1. home Home
  2. national
  3. maharashtra bandh today solidarity with farmers over lakhimpur violence pkj

Maharashtra Bandh Today: लखीमपुर हिंसा के विरोध में महाराष्ट्र बंद, 8 बसों में तोड़फोड़

महाराष्ट्र में इस बंद का असर साफ नजर आने लगा है. ब्जी बाजार पूरी तरह बंद हैं. पुणे कृषि उपज मंडी समिति (एपीएमसी) को भी बंद रखा गया है. छत्रपति शिवाजी मार्केट यार्ड ट्रेडर्स एसोसिएशन ने बंद की जानकारी पहले ही देते हुए ऐलान कर दिया था.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Maharashtra Bandh Today
Maharashtra Bandh Today
file

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में किसानों की मौत के बाद आज महाराष्ट्र बंद का ऐलान किया गया है. एनसीपी, कांग्रेस और शिवसेना के सत्तारूढ़ गठबंधन महाराष्ट्र विकास अघाड़ी ने इस राज्यव्यापारी बंद का ऐलान किया है. बेस्ट बसों के संचालन में शिवसेना के यूनियन का दबदबा है. बसों के संचालन पर रोक से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. यूनियन बंद के समर्थन में है. खबर यह भी है कि बंद के दौरान बेस्ट की करीब 8 बसों को नुकसान पहुंचाया गया है.

महाराष्ट्र में इस बंद का असर साफ नजर आने लगा है. ब्जी बाजार पूरी तरह बंद हैं. पुणे कृषि उपज मंडी समिति (एपीएमसी) को भी बंद रखा गया है. छत्रपति शिवाजी मार्केट यार्ड ट्रेडर्स एसोसिएशन ने बंद की जानकारी पहले ही देते हुए ऐलान कर दिया था कि आज सभी फल, सब्जी, प्याज, आलू बाजार बंद रहेंगे.

व्यापारी संघ ने भी सभी सदस्यों से आज अपना व्यापार बंद रखने की अपील की है. शिवसेना नेताओं ने अपील की है कि महाराष्ट्र बंद के दौरान अस्पताल, एम्बुलेंस, चिकित्सा कहानियों, दूध की आपूर्ति जैसी आवश्यक सेवा जारी है. इन जरूरी सुविधाओं को बंद से वंचित रखा गया है. महाविकास अघाड़ी ने महाराष्ट्र के लोगों से बंद का समर्थन करने की अपील की है. लोगों से अपील की गयी है कि वह अपनी - अपनी दुकानें बंद रखें और बंद का समर्थन करें.

इस संबंध में बात करते हुए शिवसेना के राज्यसभा सदस्य संजय राउत ने कहा, उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में किसानों की हत्या के विरोध में महाराष्ट्र बंद का ऐलान किया गया है, इस लड़ाई में किसान अकेले नहीं हैं और उनके साथ एकजुटता दिखाने की प्रक्रिया महाराष्ट्र से शुरू होनी चाहिए.

लखीमपुर खीरी में तीन अक्टूबर को चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई थी. आरोप है कि महेंद्र थार से इन किसानों को कुचल दिया गया है. कुचले जाने से चार किसानों की मौत हो गई, जिसके बाद गुस्साई भीड़ ने इन वाहनों में सवार कुछ लोगों की पीट-पीट कर हत्या कर दी.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें