36.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Advertisement

गुजरात चुनाव 2022: चुनाव प्रचार में हुई राहुल गांधी की एंट्री, जानें क्या है प्लान

Gujarat Election 2022 ; कांग्रेस के गुजरात प्रभारी रघु शर्मा ने बताया कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी 21 नवंबर को जनसभा को संबोधित करने के लिए दक्षिण गुजरात के राजकोट और महुवा में पहुंचेंगे. जानें क्यों टेंशन में है कांग्रेस

Gujarat Election 2022 : गुजरात विधानसभा चुनाव को लेकर प्रचार तेज हो चला है. इस बार भाजपा और कांग्रेस के अलावा आम आदमी पार्टी यानी आप भी मैदान में है इसलिए मुकाबला यहां त्रिकाणीय होने के आसार हैं. कांग्रेस की राह इस बार आसान नजर नहीं आ रही है. इस बीच खबर है कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी 21 नवंबर (सोमवार) को गुजरात में राजकोट और सूरत के महुवा में दो जनसभाओं को संबोधित करेंगे और पार्टी के पक्ष में वोट करने की जनता से अपील करेंगे.

कहां होगी राहुल गांधी की रैली

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी वर्तमान में ‘भारत जोड़ो यात्रा’ का नेतृत्व कर रहे हैं, जो इस समय महाराष्ट्र से गुजर रही है. यह 20 नवंबर को यानी आज मध्य प्रदेश में प्रवेश कर जाएगी. राजस्थान के विधायक एवं कांग्रेस के गुजरात प्रभारी रघु शर्मा ने राहुल गांधी की रैली के संबंध में जानकारी दी. उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष 21 नवंबर को जनसभा को संबोधित करने के लिए दक्षिण गुजरात के राजकोट और महुवा में पहुंचेंगे. यहां चर्चा कर दें कि गुजरात में दो चरणों में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए एक और पांच दिसंबर को मतदान होगा. वहीं मतों की गणना आठ दिसंबर को होगी.

Also Read: Gujarat Election 2022 : क्या कांग्रेस को होगा नुकसान ? इन तीन युवाओं ने बदल दी गुजरात की राजनीति
2017 का चुनाव

कांग्रेस ने 2017 के गुजरात विधानसभा चुनाव में अपना बेहतर प्रदर्शन किया था और विधानसभा की 182 में से 77 सीटों पर जीत हासिल की थी जबकि भाजपा ने 99 सीटों पर जीत हासिल की थी. इसके बाद कुछ कांग्रेस के विधायकों ने भाजपा का दामन थाम लिया और भाजपा की संख्या बढ़कर 111 हो गयी.

कांग्रेस की क्यों बढ़ी टेंशन

इस बार कांग्रेस की परेशानी बढ़ती नजर आ रही है. दरअसल, 2017 के गुजरात विधानसभा चुनावों में, हार्दिक पटेल, अल्पेश ठाकोर और जिग्नेश मेवाणी ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को मुश्किल में डाल दिया था. हार्दिक पटेल की बात करें तो उन्होंने पाटीदार आंदोलन का नेतृत्व किया था. वहीं अल्पेश ठाकोर ने अन्य पिछड़े वर्गों (ओबीसी) को एकजुट करने का काम किया था.

जिग्नेश मेवाणी की बात करें तो वे दलित समुदाय के नेता हैं. वर्तमान समय के परिदृष्य पर नजर डालें तो पिछले चुनाव में कांग्रेस के साथ दिखे हार्दिक पटेल और अल्पेश ठाकोर भाजपा के टिकट से चुनाव लड़ रहे हैं. वहीं पिछली बार निर्दलीय चुनाव लड़ने वाले मेवाणी कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ते नजर आएंगे.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें