1. home Hindi News
  2. national
  3. unlock 4 delhi metro no tokens cash transactions or parking when dmrc restarts metro services amid coronavirus crisis upl

Unlock 4: ना टोकन कटेगा, ना पार्किंग की इजाजत, कैश ट्रांजेक्शन भी बंद, जानें कोरोना संकट के बीच कैसे होगा मेट्रो का परिचालन

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
.मेट्रो में वही सफर कर पाएंगे जिनके पास स्मार्ट कार्ड हो. मेट्रो स्टेशनों पर लगे स्मार्ट कार्ड रिचार्ज मशीन को हटा लिया जाएगा.
.मेट्रो में वही सफर कर पाएंगे जिनके पास स्मार्ट कार्ड हो. मेट्रो स्टेशनों पर लगे स्मार्ट कार्ड रिचार्ज मशीन को हटा लिया जाएगा.
File

Unlock 4, Delhi Metro, unlock 4 guidelines: कोरोनावायरस लॉकडाउन के कारण 22 मार्च के बाद से बंद मेट्रो सेवाएं अनलॉक 4 में फिर से शुरू हो सकती है. मेट्रो परिचालन को लेकर डीएमआरसी तैयारियों में जुटी हुई है. योजना है कि अब टोकन (टिकट) सिस्टम और कैश ट्रांजेक्शन को हमेशा हमेशा के लिए बंद कर दिया जाए.मेट्रो में वही सफर कर पाएंगे जिनके पास स्मार्ट कार्ड हो. मेट्रो स्टेशनों पर लगे स्मार्ट कार्ड रिचार्ज मशीन को हटा लिया जाएगा.

मेट्रो स्टेशनों पर लगे स्मार्ट कार्ड रिचार्ज मशीन को हटा लिया जाएगा. कार्ड को कैशलेस तरीकों से ही रिचार्ज करना होगा. इतना ही नहीं अब मेट्रो स्टेशन पर पार्किंग की भी इजाजत नहीं होगी. बता दें कि केंद्र सरकार अगले महीने से अनलॉक 4.0 लागू करने जा रही है. इसके लिए विस्तृत गाइडलाइंस जल्द आ सकती है. अनलॉक-4 में मेट्रो चलने की संभावना है. सितंबर के पहले सप्ताह के बाद से मेट्रो चलने की संभावना बताई जा रही है.

हालांकि बताया जा रहा है कि मेट्रो में यात्रियों के लिए सफर आसान नहीं होगा. दिल्ली सहित अन्य शहरों में अगर मेट्रो चलनी शुरू हुई तो सबसे बड़ी मुश्किल भीड़ कंट्रोल करने की होगी. इंट्री गेट, प्लेटफार्म और मेट्रो के अंदर भीड़ जमा ना हो इसके लिए भी तैयारी की जा रही है.

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, डीएमआरसी की मानक संचालन(एसओपी ) कहती है कि स्मार्ट कार्ड रिचार्ज इत्यादि सेवाएं अब कैशलेस होंगी. यात्रा के लिए टोकन मान्य नहीं होगा. स्मार्ट कार्ड या क्यूआर कोड से ही यात्रा कर सकेंगे. हो सकता है केंद्र सरकार सभी मेट्रो ऑपरेटरों को पत्र लिख कर कहे कि क्यूआर कोड आधारित टिकटों को आरोग्य सेतू एप से लिंक किया जाए. बता दें कि दिल्ली में कुछ ही स्टेशन हैं जहां क्यूआर कोड टिकट पर प्रवेश दिया जाता है. अगर मेट्रो चलती है तो यह सुविधा स्टेशनों पर शुरू करनी होगी.

इतना ही नहीं स्मार्ट कार्ड को डेबिट-क्रेडिट कार्ड से भी लिंक कर दिया जाएगा जिससे स्वतः ही वो रिचार्ज होता रहे. ई-लेन-देन को बढ़ावा देने के लिए दिल्ली मेट्रो ने 19 अगस्त को एक नयी सुविधा की घोषणा की थी जिसके तहत यात्री स्वचालित किराया संग्रह (एएफसी) गेट पर अपने स्मार्ट कार्ड को ऑटो-टॉप करा सकते हैं.

यह नया स्मार्ट कार्ड ग्राहकों के लिए 'ऑटोप' ऐप के जरिए उपलब्ध है जिसे इस उद्देश्य के लिए विशेष रूप से विकसित किया गया है.

कोच के अंदर बढ़ेगी गर्मी

मेट्रो अगर चलनी शुरू होती है तो कोच का तापमान 24 से 28 डिग्री के बीच रखा जाएगा. कोच के अंदर ज्यादा से ज्यादा हवा आए इसके लिए स्टेशनों पर अब मेट्रो को कुछ सेकेंड ज्यादा तक रोका जाएगा. बता दें कि डीएमआरस के पास अभी 285 मेट्रो स्टेशन हैं जो 389 किमी के मेट्रो नेटवर्क (दिल्ली-गुड़गांव, नोएडा फरीदाबाद) पर बनी हुई है. सामान्य दिनों में औसतन 26 लाख से अधिक लोग दिल्ली मेट्रो में यात्रा करते हैं

यात्रा का समय बढ़ेगा

आम दिनों की तुलना में मेट्रो के सभी स्टेशन पर ट्रेन ज्यादा देर तक रूकेगी. मगर इंटरचेंज स्टेशन जहां पर अधिक भीड़ होती है वहां ट्रेन को 20-30 सेकेंड अधिक समय के लिए रोका जाएगा. आम दिनों में एक स्टेशन पर ट्रेन 15 स 20 सेकेंड तक रूकती है। अब इसे कम भीड़ वाले स्टेशन पर 30 सेकेंड तक रोकने की तैयारी है. मगर इंटरचेंज वाले स्टेशन या फिर ज्यादा भीड़ वाले स्टेशनों पर 40 से 50 सेकेंड तक रूकेगा. इसका प्रभाव यह होगा की आपके यात्रा का समय बढ़ेगा.

तो नहीं भी मिल सकता है प्रवेश

बताया जा रहा है कि स्टेशन में आपको प्रवेश मिलेगा की नहीं यह उस स्टेशन के अंदर प्लेटफार्म पर मौजूद यात्रियों की संख्या पर भी निर्भर होगा. मेट्रो लाइन को आपस में जोड़ने वाले इंटरचेंज मेट्रो स्टेशन में भीड़ एकत्रित नहीं होने को लेकर दिल्ली मेट्रो ने खास योजना बनाई है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें