1. home Hindi News
  2. national
  3. kapil sibal on adhir ranjan chaudharys target asked did not show your face in bihar and mp elections kapil sibbal statement on congress pwn

कांग्रेस में जारी है रार, अधीर रंजन ने कपिल सिब्बल से पूछा- बिहार और एमपी चुनावों में आपका चेहरा क्यों नहीं दिखा

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
अधीर रंजन के निशाने पर कपिल सिब्बल
अधीर रंजन के निशाने पर कपिल सिब्बल
File Photo

बिहार समेत दूसरे राज्यों में हुए विधानसभा में कांग्रेस में मिली हार पर कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल द्वारा दी गयी प्रतिक्रिया के बाद कपिल सिब्बल कांग्रेस नेताओं के निशाने पर आ गये हैं. राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बादा तारिक अनवर और अब कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कपिल सिब्बल को नसीहत दी है. अधिर रंजन चौधरी ने कपिल सिब्बल पर निशाना साधते हुए कहा कि बिना कुछ किए आत्मनिरीक्षण का कोई मतलब नहीं है.

उन्होंने कहा कि कपिल सिब्बल ने इससे पहले भी कांग्रेस के लिए आत्मनिरीक्षण की बात कह थी, वह कांगेस के आत्मनिरीक्षण के लिए बहुत चिंतित हैं. पर अगर वो इतने चिंतित हैं तो बिहार, मध्य प्रदेश यूपी या गुजरात के चुनावों में उनका चेहरा क्यों नहीं दिखाई दिया. अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि अगर कपिल सिब्बल बिहार और मध्य प्रदेश जाते तो वो यह साबित कर सकते थे कि जो वह कह रहे हैं वो सही कह रहे हैं. इससे कांग्रेस की स्थिति मजबूत हुई है. पर बोलने से सिर्फ कुछ नहीं होगा. क्योंकि बोलने का मतलब आत्मनिरीक्षण नहीं है.

इससे पहले राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कबिल सिब्बल को नसीहत देते हुए कहा था कि उनके बयान से बयान से कांग्रेस कार्यकर्ताओं को तकलीफ हुई है. कपिल सिब्बल को पार्टी के अंदरूनी मामलों को मीडिया के सामने बालने की जरूरत नहीं है. सीएम गहलोत ने कहा कि इससे पहले कांग्रेस ने कई बुरे दौर देखे हैं. पर पार्टी ने अपनी नीतियों, विचारधारा और नेतृत्व के विश्वास के दम पर जबरदस्त वापसी की. बुरे दौर में हर बार पार्टी और अच्छे से निखर कर सामने आई है.

अशोक गहलोत के बाद पार्टी के वरिष्ठ नेता तारिक अनवर ने भी कपिल सिब्बल को निशाने पर लिया है. उन्होंने अशोक गहलोत के बयान का समर्थन करते हुए कहा कि अशोक जी ने जो कहा वह सच है. कपिल सिब्बल वरिष्ठ नेता हैं. उसे यह समझना चाहिए कि यदि पार्टी के पास किसी चीज की कमी है और वह सुझाव देना चाहता है, तो उसे पार्टी हाई कमान और अध्यक्ष से मिलना चाहिए. अगर वह मीडिया को बयान दे रहे हैं, तो इससे पार्टी को नुकसान ही होगा.

इससे पहले हाल ही में चुनावों में कांग्रेस की हार के सोनिया पर निशाना साधते हुए कपिल सिब्बल ने कहा कहा था कि लगता है कि पार्टी के शीर्ष नेतृत्व ने हार को ही अपनी नियती मान ली है. उन्होंने कहा कि ऐसा लगता है जैसे जनता अब कांग्रेस को एक विकल्प के तौर पर भी नहीं देखती है. इससे पहले कांग्रेस महासचिव तारिक अनवर ने भी बिहार विधानसभा चुनाव में खराब प्रदर्शन को लेकर आत्मचिंतन करने की बात कही थी.

Posted By: Pawan Singh

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें