1. home Home
  2. national
  3. weather forecast update today weather condition in many states including delhi bihar jharkhand heavy rain pkj

Weather forecast today: देश के कई राज्यों में अलर्ट, जानें बिहार- झारखंड सहित कई राज्यों के मौसम का मिजाज

मौसम विभाग (IMD) ने अगले कुछ दिनों के दौरान बंगाल, ओडिशा, पूर्वी राजस्‍थान, मध्‍य प्रदेश, छत्‍तीसगढ़, पंजाब, उत्‍तराखंड समेत कई हिस्‍सों में बारिश का अनुमान लगाया है. दिल्ली में मौसम का मिजाज कैसा रहा है इसे लेकर स्‍काईमेट ने बताया है कि सितंबर का महीना काफी बारिश के साथ शुरू हुआ.

By PankajKumar Pathak
Updated Date
Weather forecast
Weather forecast
file

देश की राजधानी दिल्ली ने मौसम का मिजाज बदल दिया है. मंगलवार को दोपहर बाद से दिल्ली - एनसीआर के कई इलाकों में तेज बारिश हुई. मौसम विभाग ने आज भी ( बुधवार) दिल्ली में जलभराव और यातायात बाधित होने की आशंका के साथ बेहद खराब मौसम की चेतावनी जारी की है.

मौसम विभाग (IMD) ने अगले कुछ दिनों के दौरान बंगाल, ओडिशा, पूर्वी राजस्‍थान, मध्‍य प्रदेश, छत्‍तीसगढ़, पंजाब, उत्‍तराखंड समेत कई हिस्‍सों में बारिश का अनुमान लगाया है. दिल्ली में मौसम का मिजाज कैसा रहा है इसे लेकर स्‍काईमेट ने बताया है कि सितंबर का महीना काफी बारिश के साथ शुरू हुआ. दिल्ली ने पहले ही अपने मासिक औसत को पार कर लिया है. सितंबर के महीने में बारिश के कुछ रिकॉर्ड भी तोड़ दिए हैं.

अगले 24 घंटों में कई स्थानों पर मध्यम बारिश और कई जगहों पर भारी बारिश हो सकती है. मौसम विभाग का कहना है कि अगले 5 दिन के दौरान पूर्व राजस्‍थान, मध्‍य प्रदेश और गुजरात में भारी बारिश हो सकती है. 26 सितंबर से दोबारा ओडिशा में बारिश का दौर शुरू हो सकता है.

राष्ट्रीय राजधानी के लिए आधिकारिक आँकड़े प्रदान करने वाली सफदरजंग वेधशाला ने शाम 5.30 बजे तक 3.6 मिमी बारिश दर्ज की. दिल्ली में लोधी रोड, रिज क्षेत्र, नोएडा और पीतमपुरा में सुबह 8.30 से शाम 5.30 बजे के बीच क्रमश: 1 मिमी, 17.6 मिमी, 2 मिमी और 7 मिमी बारिश दर्ज की गई. मुंडका अंडरपास पर जलजमाव के कारण रोहतक रोड पर भीषण जाम लग गया.

यात्रियों को मध्य दिल्ली और लुटियंस दिल्ली में भी यातायात जाम का सामना करना पड़ा. भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने बुधवार के लिए "ऑरेंज" अलर्ट और बृहस्पतिवार, शनिवार और रविवार के लिए "येलो" अलर्ट जारी किया है . शुक्रवार के लिए, इसने "ग्रीन" अलर्ट जारी किया है.

बिहार के मौसम का मिजाज

बिहार के कई जिलों में भी बारिश की चेतावनी जारी की गयी है. बिहार के कई इलाकों में मौसम अपना मिजाज बदलने लगा है. मॉनसून अपने अंतिम चरण में आ चुका है और बिहार की राजधानी पटना सहित बिहार के कई जिलों में आसमान धुंध में लिपटने लगे हैं.बिहार के जिन राज्यों में बारिश की संभावना जाहिर की गयी है उसमें सीतामढ़ी, मधुबनी, मुजफ्फरपुर, दरभंगा, वैशाली, शिवहर और समस्तीपुर में भी अगले पांच दिनों तक बारिश.

झारखंड में मौसम का हाल

झारखंड के कई जिलों में बारिश की संभावना जाहिर की गयी है.बंगाल की खाड़ी में उत्तर पूर्व मध्य के हिस्से में एक कम दबाव का चक्रवातीय क्षेत्र बना है. इसके कारण झारखंड की राजधानी रांची समेत राज्यभर के विभिन्न इलाकों में अगले चार दिनों तक अच्छी बारिश होने की संभावना जताई गई है.

झारखंड में 1 जून से लेकर 20 सितंबर के बीच वास्तविक वर्षापात 937.8 मिमी हुई, जबकि सामान्य रूप से इस दौरान 986.8 मिमी बारिश रिकॉर्ड की जाती है.अगले 3 दिनों तक पूरे राज्य में हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश की संभावना जाहिर की गयी है. राज्य के दक्षिणी जिलों में कुछ स्थानों पर भारी बारिश की आशंका है.

छत्तीसगढ़ का मिजाज

छत्तीसगढ़ में भी राजधानी रायपुर सहित कई इलाकों में बारिश की चेतावनी जारी की गयी है. बिसालपुर और सरगुजा संभाग में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है. मौसम विभाग के मुताबिक, चक्रवाती हवाओं की वजह से छत्तीसगढ़ में मानसून का तगड़ा सिस्टम बना हुआ है. छत्तीसगढ़ के अधिकांश इलाकों में अब तक 65 फीसदी तक बारिश हुई है. अंबिकापुर और जगदलपुर में हल्की बारिश हुई है. वहीं बेमेतरा में 11, कुसमी में 8 और जैजैपुर में 6 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई है.

मौसम विभाग का कहना है कि बारिश के साथ कुछ इलाकों में गरज-चमक के साथ बिजली गिरने की भी संभावना है. रायपुर, दुर्ग और बिलासपुर संभाग में भारी बारिश हो सकती है. वहीं रायगढ़, सरगुजा, सूरजपुर, बलरामपुर, जशपुर, बिलासपुर, कोरिया में भी भारी बारिश की संभावना है.

पश्चिम बंगाल

पश्चिम बंगाल में भी कई जिलों में भारी बारिश का अनुमान लगाया गया है. कई इलाकों में बाढ़ का खतरा बना हुआ है. मौसम विभाग ने बताया कि सितंबर महीने में हुई बारिश ने 13 सालों का रिकार्ड तोड़ दिया है. पूर्वी मिदनापुर में बांध टूटने से हजारों लोग प्रभावित हुए हैं. दक्षिण बंगाल के सभी जिलों में लंबे समय से बारिश हो रही है.

मध्यप्रदेश में बारिश की संभावना

मध्य प्रदेश के मुरैना एवं बैतूल जिलों में मंगलवार को बिजली गिरने की दो घटनाओं में पांच लोगों की मौत हो गई और एक युवती झुलस गई. अम्बाह थाने के प्रभारी रवींद्र सिंह ने बताया कि मुरैना जिले की अम्बाह कस्बे में एक झोपड़ी में मंगलवार दोपहर को बिजली गिरने से लोकेंद्र सिंह तोमर (25), धरम वीर प्रजापति (20) एवं रामवीर तोमर फौजी (60) की मौत हो गई. मौसम विज्ञान विभाग ने मध्य प्रदेश के 36 जिलों में बारिश एवं 14 जिलों में मूसलाधार वर्षा की चेतावनी जारी की है. राजस्थानी भोपाल में गरज-चमक के साथ हल्की वर्षा होने की संभावना है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें