1. home Hindi News
  2. national
  3. school reopen latest updates government guideline delhi government school bag policy know all detail cm arvind kejriwal khulega school amh

School Reopen News : स्कूल खुलने के पहले सरकार ने लिया ये बड़ा फैसला

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
School Reopen News
School Reopen News

देश की राजधानी दिल्ली में स्कूल खुलने (School Reopen) का इंतजार सभी कर रहे हैं. हालांकि केजरीवाल सरकार ने यह साफ कहा है कि कोरोना की वैक्सीन आने के बाद ही स्कूल खोलने (School Reopen in delhi) पर विचार किया जाएगा. इसी बीच केजरीवाल सरकार ने स्कूली बच्चों को लेकर बड़ा फैसला किया है. सरकार ने स्कूल बैग पॉलिसी को लेकर एक सर्कुलर जारी करने का काम किया है. दिल्ली में स्कूल खुलने से जुड़ी हर Breaking News in Hindi से अपडेट के लिए बने रहें हमारे साथ.

दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने एक नई गाइडलाइंस जारी की है जिसमें सभी स्कूलों को स्कूल बैग पॉलिसी 2020 के तहत प्राइमरी, सेकेंडरी और सीनियर सेकेंडरी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों के बैग का बोझ कम करने को कहा है. नये आदेश पर नजर डालें तो सभी स्कूलों को स्कूल बैग के वजन का चार्ट स्कूल के नोटिस बोर्ड पर और हर क्लासरूम में लगाना जरूरी होगा.

दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने आदेश दिया है कि स्कूलों को कुछ बातों का खास ख्‍याल रखना होगा. उन्हें चेक करना होगा कि कहीं बच्चों का बैग ज्यादा भारी तो नहीं है. यही नहीं स्कूल पहुंचे बच्चों को बैग की दोनों बेल्ट को टांगने के लिए प्रमोट करने की ज़िम्मेदारी भी स्कूल की होगी.

केजरीवाल सरकार के निर्देश पर नजर डालें तो इसमें कहा गया है कि स्कूल प्रशासन को कम वजन वाले अलग-अलग तरह के स्कूल बैग के बारे में बच्चों के साथ-साथ अभिभावकों को भी बताना होगा. सरकार द्वारा जारी की गई गाइडलाइंस के अनुसार बैग का इस्तेमाल करने के लिए बच्चों को प्रोत्साहित भी करना अनिवार्य होगा. स्कूल प्रबंधन को बच्चों को खास ख्‍याल रखना होगा और उन्हें अच्छी गुणवत्ता का पीने का पानी उपलब्ध कराना होगा. ऐसा इसलिए ताकि बच्चों को वाटर बॉटल लेकर स्कूल आने की जरूरत ना पड़े.

इन टेक्स्ट बुक को ही करना होगा फॉलो : केजरीवाल सरकार की नई गाइडलाइंस पर नजर डालें तो सभी स्कूलों को सिर्फ SCERT, NCERT और CBSE द्वारा निर्धारित की गई टेक्स्ट बुक को ही लाने की अनिवार्यता होगी. स्कूल के प्राध्यापकों और टीचर्स को हर क्लास का एक टाइम टेबल भी तैयार करने को कहा गया है जिससे बच्चों का बोझ कम हो और अतिरिक्त किताब का लोड ना पड़े.

कितनी किताबें लाने की जरूरत : स्कूल बैग पॉलिसी की मानें तो प्री-प्राइमरी कक्षाओं के बच्चों को कोई भी नोटबुक साथ लाने की ज़रूरत नहीं होगी. वहीं पहली और दूसरी क्लास के लिए सिर्फ एक नोटबुक की अनिवार्यता है. इन बच्चों को होमवर्क नहीं देने की जरूरत है. अन्य कक्षाओं की बात करें तो इनमें एक विषय के लिये प्रैक्टिस, प्रोजेक्ट, यूनिट टेस्ट के साथ एक्सपेरिमेंट्स की सिर्फ एक नोटबुक बच्चों को लाना अनिवार्य होगा.

Posted By : Amitabh Kumar

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें