1. home Hindi News
  2. national
  3. priyanka gandhi address kisan mahapanchayat at mathura attack pm modi and up government congress against new farm laws kisan andolan news pwn

'जब नाश मनुज पर छाता है…', मथुरा के किसान महापंचायत से प्रियंका गांधी का मोदी सरकार पर हमला

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
मथुरा के किसान महापंचायत से प्रियंका गांधी का मोदी सरकार पर हमला
मथुरा के किसान महापंचायत से प्रियंका गांधी का मोदी सरकार पर हमला
Twitter /Priyanka Gandhi
  • मथुरा के किसान महापंचायत से प्रियंका गांधी का पीएम मोदी पर हमला

  • प्रधानमंत्री के पास किसानों से मिलने का समय नहीं हैं

  • सरकार का विवेक खत्म हो गया है: प्रियंका गांधी

मथुरा में किसान महापंचायत को संबोधित करते हुए कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि जब नाश मनुज पर छाता, पहले विवेक मर जाता है. आज केंद्र सरकार की हालत ऐसी ही हो गयी है. सरकार का विवेक खत्म हो चुका है. सरकार यह नहीं देख पा रही है कि कृषि कानून खिलाफ आंदोलन कर रहे किसान कितनी मुसिबतें झेल रहे हैं. इसलके बावजूद उनपर लाठियां चलायी जाती है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोलते हुए प्रियंका गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री पूरी दुनिया मे घूम सकते हैं पर दिल्ली की सीमा पर आंदोलन कर रहे किसानों के बीच कभी उनसे मिलने नहीं आये. गन्ना किसानों को अभी तक बकाया नहीं मिला पर प्रधानमंत्री ने अपने लिए हवाई जहाज खरीद लिया. इसके अलावा कांग्रेस महासचिव से कई मुद्दों पर सरकार पर हमला किया और कृषि कानून से संबंधित जानकारी किसानो को दी.

पालीखेड़ी में किसान महापंचायत की शुरूआत प्रियंका गांधी ने राधे-राधे से की और इसके बाद किसानों के मुद्दे और यूपी में गौशालाओं की स्थिति पर उत्तर प्रदेश की सरकार पर निशाना साधा. बता दें कि कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे आंदोलन पर देशभर में खास कर यूपी की सियासत गर्म हो रही है. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी प्रदेश में लगातार दौरे कर रही है और कांग्रेस द्वारा आयोजित किसान महापंचायत में शामिल होकर किसानों को संबोधित कर रही है. इसी क्रम में आज आज प्रियंका गांधी मथुरा के पालीखेड़ी में आयोजित किसान महापंचायत में शामिल हुई.

इससे पहले मुजफ्फरपुर में किसान महापंचायत को संबोधित करते हुए प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा था कि सबसे बड़ा अहसान जनता नेता पर करती है, नेता जनता पर कोई अहसान नहीं करता. इस वक्त देश की जो स्थिति है आप मुझसे बेहतर समझते हैं. ऐसा वक्त है जब 90 दिनों से लाखों किसान दिल्ली के बाहर बैठे हुए हैं संघर्ष कर रहे हैं आंदोलन कर रहे हैं.

सभा में प्रियंका गांधी ने कहा, 215 किसान शहीद हुए, बिजली काटी गयी उन्हें मारा गया. दिल्ली की सीमा को ऐसे बनाया गया जैसे देश की सीमा थी. जो किसान अपने बेटे को देश की सीमा पर रखवाली करने के लिए भेजता है उसे अपमानित किया गया. किसानों को देशद्रोही और आतंकी कहा. प्रधानमंत्री ने उन्हें आंदोलनजीवी कहा. हमारे देश का दिल किसान है.

Posted By: Pawan Singh

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें