26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

‘यहां से चला जाऊं’, जानें नये संसद भवन पर राष्ट्रध्वज फहराने के अवसर पर क्यों भड़के कांग्रेस नेता अधीर रंजन

Parliament Special Session: संसद का विशेष सत्र 18 से 22 सितंबर तक बुलाया गया है. रविवार को राष्ट्रीय ध्वज फहराने के दौरान मल्लिकार्जुन खड़गे और कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की अनुपस्थिति पर जब कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी से वाल किया गया तो वह भड़क गये.

Parliament Special Session: उपराष्ट्रपति और राज्यसभा के सभापति जगदीप धनखड़ ने रविवार को यहां नये संसद भवन पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया. उन्होंने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला के साथ नये संसद भवन के ‘गज द्वार’ के ऊपर तिरंगा फहराया. इस अवसर पर कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी पहुंचे. यहां पहुंचने पर उन्होंने पीएम मोदी को जन्मदिन की बधाई दी.

राष्ट्रीय ध्वज फहराने के दौरान मल्लिकार्जुन खड़गे और कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की अनुपस्थिति पर जब कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी से सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि यदि मैं यहां उपयोगी नहीं हूं, तो मुझे बताएं मैं चला जाऊंगा…उन पर ध्यान केंद्रित करें जो यहां मौजूद हैं… मैं यहां हूं, क्या मीडिया के लोगों के लिए ये काफी नहीं है..

Also Read: नई संसद भवन पर पहली बार फहरा तिरंगा, उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने किया ध्वजारोहण

आपको बता दें कि ध्वजारोहण समारोह सोमवार से शुरू होने वाले पांच दिवसीय संसद सत्र से एक दिन पहले हुआ. इस बार संसद की कार्यवाही पुराने भवन के बजाय नये भवन में होने की संभावना है. नया भवन पुरानी इमारत के पास ही है. इससे पहले, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के संसदीय ड्यूटी ग्रुप ने धनखड़ और बिड़ला को ‘गार्ड ऑफ ऑनर’ दिया.

Undefined
'यहां से चला जाऊं', जानें नये संसद भवन पर राष्ट्रध्वज फहराने के अवसर पर क्यों भड़के कांग्रेस नेता अधीर रंजन 2

भारत के इतिहास में यह एक नया अध्याय खुला

नए संसद भवन के ध्वजारोहण समारोह में नेशनल कॉन्फ्रेंस अध्यक्ष फारुख़ अब्दुल्ला ने कहा कि भारत के इतिहास में यह एक नया अध्याय खुल रहा है. हम इंतज़ार कर रहे थे कि कब नए संसद भवन में जाएंगे और अब वह दिन आ गया है. पीएम मोदी के जन्मदिन को लेकर फारुख़ अब्दुल्ला ने कहा कि मैं प्रधानमंत्री को मुबारबाद देता हूं, उनकी लंबी उम्र हो.

Also Read: Parliament Special Session: नया संसद भवन नयी उम्मीदें, जानें विशेष सत्र की खास बातें

संसद का विशेष सत्र 18 से 22 सितंबर तक

यहां चर्चा कर दें कि संसद का विशेष सत्र 18 से 22 सितंबर तक बुलाया गया है. इस दौरान संविधान सभा से लेकर आज तक, संसद की 75 वर्षों की यात्रा और उपलब्धियों पर चर्चा की जाएगा. विशेष सत्र में चार विधेयक भी सूचीबद्ध हैं. कार्यक्रम के अनुसार यह सत्र 18 सितंबर को पुराने भवन में शुरू होगा और गणेश चतुर्थी के दिन यानी 19 सितंबर को नये संसद भवन में स्थानांतरित हो जायेगा.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें