1. home Home
  2. national
  3. now corona virus has started showing effect on animals two lionesses were found infected pkj

अब जानवरों में भी फैलने लगा है कोरोना वायरस, दो शेरनी पायी गयीं संक्रमित

संक्रमित होने के बाद इन दोनों को अलग से रखा गया है, जहां इनका इलाज चल रहा है. इस संबंध में इटावा सफारी पार्क के अधिकारियों ने जानकारी दी है कि अभी दोनों की हालत स्थिर है. दोनों की तबीयत खराब होने के बाद उनका टेस्ट किया गया, टेस्ट रिपोर्ट आईबीआरआई बरेली से आयी जिसमें दोनों संक्रमित पाययी गयी.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
अब जानवरों पर भी असर दिखाने लगा है कोरोना वायरस
अब जानवरों पर भी असर दिखाने लगा है कोरोना वायरस
सोशल मीडिया टि्वटर

कोरोना संक्रमण का खतरा इंसानों के साथ- साथ अब जानवरों में भी फैल रहा है. देश में जानवरों में कोरोना संक्रमण का मामला भी अब सामने आने लगा है. उत्तर प्रदेश के इटावा में लायन सफारी की दो शेरनी गौरी तथा जैनिफर भी कोरोना संक्रमण का शिकार हो गयी है.

संक्रमित होने के बाद इन दोनों को अलग से रखा गया है, जहां इनका इलाज चल रहा है. इस संबंध में इटावा सफारी पार्क के अधिकारियों ने जानकारी दी है कि अभी दोनों की हालत स्थिर है. दोनों की तबीयत खराब होने के बाद उनका टेस्ट किया गया, टेस्ट रिपोर्ट आईबीआरआई बरेली से आयी जिसमें दोनों संक्रमित पाययी गयी.

इस संबंध में सफारी के डायरेक्टर के.के.सिंह ने एक प्रेस नोट जारी कर जानकारी दी है, जिसमें बताया गया है कि 30 अप्रैल से शेरनी गौरी व जेनिफर को बुखार आ रहा था इनकी तबीयत में कोई खास सुधार नहीं दिख रहा था ऐसे में 3 मई को जांच के लिए रिपोर्ट भेजी गयी

आईवीआरआई बरेली में इसकी जांच हुई और 6 मई को शाम को यह बताया गया कि शेरनी गौरी व जेनिफर दोनों कोरोना संक्रमित हैं. इसके बाद ही इन दोनों को अलग से रखा गया है, अब डॉक्टर इनका ध्यान रख रहे है. दोनों के संक्रमित होने की खबर के बाद भी सफारी प्रशासन लंबे समय तक चुप रहा, इसे कैसे मीडिया के सामने रखा जाये इस संबंध में लंबी चर्चा के बाद प्रेस नोट जारी किया गया.

अब दोनों शेरनियों का इलाज चल रहा है,इनकी सुरक्षा को लेकर भी विशेष ध्यान दिया जा रहा है, साथ ही इस बात का भी विशेष ध्यान रखा जा रहा है कि यह संक्रमण दूसरे जानवरों तक ना फैले ना ही कर्मचारियों को परेशानी का सामना करना पड़ा. इसी सुरक्षा के मद्देनजर सभी कर्मचारियों को पीपीई किट पहनना अनिवार्य कर दिया गया है और सभी के आरटीपीसीआर टेस्ट की इजाजत दी गयी है. ध्यान रहे कि गुजरात के जूनागढ़ में 23 शेरों की मौत हो गी थी. इसके बाद से ही प्रशासन अलर्ट मोड पर था हालांकि शेरों की मौत बवेसियोसिस सक्रंमण की वजह से हुई थी.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें