1. home Home
  2. national
  3. mamta banerjee meet pm modi today raise issue of tripura violence and bsf jurisdiction prt

पीएम मोदी और ममता बनर्जी के बीच आज होगी मुलाकात, इन मुद्दों पर हो सकती है बात

त्रिपुरा में व्यापक हिंसा और सीमा सुरक्षा बल के अधिकार क्षेत्र को बढ़ाने के मुद्दे को लेकर सीएम ममता बनर्जी आज पीएम मोदी से मिलेंगी. इसके अलावा सीएम ममता बनर्जी उद्योगपतियों से भी मुलाकात करेंगी. वो उन्हें पश्चिम बंगाल में बंगाल ग्लोबिल बिजनेस समिट में शामिल होने के लिए आमंत्रित करेंगी.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
पीएम मोदी से मिलेंगी ममता बनर्जी
पीएम मोदी से मिलेंगी ममता बनर्जी
Prabaht Khabar

तृणमूस कांग्रेस सुप्रीमो और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (West Bengal CM Mamta Banerjee) आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) से मुलाकात करेंगी. सीएम ममता बनर्जी पीएम मोदी से मुलाकात के दौरान सीमा सुरक्षा बल के अधिकार क्षेत्र को बढ़ाने और त्रिपुरा में व्यापक हिंसा समेत कई और मुद्दों पर बात कर सकती हैं.

गौरतलब है कि बीते दिनों त्रिपुरा में टीएमसी कार्यकर्ताओं पर हुए हमले को लेकर टीएमसी का एक प्रतिनिधिमंडल दिल्ली में पहले से ही मौजूद है. टीएमसी कार्यकर्ताओं का आरोप है कि बीजेपी कार्यकर्ताओं ने पुलिस स्टेशन में घुसकर उनकी जमकर पिटाई की है. टीएमसी का ये भी कहना है कि लाठी-डंडे के साथ उनपर पथराव भी किया गया. ममता बनर्जी पीएम मोदी से इस मुद्दे को लेकर मिलेंगी.

इसके अलावा सीएम ममता बनर्जी सीमा सुरक्षा बल के अधिकार क्षेत्र को बढ़ाने का मुद्दा भी उठाएंगी. सीएम बनर्जी सीमा सुरक्षा बल के अधिकार क्षेत्र को 15 किलोमीटर से बढ़ाकर 50 किलोमीटर किए जाने संबंधी केंद्र सरकार की अधिसूचना को लेकर पीएम मोदी से मिलेंगी.

अपने दिल्ली दौरा तो दैरान सीएम ममता बनर्जी उद्योगपतियों से भी मुलाकात करेंगी. गौरतलब है कि अगले साल फरवरी में पश्चिम बंगाल में बंगाल ग्लोबिल बिजनेस समिट का आयोजन किया जा रहा है. इस सम्मेलन में शामिल होने के लिए सीएम ममता उद्योगपतियों को आमंत्रित करेंगी. 25 नवंबर को सीएम ममता बनर्जी वापस कोलकाता वापस आएंगी.

गौरतलब है कि बंगाल चुनाव में प्रचंड जीत के बाद सीएम ममता बनर्जी का ये दूसरा दिल्ली दौरा है. ममता बनर्जी का ये चार दिवसीय दिल्ली दौरा है. पीएम मोदी और उद्योगपतियों के अलावा ममता बनर्जी दिल्ली में विभिन्न विपक्षी नेताओं से भी मुलाकात कर सकती हैं. गौरतलब है कि 29 नवंबर से संसद का शीतकालीन सत्र शुरू हो रहा है. इस कारण विपक्ष के कई नेता दिल्ली में हैं.

Posted by: Pritish Sahay

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें