1. home Home
  2. national
  3. railway minister ashwini vaishnaw bharat gaurav train indian railways start new tourism trains smb

रेल मंत्री ने किया 'भारत गौरव' ट्रेनों का ऐलान, किराया टूर ऑपरेटर करेंगे तय

Bharat Gaurav Trains रेल यात्रियों की सुविधा का ख्याल रखते हुए भारतीय रेलवे लगातार नए-नए बदलाव कर रहा है. इसी के मद्देनजर मंगलवार को रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने बड़ा एलान करते हुए कहा कि यात्री, माल ढुलाई खंड के बाद रेलवे पर्यटन के लिए ट्रेनों का तीसरा खंड 'भारत गौरव' ट्रेन शुरू करेगा.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Railway Minister Ashwini Vaishnaw
Railway Minister Ashwini Vaishnaw
twitter

Bharat Gaurav Trains रेल यात्रियों की सुविधा का ख्याल रखते हुए भारतीय रेलवे लगातार नए-नए बदलाव कर रहा है. इसी के मद्देनजर मंगलवार को रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने बड़ा एलान करते हुए कहा कि यात्री, माल ढुलाई खंड के बाद रेलवे पर्यटन के लिए ट्रेनों का तीसरा खंड 'भारत गौरव' ट्रेन शुरू करेगा. रेल मंत्री ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए इस बारे में जानकारी दी.

रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने इंडियन रेलवे के पैसेंजर और फ्रेट वर्टिकल के बाद टूरिज्म सेगमेंट का एलान किया है और इसके लिए लगभग 190 ट्रेन आवंटित की गई हैं. उन्होंने कहा कि भारत गौरव ट्रेन का संचालन निजी क्षेत्र और आईआरसीटीसी दोनों द्वारा किया जा सकता है. जबकि, किराया टूर ऑपरेटर द्वारा तय किया जाएगा.

अश्विवी वैष्णव ने कहा कि हमने भारत गौरव ट्रेनों के लिए 180 से अधिक ट्रेनों का आवंटन किया है और 3033 कोचों की पहचान की गई है. हम आज से आवेदन लेना शुरू करेंगे. हमें अच्छी प्रतिक्रिया मिली है. हितधारक ट्रेन को मॉडिफाई करेंगे और उन्हें चलाएंगे. जबकि, रेलवे रखरखाव, पार्किंग और अन्य सुविधाओं में मदद करेगा. भारत गौरव ट्रेन देश की संस्कृति, विरासत को प्रदर्शित करने वाली थीम पर आधारित होंगी.

रेल मंत्री ने कहा कि आप इसे रेगुलर ट्रेन सर्विसेज की तरह ना देखें और ये सामान्य ट्रेन सर्विस नहीं है. भारत गौरव ट्रेनों का मुख्य उद्देश्य भारत में पर्यटन को बढ़ावा देना है और इसके कई तरह के आयाम हैं. अश्विनी वैष्णव ने कहा कि हमने इसके लिए अध्य्यन किया है और जब हम संस्कृति के किसी पहलू की बात करते हैं तो इसके लिए कई संवेदनशील बातें होती हैं.

अश्विनी वैष्णव ने कहा कि हमें निश्चित तौर पर अपने इस प्रयास के तहत डिजाइनिंग, खाने और पहनावे के साथ अन्य बातों पर ध्यान देकर उन्हें अपनाना होगा. हमें इस प्रक्रिया में सीखते हुए आगे बढ़ना होगा और इस प्रक्रिया में कोई भी आयाम पत्थर की लकीर नहीं है और जरूरत पड़ने पर इसमें सुधार की हमेशा गुंजाइश रहेगी. जिससे हम यात्रियों को बेहतर से अधिक सुविधाएं मुहैया करा पाएंगे.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें