1. home Hindi News
  2. national
  3. union minister of state for home g kishan reddy said in public rally at leh that nc pdp and congress will restore article 370 with the support of china vwt

केंद्रीय मंत्री रेड्डी ने फारूख अब्दुल्ला पर किया हमला, बोले- अब चीन के समर्थन से अनुच्छेद 370 को पास लाएंगे एनसी, पीडीपी और कांग्रेस

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
लेह में एक जनसभा को संबोधित करते हुए केंद्रीय गृह राज्यमंत्री जी किशन रेड्डी.
लेह में एक जनसभा को संबोधित करते हुए केंद्रीय गृह राज्यमंत्री जी किशन रेड्डी.
फोटो ट्विटर.

Article 370 : केंद्रीय गृह राज्यमंत्री जी किशन रेड्डी ने रविवार को कहा कि नेशलन कॉन्फ्रेंस (एनसी), पीडीपी और कांग्रेस चीन के समर्थन से अनुच्छेद-370 के वापस लाएंगे. उन्होंने लेह की एक जनसभा में लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि फारूख अब्दुल्ला ने कहा है कि एनसी, पीडीपी और कांग्रेस चीन के समर्थन से अनुच्छेद 370 को वापस लाएंगे और लद्दाख से केंद्रशासित प्रदेश का दर्जा वापस लेंगे. उन्होंने जनसभा में उपस्थित लोगों से कहा कि क्या आप केंद्रशासित प्रदेश का दर्जा या अनुच्छेद 370 को पसंद करेंगे?

दरअसल, केंद्रीय गृह राज्यमंत्री ने पिछले दिनों जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने को लेकर नेशनल कान्फ्रेंस के नेता फारूख अब्दुल्ला के घर पर पीडीपी और अन्य दलों के साथ हुई बैठक को लेकर कटाक्ष किया है. बीते 15 अक्टूबर को जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला के घर पर सर्वदलीय बैठक का आयोजन किया गया था. बैठक में नेशनल कॉन्फ्रेंस के उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती भी उपस्थित थे. फारूख अब्दुल्ला ने जम्मू -कश्मीर के विशेष दर्जे के संबंध में 'गुपकार घोषणा’ पर भविष्य की कार्रवाई का खाका तैयार करने के लिए अपने आवास पर बैठक बुलाई थी.

गुपकार घोषणा नेशनल कॉन्फ्रेंस अध्यक्ष के गुपकार स्थित आवास पर चार अगस्त, 2019 को हुई एक सर्वदलीय बैठक के बाद जारी प्रस्ताव है. इसमें कहा गया था कि पार्टियों ने सर्व-सम्मति से फैसला किया है कि जम्मू कश्मीर की पहचान, स्वायत्तता और उसके विशेष दर्जे को संरक्षित करने के लिए वे मिलकर प्रयास करेंगी.

उधर, जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री एवं पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने कश्मीर मुद्दे के समाधान और अनुच्छेद 370 की बहाली के लिए अपने संघर्ष को जारी रखने का संकल्प लिया है. महबूबा को 14 महीने की हिरासत के बाद बीते मंगलवार की रात को रिहा किया गया था. महबूबा ने कहा कि पिछले साल पांच अगस्त को लिया गया केंद्र का फैसला दिनदहाड़े लूट थी.

Posted By Vishwat sen

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें