1. home Hindi News
  2. national
  3. sacrilege attempt before punjab elections 2022 2 people beaten to death cm channi reached golden temple mtj

पंजाब चुनाव से पहले गुरुग्रंथ साहिब की बेअदबी: दो लोगों की पीट-पीटकर हत्या, स्वर्ण मंदिर पहुंचे सीएम चन्नी

पंजाब में विधानसभा चुनाव से पहले गुरुग्रंथ साहिब की बेअदबी मामले में दो लोगों की पीट-पीटकर हत्या कर दी गयी है. एक आरोपी उत्तर प्रदेश का रहने वाला बताया जाता है. जांच के लिए एसआईटी बना दी गयी है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
स्वर्ण मंदिर पहुंचे पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी
स्वर्ण मंदिर पहुंचे पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी
Twitter

अमृतसर/कपूरथला: पंजाब में विधानसभा चुनाव से अमृतसर (Amritsar) स्थित स्वर्ण मंदिर (Golden Temple) के बाद कपूरथला में गुरु ग्रंथ साहिब की बेदअदबी मामले में दो लोगों की पीट-पीटकर हत्या के बाद मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी (Charanjit Singh Channi) रविवार को स्वर्ण मंदिर पहुंचे. उन्होंन स्वर्ण मंदिर में मत्था टेकने के बाद लोगों से अपील की कि वे सांप्रदायिक सौहार्द को बनाये रखें.

पंजाब के मुख्यमंत्री ने कहा कि हमे धार्मिक स्थलों और सभी धर्मों का सम्मान करना चाहिए, आपसी सदभाव को कायम रखना चाहिए. हो सकता है कि पंजाब में विधानसभा चुनाव से पहले कुछ लोग माहौल खराब करने की कोशिश कर रहे हों. ऐसे लोगों की साजिशों को कामयाब नहीं होने देना चाहिए.

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकारी एजेंसियां इस मामले की जांच कर रही है. मामले की जांच के लिए स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम (एसआईटी) का गठन कर दिया गया है. दो दिन में दो लोगों की पीट-पीटकर हत्या किये जाने के बाद से पुलिस मृतक की तलाश में जुटी हुई है.

मामला अमृतसर के स्वर्ण मंदिर में कथित रूप से बेअदबी से जुड़ा है. स्वर्ण मंदिर में कथित बेअदबी का प्रयास करने वाले एक व्यक्ति की पीट-पीटकर हत्या करने के एक दिन बाद रविवार को कपूरथला में भी एक व्यक्ति की हत्या कर दी गयी.

रविवार सुबह यहां एक गुरुद्वारे में ‘निशान साहिब’ (सिख धार्मिक ध्वज) का अनादर करने के आरोप में दूसरी हत्या हुई. निजामपुर गांव के कुछ निवासियों ने दावा किया कि उस व्यक्ति ने ‘निशान साहिब’ का अपमान किया और भागने की कोशिश की, लेकिन पीछा करने के बाद उसे पकड़ लिया गया.

पुलिस के मुताबिक, युवक की पीट-पीटकर हत्या की गयी है. अमृतसर में स्वर्ण मंदिर में शनिवार शाम कथित तौर पर बेअदबी का प्रयास करने वाले उत्तर प्रदेश के एक व्यक्ति की गुस्साई भीड़ ने पिटाई कर दी थी, जिसके बाद उसकी मौत हो गयी.

तलवार लेकर गर्भगृह में पहुंचा

घटना उस समय हुई थी, जब वह व्यक्ति पवित्र स्थल पर सुनहरी ग्रिल फांदकर तलवार उठाने के बाद उस स्थान के पास पहुंच गया, जहां सिख ग्रंथी पवित्र गुरु ग्रंथ साहिब का पाठ कर रहा था. इस घटना पर राजनीतिक नेताओं की तीखी प्रतिक्रिया आयी थी और पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने इसकी जांच के आदेश दिये थे.

मारे गये आरोपी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज

पंजाब पुलिस उस व्यक्ति की पहचान कर रही है, जिसने स्वर्ण मंदिर के गर्भ गृह में घुसकर बेअदबी की कोशिश की थी. बाद में पिटाई से उसकी मौत हो गयी थी. पुलिस ने बताया कि यह जानकारी मिली है कि आरोपी घटना को अंजाम देने से पहले कुछ घंटे तक परिसर में ही था.

इस संबंध में पंजाब के उप मुख्यमंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा ने अमृतसर में जिला उपायुक्त, पुलिस आयुक्त, पुलिस महानिरीक्षक (सीमा रेंज), अमृतसर ग्रामीण के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) और अन्य अधिकारियों के साथ बैठक की. अमृतसर के पुलिस आयुक्त सुखचैन सिंह गिल ने रविवार को बताया कि अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ शनिवार रात भारतीय दंड संहिता की धारा-295ए (धार्मिक समूहों में द्वेष उत्पन्न करना), धारा-307 (हत्या की कोशिश) के तहत प्राथमिकी दर्ज की गयी है.

अमृतसर के पुलिस कमिश्नर ने बताया कि स्वर्ण मंदिर में लगे सभी कैमरों की तस्वीर प्राप्त कर ली गयी है और आरोपी के बारे में सूचना एकत्र करने के लिए उनकी जांच की जा रही है. गिल ने बताया कि तस्वीर से पता चलता है कि आरोपी शनिवार पूर्वाह्न 11 बजे स्वर्ण मंदिर में आया और कुछ घंटे तक अकाल तख्त के सामने सोया.

उन्होंने बताया कि घटना शाम छह बजे हुई और उसने अपराध को अंजाम देने से पहले कई घंटे स्वर्ण मंदिर में ही बिताये. शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (एसजीपीसी) के कार्यबल सदस्यों ने उसे पकड़ा. जब उसे एसपीजीसी के कार्यालय ले जाया जा रहा था, तब आक्रोशित ‘संगत’ ने उसकी बुरी तरह से पिटाई कर दी, जिससे उसकी मौत हो गयी. आरोपी के पास से मोबाइल फोन, पर्स, पहचान पत्र या आधार कार्ड नहीं मिला है.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें