1. home Hindi News
  2. national
  3. kanpur police encounter vikas dubey up police yogi adityanath stf kanpur vikas dubey encounter full story

Kanpur Encounter : पुलिस को चुनौती देकर विकास दुबे ने रची थी खूनी साजिश ! जानें कानपुर एनकाउंटर की पूरी कहानी

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Kanpur Encounter
Kanpur Encounter
PTI

Kanpur Encounter : कानपुर कांड के मुख्य आरोपी विकास दुबे मामले में बड़ा खुलासा हुआ है. एसटीएफ ने अपनी शुरुआती जांच में पुलिस की भूमिका को संदिग्ध माना है. एसटीएफ 2 जुलाई की रात घटी इस घटना की कड़ी जोड़ने लगी है. एसटीएफ इस मामले में अभी दो पुलिसकर्मी को गिरफ्तार भी किया है

न्यूज 18 ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि घटना की जानकारी तत्कालीन चौबेपुर थाने के दारोगा केके शर्मा ने लीक किया था. केके शर्मा ही इस मामले में जांच अधिकारी थे. रिपोर्ट में कहा गया है कि केके शर्मा ने विकास दुबे को फोन कर इस पूरे दबिश के बारे में जानकारी दी, जिसके बाद विकास दुबे ने इस खूनी खेल की साजिश रची.

रिपोर्ट में आगे दावा किया गया है कि इस पूरे मामले जानकारी चौबेपुर थाना प्रभारी विनय तिवारी के पास भी था, लेकिन तिवारी ने इसके बारे में सीओ बिल्हौर को नहीं दी. रिपोर्ट में कहा गया है कि आरोपी विकास ने सिपाही राजीव को फोन कर इस बारे में आगाह किया था, जिसके बाद सिपाही ने इसकी जानकारी विनय को दी लेकिन विनय ने ये जानकारी छुपा ली. एसटीएफ ने इस मामले में तिवारी और केके शर्मा पर आपराधिक साजिश के तहत मुकदमा दर्ज किया है.

68 पुलिसकर्मी लाइन हाजिर- कानपुर के बिकरु गांव में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद सवालों के घेरे में आए चौबेपुर थाने में तैनात सभी 68 पुलिसकर्मियों को मंगलवार रात लाइन हाजिर कर दिया गया. इसके अलावा कुछ समय पहले कानपुर के एसएसपी रहे एक पुलिस उपमहानिरीक्षक को भी स्थानांतरित कर दिया गया है. पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया कि चौबेपुर थाने में तैनात उपनिरीक्षक, हेड कांस्टेबल और कांस्टेबल समेत 68 पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर करने का यह कदम इसलिए उठाया गया है क्योंकि बिकरू कांड के बाद उनकी कर्तव्यनिष्ठा संदेह के घेरे में आ गई थी.एडीजी

एडीजी ने दुबे को जल्द दबोच लेने का किया दावा - कानपुर एनकाउंटर के मुख्य आरोपी विकास दुबे घटना के छठवें दिन भी यूपी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है. उसका कोई अता-पता नहीं है. पुलिस की कई टीमें उसे दबोचने में लगी है. वहीं बुधवार को एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) प्रशांत कुमार ने विकास दुबे को लेकर एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इसमें उन्होंने अब तक हुई कार्रवाई के संबंध में जानकारी दी. एडीजी ने कहा कि विकास दुबे जल्द ही गिरफ्त में आ जायेगा. इस मामले में ऐसी कार्रवाई होगी, जो पूरे देश के लिए नजीर बनेगी. पुलिसवालों की शहादत बेकार नहीं जाने देंगे. बदमाश पछताएंगे.

Posted By : Avinish Kumar Mishra

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें