1. home Hindi News
  2. national
  3. kumar vishwas may join bjp aap arvind kejriwal photo viral amh

भाजपा का दामन थामेंगे कुमार विश्‍वास ? इस तस्‍वीर के सामने आने के बाद कयास तेज

ट्वीट को री-ट्वीट करते हुए आम आदमी पार्टी के पूर्व नेता कुमार विश्वास ने कहा कि एक लम्बे अरसे बाद अनायास आप दोनों अग्रजों का सानिध्य-सत्संग प्राप्त हुआ. संदीप यादव नामक यूजर ने लिखा कि सबको पता है कि ये सब आप क्‍यों कर रहे थे...भाजपा में जाने के लिए.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
कुमार विश्वास
कुमार विश्वास
twitter

पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय ने कथित तौर पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ भड़काऊ बयान देने के मामले में आम आदमी पार्टी के पूर्व नेता कुमार विश्वास की गिरफ्तारी पर सोमवार को रोक लगा दी. इस खबर के बीच कवि कुमार विश्वास (Kumar Vishwas) की एक तस्‍वीर सामने आई है जिसमें वे केंद्रीय मंत्री अश्‍विनी चौबे के साथ नजर आ रहे हैं. इस तस्‍वीर को खुद अश्‍विनी चौबे ने ट्वीट किया जिसे बाद में कुमार विश्‍वास ने री-ट्वीट किया.

कुमार विश्‍वास का ट्वीट

केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता अश्‍विनी चौबे ने अपने ट्विटर वॉल पर लिखा कि आज अहमदाबाद एयरपोर्ट पर कवि कुमार विश्‍वास जी व केंद्रीय मंत्री श्री पुरुषोत्तम रूपला जी से आत्मीय मुलाकात हुई. इस ट्वीट को री-ट्वीट करते हुए आम आदमी पार्टी के पूर्व नेता कुमार विश्वास ने कहा कि एक लम्बे अरसे बाद अनायास आप दोनों अग्रजों का सानिध्य-सत्संग प्राप्त हुआ. पुरुषोत्तम रूपला भैया से गौवंश-संवर्धन के नये प्रयासों व तकनीक की जानकारी ने गायों के लिए नवीन प्रोत्साहन-पूर्ण मार्ग दिखाया...सादर आभार...आपको बता दें कि पुरुषोत्तम रूपला भी भाजपा से ही ताल्‍लुक रखते हैं.

ट्वीट पर प्रतिक्रिया

कुमार विश्‍वास के इस ट्वीट पर लगातार प्रतिक्रिया लोग सोशल मीडिया पर दे रहे हैं. ASHEESH AWASTHI "MADHAW" नामक यूजर ने लिखा कि ये तस्वीर सामन्य भेंट से कुछ ज्यादा की ओर भी इशारा करती है, मुलाकात का ये सिलसिला बनाएं रखना, एक भेंट भी हो सकती है एक दौर भी बन सकता है!!! वहीं संदीप यादव नामक यूजर ने लिखा कि सबको पता है कि ये सब आप क्‍यों कर रहे थे...भाजपा में जाने के लिए.

पंजाब पुलिस ने 12 अप्रैल को मामला दर्ज किया

आपको बता दें कि कवि कुमार विश्वास के खिलाफ पंजाब पुलिस ने 12 अप्रैल को मामला दर्ज किया था. विश्वास के वकील मयंक अग्रवाल ने कहा कि कोर्ट ने विश्वास की गिरफ्तारी पर रोक लगा दी. न्यायमूर्ति अनूप चितकारा की अदालत ने मामले की सुनवाई के लिए चार जुलाई की तारीख निर्धारित की है. विश्वास ने अपने खिलाफ दर्ज प्राथमिकी को रद्द करने का अनुरोध करने वाली एक याचिका पिछले सप्ताह उच्च न्यायालय में दाखिल की थी. हाई कोर्ट ने 27 अप्रैल को याचिका पर सुनवाई की थी और फैसला सोमवार तक के लिए सुरक्षित रख लिया था.

क्‍या है मामला

यहां चर्चा का दें कि पिछले दिनों हुए पंजाब विधानसभा चुनाव से पूर्व विश्वास ने केजरीवाल पर खालिस्तानी समर्थक होने का आरोप लगाया था. पंजाब पुलिस 20 अप्रैल को गाजिबाद स्थित विश्वास के आवास पर पहुंची थी और उन्हें पूछताछ के लिए तलब किया था. विश्वास ने अपनी याचिका में कहा था कि उनके खिलाफ दर्ज मामला कानूनी प्रक्रिया का घोर दुरुपयोग है और प्रत्यक्ष तौर पर राजनीति से प्रेरित है. उन्होंने याचिका में कहा कि जिस तरीके से जांच एजेंसी कार्रवाई कर रही है, प्रत्यक्ष है कि वह याचिकाकर्ता की आजादी को खत्म करने की कोशिश कर रही है और ऐसी प्रक्रिया अपना रही है जो कानून में है ही नहीं.

भाषा इनपुट के साथ

Posted By : Amitabh Kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें