1. home Hindi News
  2. national
  3. new wave of corona is the biggest threat to youngsters and children shocking figures pkj

युवा और बच्चों के लिए ज्यादा खतरनाक है कोरोना की नयी लहर, चौकाने वाले आंकड़े

By PankajKumar Pathak
Updated Date
युवा और बच्चों के लिए सबसे ज्यादा खतरना है कोरोना की यह नयी लहर
युवा और बच्चों के लिए सबसे ज्यादा खतरना है कोरोना की यह नयी लहर
पीटीआई फोटो

कोरोना संक्रमण की नयी लहर बच्चों और युवाओं के लिए ज्यादा खतरनाक है. कई राज्यों में नवजात बच्चों से लेकर युवाओं तक को संक्रमण ज्यादा हो रहा है. पहली लहर में व्यस्क और बीमार लोगों को खतरा था तो इस बार जब कोरोना की नयी लहर आयी तो बच्चों और युवाओं को निशाना बना रही है.

देशभर में संक्रमितों के जो आंकड़े सामने आये हैं उसमें महाराष्ट्र के आंकड़े पर नजर डालें तो पायेंगे 0- 5 साल के लगभग 10 हजार बच्चे कोरोना संक्रमित है जबकि 6 से 10 साल के 15 हजार से ज्यादा बच्चे कोरोना संक्रमित पाये गये हैं. अगर मामले की गंभीरता को समझना है तो किसी एक राज्य के आंकड़े को सिर्फ मत देखिये आइये दूसरे राज्यों में संक्रमण की स्थिति को समझते है.

छत्तीसगढ़ में 0से 5 साल के 900 से ज्यादा बच्चे संक्रमित पाये गये है जबकि 6 से 10 साल के 15 हजार से ज्यादा बच्चे संक्रमित हैं. इसी तरह कर्नाटक में 0-5 साल के 900 और 6 से 10 साल के 1200 से ज्यादा बच्चे संक्रमित है. देश की राजधानी दिल्ली में भी 0-5 साल के 450 और 6 से 10 साल के 700 से ज्यादा बच्चे इस संक्रमण का शिकार हो गये हैं. इसी तरह उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश सहित कई राज्यों में कोरोना संक्रमण का आंकड़ा बच्चों में ज्यादा है. इसी तरह युवाओं को भी संक्रमण ज्यादा निशाना बना रहा है.

देश की राजधानी सहित कई राज्यों से कोरोना के जो आंकड़े सामने आये हैं उसमें ज्यादातर वैसे युवा हैं जो कामकाजी है और जिनकी उम्र 30 से 50 साल के बीच की है. ऐसे लोगों में भी संक्रमण के मामले देखे गये हैं. युवा वर्ग को कोरोना की नयी लहर से ज्यादा सुरक्षित रहने की जरूरत है. कोरोना संक्रमण से बचाव के उन सभी नियमों का पालन करना जरूरी है जिस पर सरकार बार- बार ध्यान देने की अपील कर रही है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें