1. home Hindi News
  2. national
  3. pnb scam case fugitive businessman mehul choksi to be in india within 48 hours pkj

PNB scam case : 48 घंटों के अंदर भारत में होगा भगोड़ा कारोबारी मेहुल चोकसी ? प्राइवेट जेट पहुंचा डोमिनिका

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
PNB scam case :
PNB scam case :
social mmedia

पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) घोटाले का आरोपी हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी डोमिनिका की जेल में बंद है. उस पर अवैध तरीके से बोर्डर क्रॉस करने का आरोप लगा है. भारत सरकार उसे वापस लाने की पूरी कोशिश कर रही है. इस बीच खबर है कि एक भारतीय विमान डोमिनिका पहुंचा है.

मेहुल चोकसी क्यूबा जाने के फिराक में था लेकिन उसे डोमिनिका में ही गिरफ्तार कर लिया गया. चोकसी के पास एंटीगुआ की नागरिकता है. ऐसी खबर आ रही है कि एंटीगुआ की सरकार ने चोकसी को सीधे भारत को सौंपने का फैसला लिया है यही कारण है कि भारतीय जेट विमान वहां पहुंचा है. इसी प्राइवेट जेट से चोकसी को भारत लाया जा सकता है. मीडिया रिपोर्टस के अनुसार एंटीगुआ के प्रधानमंत्री गैस्टन ब्राउने ने पुष्टि की कि भारत से एक निजी जेट डोमिनिका के डगलस-चार्ल्स हवाई अड्डे पर पहुंचा है.

प्रधानमंत्री ब्राउने ने कानून अड़चन और उसे भारत भेजने के सवाल पर कहा, ''मुझे लगता है कि उसे भारत को सौंपने में कोई कानूनी-अड़चन नहीं है. उसे प्राइवेट जेट के जरिए अगले 48 घंटे में भारत को प्रत्यर्पित किया जा सकता है. भारतीय अधिकारियों को ही उसे वापस ले जाना है. इसके लिए उन्हें ही व्यस्था करनी होगी.

खबर है कि सरकार इस मामले में किसी भी पक्ष को कमजोर नहीं करना चाहती और मेहुल की भारत वापसी को लेकर गंभीर है. भारतीय उच्चायुक्त को इस मामले पर कड़ी नजर रखने, अपना पक्ष मजबूती से रखने के डोमिनिका की यात्रा पर भेजा जा रहा है. भारतीय उच्चायुक्त अरुण कुमार साहू भारत प्रत्यर्पण की संभावनाओं की तलाश करेंगे और इस संबंध में चर्चा करेंगे. इस मामले पर कई अन्य वरिष्ठ सरकारी अधिकारी भी मेहुल चोकसी को भारत लाने का तरीका ढुढ़ रहे हैं.

पीएनबी घोटाला में करोड़ों की धोखाधड़ी के बाद हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी विदेश भाग गया था वहां उसे मिनिका में हिरासत में ले लिया गया. उस पर आरोप है कि उसने अवैध रूप से डोमिनिका में प्रवेश किया है. मेहुल चोकसी को अगले आदेश तक कैरिबियाई द्वीपीय देश से कहीं और भेजने पर रोक लगा दी गयी है. मेहुल चोकसी के वकील ने बताया कि उन्हें अबतक कानूनी सहायता और उनके अधिकार से उन्हें वंचित रखा गया है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें