1. home Home
  2. national
  3. third wave of coronavirus come after festivals season covid 19 in india corona in 2020 and 2021 know details prt

त्योहारों के बाद आएगी तीसरी लहर! पिछले साल से लें ये सबक, घर से निकलें लेकिन सावधानी के साथ

बीते साल यानी साल 2020 में फेस्टिवल सीजन के दौरान कोरोना संक्रमण में काफी कमी आयी थी लेकिन त्योहारी सीजन खत्म होते ही कोरोना का सबसे विकराल रूप देखने को मिला. तो क्या इस बार भी कोरोना के घटते मामले खतरे का सिग्नल दे रहे हैं. क्या ये तीसरी लहर की आहत है.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Corona Virus
Corona Virus
file

देश में कोरोना वायरस (Cornavirus) के मामलों में कमी आयी है. इस जानलेवा कोविड 19 (Covid 19) के केस देश में अब घटने लगे हैं. भारत में लगातार दूसरी बार कोरोना वायरस के नए मामलों में गिरावट देखने को मिल रही है. बीते 24 घंटों में कोरोना वायरस के 14 हजार 3 सौ 13 नए मामले सामने आए हैं. जबकि, एक दिन मे कोरोना से 181 लोगों की मौत हो गई. इससे पहले 11 अक्टूबर को देश में 18 हजार 132 मामले दर्ज हुए थे.

डरानेवाले है आंकड़ेः देश में इन दिनों कोरोना के मामलों में कमी देखने को मिल रही हैं. लेकिन क्या ये किसी खतरे की घंटी है. जाहिर है बीते साल यानी साल 2020 में फेस्टिवल सीजन के दौरान कोरोना संक्रमण में काफी कमी आयी थी लेकिन त्योहारी सीजन खत्म होते ही कोरोना का सबसे विकराल रूप देखने को मिला. तो क्या इस बार भी कोरोना के घटते मामले खतरे का सिग्नल दे रहे हैं. क्या ये तीसरी लहर की आहत है. देखते हैं आंकड़े.

गौरतलब है कि बीते साल फेस्टिवल सीजन खत्म होते ही कोरोना के केस में लगातार इजाफा होता गया. बीते साल दिसंबर में जब कोरोना संक्रमण के रोजाना मामल में 10 हजार के आसपास आ गये थे. इस समय लगने लगा था कि भारत में अब यह महामारी काबू में आ जाएगी. लेकिन फिर अचानक कोरोना केस में तेजी से इजाफा होने लगा.

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, 14 मार्च 2021 को कोरोना के मामले बढ़कर 25 हजार 320 पहुंच गया. इसके बाद कोरोना के मामले लगातार बढ़ते गये. 20 दिसंबर को 26 हजार से ज्यादा मामले आए थे.वहीं, इसके बाद 24 अप्रेल 2021 को देश में कोरोना वायरस के कुल 3,46,786 नए मरीज मिले. साथ ही 2,624 मरीजों ने इस बीमारी के आगे हार मानकर दुनिया को अलविदा कह दिया. इसके एक दिन पहले यानी 23 अप्रैल 2021 को 3,32,730 कोरोना के नये मामले सामने आये थे. यह कोरोना की दूसरी लहर थी. जिसने देश में तबाही मचा दी थी.

लापरवाही पड़ सकती है भारीः कोरोना से लापरवाही पूरे देश के लिए भारी पड़ सकता है. पिछले साल लापरवाही के कारण ही कोरोना के मामलों में तेजी से इजाफा हुआ था. सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क लगाने जैसी सावधानियां बेहद जरूरी है. बता दें, देश में फेस्टीवल सीजन एक बार फिर शुरू हो गया है. लेकिन कोरोना अभी देश से खत्म नहीं हुआ है. ऐसे में जरूरी है कि आप त्योहारों की खुशियां मनाएं लेकिन कोरोना प्रोटोकॉल का भी ख्याल रखें.

जाहिर है देश में कोरोना का खतरा अब भी बरकरार है. आंकड़ों में गिरावट आयी है लेकिन संक्रमण अभी भी फैल रहा है. वहीं, कोरोना की तीसरी लहर की संभावना भी खत्म नहीं हुई है. अगर ऐसी परिस्थिति में सावधानी नहीं बरती गई तो आने वाले समय में एक बार फिर इतिहास दोहरा सकता है. देश में कोरोना की तीसरी लहर फिर से कहर बरपा सकती है.

Posted by: Pritish Sahay

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें