1. home Home
  2. national
  3. tamil nadu news omicron threat people getting infected cm will hold review meeting rts

तमिलनाडु: 'ओमिक्रॉन' का खतरा, दोनों डोज लेने के बाद भी लोग हो रहे संक्रमित, मुख्यमंत्री करेंगे समीक्षा बैठक

तमिलनाडु में ओमिक्रॉन का खतरा बढ़ता जा रहा है. दोनों डोज लेने वाले लोग भी ओमिक्रॉन से संक्रमित हो रहे हैं. स्थिति की समीक्षा करने के लिए मुख्यमंत्री 31 दिसंबर को बैठक करेंगे.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
जानकारी देते तमिलनाडु के स्वास्थ्य मंत्री
जानकारी देते तमिलनाडु के स्वास्थ्य मंत्री
ANI

भारत में ओमिक्रॉन का खतरा रोजाना बढ़ता जा रहा है. देश में ओमिक्रोन के अब तक 781 मामले दर्ज़ किए गए हैं. दक्षिण के राज्य तमिलनाडु में भी ओमिक्रॉन के मामले लगातार सामने आ रहे हैं. राज्य में अब तक 45 लोगों में ओमिक्रॉन का संक्रमण पाया गया है. तमिलनाडु के स्वास्थ्य मंत्री मा सुब्रमण्यम और स्वास्थ्य सचिव जे राधाकृष्णन ने चेन्नई के अशोक नगर कोरोना नियंत्रण क्षेत्र का निरीक्षण किया.

क्षेत्र में स्वच्छता कार्यक्रम चलाया जा रहा है. स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि वैक्सीन के दोनों डोज लेने के बाद भी लोग संक्रमित हो रहे हैं. जिसे देखते हुए नए साल के जश्न पर पाबंदियां बढ़ा दी गई हैं. वहीं, स्थिति की समीक्षा के लिए मुख्यमंत्री 31 दिसंबर को समीक्षा बैठक करेंगे.

वहीं, चेन्नई में अपने निरीक्षण के दौरान स्वास्थ्य मंत्री मा सुब्रमण्यम ने कहा कि आने वाले दिनों में चेन्नई में 23 हजार परीक्षण किए जाएंगे. उन्होंने कहा कि तमिलनाडु में अब तक 45 लोग ओमिक्रॉन से संक्रमित पाए गए हैं. इन सभी ने कोरोना की दोनों खुराक लगा रखी है. उन्होंने बताया कि चेन्नई पुलिस ने होटलों और सार्वजनिक स्थानों पर नए साल के जश्न पर प्रतिबंध लगा दिया है. 31 दिसंबर को, सीएम एमके स्टालिन राज्य में COVID19 स्थिति पर समीक्षा बैठक करेंगे.

क्या कहते हैं आंकड़ें

तमिलानाडु के स्वास्थ्य विभाग के अनुसार मंगलवार को राज्य में 11 लोग ओमिक्रॉन से संक्रमित मिले हैं. इनमें से 7 मामले चेन्नई में, तिरुवण्णामलै, कन्याकुमारी और तिरुवारुर जिलों में एक-एक मामला सामने आ या है. वहीं, मंगलवार को एक मरीज ठीक होकर घर वापस जा चुका है. हालांकि चिंता की बात यह है कि वैक्सीन की दोनों डोज लेने वाले भी संक्रमित हो रहे हैं. जिससे वैक्सीनेशन का ओमिक्रॉन पर असर को लेकर भी चिंताएं बढ़ रही हैं.

लक्षणों की बात करें तो इस वैरिएंट से मरीजों में अभी हल्का लक्षण दिख रहा है. अब तक यह ज्यादा गंभीर नहीं देखा गया है. वहीं, केंद्र ने राज्यों को आगाह किया कि ओमिक्रॉन डेल्टा से कम से कम तीन गुना ज्यादा संक्रामक है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें