1. home Hindi News
  2. national
  3. kapil sibal big attack on rahul gandhi and sonia gandhi said congress seems to have accepted defeat as its destiny bihar election 2020 aml

कपिल सिब्बल का राहुल-सोनिया पर हमला, कहा- लगता है हार को ही अपनी नियती मान ली है

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
कपिल सिब्बल
कपिल सिब्बल
Twitter

Bihar Election 2020 नयी दिल्ली : कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल (Kapil Sibal) ने पिछले कई चुनावों में पार्टी की लगातार हार के बाद सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) और राहुल गांधी (Rahul Gandhi) पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा लगता है कि पार्टी के शीर्ष नेतृत्व ने हार को ही अपनी नियती मान ली है. उन्होंने कहा कि ऐसा लगता है जैसे जनता अब कांग्रेस (Congress) को एक विकल्प के तौर पर भी नहीं देखती है. इससे पहले कांग्रेस महासचिव तारिक अनवर (Tarik Anwar) ने भी बिहार विधानसभा चुनाव में खराब प्रदर्शन को लेकर आत्मचिंतन करने की बात कही थी.

बता दें कि बिहार में महागठबंधन के तहत कांग्रेस 70 सीटों पर चुनाव लड़ी थी. इसमें से केवल 19 सीट की कांग्रेस के खाते में गये. इससे महागठबंधन को भी बड़ा झटका लगा और वह बहुमत का आंकड़ा नहीं जुटा पाई. सिब्बल ने अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस को दिये इंटरव्यू में कहा कि कांग्रेस नेतृत्व ने मान लिया है कि पराजय ही उनकी नियती बन गयी है. उन्होंने कहा कि उपचुनाव केक नतीजों से भी यही लगता है कि लोग अब कांग्रेस को विकल्प के रूप में नहीं देखते हैं.

उन्होंने कहा कि गुजरात में हुए उपचुनाव में हम एक भी सीट नहीं जीत पाए. लोकसभा चुनाव में भी यही हाल था. बिहार में तो आरजेडी ही एक विकल्प था, लेकिन कांग्रेस को जो नुकसान हुआ है, उसकी समीक्षा की जानी चाहिए. मुझे नहीं पता कि कांग्रेस नेतृत्व इसे भी एक सामान्य घटना मान रही है. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के उपचुनाव में कांग्रेस के कई प्रत्याशियों की जमानत जब्त हो गयी. ऐसी सीटों पर कांग्रेस को 2 फीसदी वोट भी नहीं मिले हैं.

सिब्बल ने कहा कि हम जानते हैं कि सांगठनिक तौर पर क्या समस्या है. इसका समाधान भी सबको पता है. कांग्रेस पार्टी भी जानती है कि समाधान कैसे होगा, लेकिन समाधान को अपनाने से कतराते हैं. अगर ऐसा ही रहा तो आने वाले समय में परिणाम और भी बुरे हो सकते हैं. उन्होंने कहा कि सीडब्ल्यूसी को पार्टी के संविधान के अनुसार लोकतांत्रिक बनाना होगा. अभी सीडब्ल्यूसी में केवल नामित सदस्य हैं जो समाधान अपनाना नहीं चाहते.

क्या कहा था तारिक अनवर ने

पीटीआई-भाषा को दिये साक्षात्कार में तारिक अनवर ने कहा, ‘बिहार में बदलाव का माहौल बन चुका था. हम इसका पूरा लाभ नहीं उठा पाए. हमें उम्मीद थी कि कांग्रेस 70 सीट पर लड़ी है तो कम से कम 50 फीसदी सीटें जीतेगी. लेकिन हम 19 पर रुक गये. इससे थोड़ा झटका लगा. अगर महागठबंधन की सरकार नहीं बनी तो थोड़ी जिम्मेदारी हम लोगों की है.'

अनवर ने इस बात पर जोर दिया, ‘आलाकमान और राहुल गांधी का पूरा सहयोग मिला. लेकिन कहीं न कहीं हमारी कमजोर रही है. अगर कमजोरी नहीं होती तो 35-40 सीटें मिलतीं. आगे इसका विश्लेषण होगा कि क्या वजह रही है कि प्रदर्शन ऐसा रहा. आत्मचिंतन होना चाहिए. हमने भी अपनी तरफ से मांग की है. मुझे लगता है कि आलाकमान भी इसको लेकर गंभीर है.'

इस प्रदर्शन के कारणों के बारे में पूछे जाने पर कांग्रेस महासचिव ने कहा, ‘अभी इतना जल्दी किसी नतीजे पर नहीं पहुंच सकते. कहीं न कहीं विफलता है. उसी की हमें पहचान करनी है ताकि आने वाले साल में होने जा रहे चुनाव में इनको दोहराने से बचा जाए. हम चाहते हैं कि चुनाव में शामिल लोगों, उम्मीदवारों और जिला कांग्रेस कमेटी के लोगों से बातचीत करके पता किया जाए कि कहां गलती हुई.'

Posted By: Amlesh Nandan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें