1. home Home
  2. national
  3. tejas india fighter plane aircraft india air force aero india 2021 defence minister rajnath singh war capacity of tejas prt

दुश्मनों के दांत खट्टे कर देगा तेजस, 48 हजार करोड़ के सौदे पर आज अंतिम मुहर, जानिए क्यों है तेजस अपराजेय

देश की पहली स्वदेशी लड़ाकू विमान तेजस की खरीद पर भारत सरकार ने अंतिम मुहर लगा दी है. इस सौदे के तहत भारत सरकार 48000 करोड़ रुपए का सौदा करेगी. सरकार वायुसेना के लिए हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटिड से 83 हल्के लड़ाकू विमान तेजस खरीदेगी

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
क्यों है तेजस अपराजेय
क्यों है तेजस अपराजेय
twitter

देश की पहली स्वदेशी लड़ाकू विमान तेजस की खरीद पर भारत सरकार ने अंतिम मुहर लगा दी है. इस सौदे के तहत भारत सरकार 48000 करोड़ रुपए का सौदा करेगी. सरकार वायुसेना के लिए हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटिड से 83 हल्के लड़ाकू विमान तेजस खरीदेगी. आज बेंगलुरू में हो रहे एयरो इंडिया शो में इस कांट्रेक्‍ट पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह हस्‍ताक्षर करेंगे.

तेजस की कीमत : चौथी पीढ़ी के इस खतरनाक लड़ाकू विमान की कीमत क्या होगी इस पर एचएएल के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक आर. माधवन ने बताया कि, तेजस के एक विमान की कीमत 309 करोड़ रुपये होगी, जबकि इसके प्रशिक्षण देने वाले संस्करण की कीमत 280 करोड़ रुपये होगी. वहीं, 83 तेजस विमानों का आधार मूल्य 25 हजार करोड़ होगा, जबकि 11 हजार करोड़ रुपये ग्राउंड सपार्ट और आधारभूत ढांचे पर खर्च होंगे.

चौथी पीढ़ी का खतरनाक लड़ाकू विमान है तेजस: तेजस एमके-1ए चौथी पीढ़ी का खतरनाक लड़ाकू विमान है. स्‍वेदेशी तकनीक से विकसित यह एक सिंगल इंजन का मल्‍टी रोल सुपरसॉनिक फाइटर जेट है. जिसकी डिजाइन पूर्णता स्वदेशी है. तेजस किसी भी मौसम में उड़ान भर सकता है. और देश के दुश्मनों को खाक में मिला सकता है.

बता करें इसकी खूबी की तो, इस विमान में इलेक्ट्रॉनिक रूप से स्कैन किए गए सक्रिय एरे रडार लगे हैं. यह दृश्यता के दायरे से बाहर भी देख सकता है. इलेक्ट्रॉनिक युद्धक तकनीक से लैस है. इसमें हवा में ही ईंधन भरा जा सकता है. इसके भारतीय वायुसेना में शामिल होने से देश की हवाई ताकत और अधिक बढ़ जाएगी.

तेजस के खतरनाक हथियार: तेजस के हथियारों में मध्‍यम और करीब से हवा से हवा में मार करने वाली मिसाइलें, गाइडेड वेपंस, हवा से जमीन में मार सकने वाली मिसाइलें, जिसमें एंटी-शिप मिसाइलें, क्‍लस्‍टर बम और अनगाइडेड मिसाइलें शामिल हैं. तेजस आठ टन तक के हथियारों का बोझ ढो सकता है. तेजस में 23 एमएम की ट्विन बैरल गन है जो 220 राउंड तक मार कर सकती है.

कितना खतरनाक है तेजस: तेजस फाइटर जेट देश के लिए जितना उपयोगी है दुश्मनों के लिए उतना ही खतरनाक है. इसकी मारक क्षमता से दुश्मनों के होश उड़ रहे हैं. तेजस के खतरनाक हथियारों की बात करें तो, तेजस के हथियारों में मध्‍यम और हवा से हवा में मार करने वाली मिसाइलें, लेजर गाइडेड वेपंस, हवा से जमीन में मार करने वाली मिसाइलें और अनगाइडेड मिसाइलें शामिल हैं. तेजस आठ टन तक के हथियारों का बोझ ढो सकता है. तेजस में 23 एमएम की ट्विन बैरल गन लगी है. जो 220 राउंड तक मार कर सकती है.

चीन के जेएफ-17 से तुलना: चीन से बढ़ती दुश्मनी और पाकिस्तान की नीयत को देखते हुए भी देश में तेजस विमान की जरूरत और बढ़ जाती है. अगर चीन के जेएफ-17 से तेजस की तुलना की जाये तो तेजस जेएफ-17 से हर लिहाज में बेहतर है. तेजस की मिसाइल रेंज जेएफ-17 से ज्यादा है. तेजस हर मौसम में उड़ान भर सकने में सक्षम है. साथ इसमें कई और खूबियों को शामिल किया जा रहा है जिसके बाद तेजस विमान अपराजेय हो जाएगा.

Posted by: Pritish Sahay

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें