1. home Hindi News
  2. national
  3. mumbai police commissioner said three channels including republic tv are committing fraud in the trp game pkj

रिपब्लिक टीवी समेत तीन चैनल ने पैसे देकर बढ़ाई TRP, मुंबई पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दी जानकारी, कार्रवाई का आदेश

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
 मुंबई पुलिस कमिश्नर परमवीर सिंह
मुंबई पुलिस कमिश्नर परमवीर सिंह
फाइल फोटो

मुंबई : न्यूज चैनल के टीआरपी का खेल अब अपराध तक पहुंच गया है, मुंबई पुलिस कमिश्नर परमवीर सिंह ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस कर यह बात कही. उन्होंने आरोप लगाया कि तीन चैनल टीआरपी का खेल खेलने के लिए पैसे देकर डाटा के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं

पुलिस कमिश्नर ने रिपब्लिक टीवी समेत तीन चैनल का नाम लिया है और बताया कि इस मामले की जांच की जा रही है और आगे की कार्रवाई के लिए चैनल के प्रमुखों के बैंक अकाउंट की भी जांच की जायेगी. चैनल के मालिकों से पूछताछ के लिए उन्हें तलब किया जायेगा. चैनल के बैंक अकाउंट की जांच होगी, जिससे यह पता लगाना आसान होगा कि फर्जी टीआरपी के दम पर उन्हें कितने विज्ञापन मिले और उनका किस तरह इस्तेमाल हुआ. इन पैसों को अपराध का हिस्सा माना जायेगा.

प्रेस कॉन्फ्रेंस में पुलिस कमिश्नर ने बताया कि इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है जिनके पास से काफी बड़ी रकम बरामद की गयी है. ये लोग टीआरपी के साथ छेड़छाड़ करने का काम करते थे,जिन घरों से टीआरपी मापा जा सकता है वहां पैसे देकर एक ही चैनल देखने को कहा जाता था.

महीने में इसके लिए उन्हें पैसे दिये जाते थे. वैसे लोग जो अंग्रेजी ठीक से नहीं समझ पाते उनके घरों में भी अंग्रेजी के न्यूज चैनल चलते थे. एक अकाउंट को सीज किया गया है जिसमें 20 लाख रुपये थे, वहीं एक आदमी के बैंक लॉकर से आठ लाख की रिकवरी हुई है. उनके खिलाफ आईपीसी की धारा 409, 420 के तहत मामला दर्ज किया गया है.

क्या है रिपब्लिक भारत की प्रतिक्रिया 

रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क के एडिटर-इन-चीफ अर्नब गोस्वामी ने मुंबई पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह द्वारा लगाए गए आरोपों को गलत बताते हुए एक बयान जारी किया है . कमिश्नर परमबीर सिंह के झूठे आरोपों के बाद, अर्नब गोस्वामी ने घोषणा की है कि रिपब्लिक टीवी कमिश्नर परमबीर सिंह के खिलाफ आपराधिक मानहानि का मुकदमा दायर करेगी

'मुंबई पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने रिपब्लिक टीवी के खिलाफ झूठे आरोप लगाए, क्योंकि हमने उन पर सुशांत सिंह राजपूत केस की जांच को लेकर सवाल उठाए. रिपब्लिक टीवी मुंबई पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह के खिलाफ मानहानि का केस दर्ज कराएगा. BARC ने ऐसी एक भी रिपोर्ट नहीं दी है, जिसमें रिपब्लिक टीवी का नाम हो. देश की जनता सच जानती है.

सुशांत सिंह राजपूत केस में परमबीर सिंह की जांच संदेह के घेरे में है इसलिए वो बौखलाए हुए हैं क्योंकि रिपब्लिक टीवी ने सुशांत सिंह राजपूत और पालघर केस में देश को सच दिखाया. बदले की ऐसी कार्रवाई से रिपब्लिक टीवी का एक-एक सदस्य सच्चाई के पीछे और मजबूती से खड़ा होगा. परमबीर सिंह का पूरी तरह से पर्दाफाश हो गया क्योंकि बार्क ने अपनी किसी शिकायत में रिपब्लिक टीवी का नाम नहीं लिया है. परमबीर सिंह को आधिकारिक रूप से माफी मांगनी चाहिए और कोर्ट में कानूनी कार्रवाई के लिए तैयार रहना चाहिए''

टीआरपी कैसे मापी जाती है ? 

ध्यान रहे कि BARC एजेंसी TRP मापने का काम करती है. इसी आधार पर चैनल खुद को नंबर वन बताते हैं. BARC ने यह काम हंसा नाम की एजेंसी को दे रखा है. मुंबई में लगभग 2000 बैरोमीटर लगाये गये हैं. इनके जरिये ही टीआरपी का अंदाजा लगाया जाता है कि किस घर में कौन सा चैनल देखा जा रहा है. इस बैरीमीटर की वजह से देखने जाने वाले चैनल का वक्त,कितनी देर देखा गया यह सब मापा जा सकता है. पुलिस के अनुसार, BARC ने जो अपनी रिपोर्ट सौंपी है उसमें रिपब्लिक का नाम आया है.

Posted By - Pankaj Kumar Pathak

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें