बता दें, आज यानी सोमवार को बोकारो, धनबाद, जामताड़ा, देवघर, दुमका, पाकुड़, गोड्डा, साहिबगंज, सरायकेला-खरसावां और पूर्वी व पश्चिमी सिंहभूम  में लू की स्थिति दर्ज की गई.

बिहार में भी भयंकर गर्मी पड़ रही है. प्रदेश के अधिकतर जिलों का तापमान 40 डिग्री के पार पहुंचता जा रहा है. सबसे खराब हालत शेखपुरा का है, जहां गर्मी का पारा 43 और 44 डिग्री के पार जा रहा है. इसके अलावा भागलपुर, पूर्णिया समेत आसपास के जिलों में भी भीषण गर्मी पड़ रही है. आलम यह है कि दिन चढ़ते ही सड़के सुनसान हो जा रही है. वहीं मौसम विभाग का कहना है कि गर्मी का सितम अभी जारी रहेगा. राहत की उम्मीद कम ही है. लोगों को गर्मी के साथ-साथ लू से भी दो चार होना पड़ रहा है.

केरल में गर्मी को लेकर ऑरेंज अलर्ट

केरल में भी भीषण गर्मी पड़ रही है. भारत मौसम विज्ञान विभाग ने भीषण गर्मी के अंदेशे को देखते हुए पलक्कड़ जिले के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. केरल राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने कहा कि मौसम एजेंसी ने चिलचिलाती और भीषण गर्मी के अंदेशे को देखते हुए कोल्लम और त्रिशूर जिलों के कुछ इलाकों के लिए येलो अलर्ट भी  जारी है. आईएमडी के मुताबिक 29 अप्रैल से तीन मई तक पलक्कड़ और कोल्लम और त्रिशूर जिलों में तापमान 41 डिग्री सेल्सियस और 40 डिग्री सेल्सियस तक रहने का पूर्वानुमान है. भाषा इनपुट से साभार

Also Read: Lok Sabha Election 2024: ‘देश में दिख रहा परिवर्तन का परिणाम’, महाराष्ट्र में गरजे PM Modi, कहा- कांग्रेस ने 60 सालों में कुछ नहीं किया

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें