26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

कंगना रनौत को थप्पड़ मारने वाली सीआईएसएफ कांस्टेबल कुलविंदर कौर अभी कहां हैं ?

कंगना रनौत को थप्पड़ मारने वाली सीआईएसएफ कांस्टेबल कुलविंदर कौर को अनुशासनात्मक जांच जारी रहने तक बेंगलुरु में एक यूनिट में भेजा गया है.

चंडीगढ़ एयर पोर्ट पर एक्ट्रेस एवं बीजेपी सांसद कंगना रनौत को पिछले महीने कथित तौर पर थप्पड़ मारा गया था. इस खबर के बाद थप्पड़ मारने वाली सीआईएसएफ कांस्टेबल कुलविंदर कौर की चर्चा सोशल मीडिया पर तेजी से हुई. यूजर लगातार मामले पर प्रतिक्रिया देते नजर आए. अब खबर है कि कुलविंदर कौर को अनुशासनात्मक जांच जारी रहने तक बेंगलुरु में एक यूनिट में भेजा गया है.

क्या है मामला

6 जून को नवनिर्वाचित सांसद कंगना रनौत दिल्ली जा रही थीं. इस वक्त उनके साथ यह घटना घटी. इस घटना के बाद सीआईएसएफ ने कुलविंदर कौर को सस्पेंड कर दिया था. सीआईएसएफ की शिकायत पर उनके खिलाफ केस भी दर्ज किया गया. अभी कुलविंदर कौर सस्पेंड हैं. अनुशासनात्मक जांच जारी रहने तक उनको कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु स्थित 10वीं रिजर्व बटालियन में तैनात किया गया है.

कौन कर रहा है मामले की जांच

खबरों की मानें तो वरिष्ठ कमांडेंट स्तर के एक अधिकारी इस घटना की जांच कर रहे हैं. कांस्टेबल, उस दिन एयर पोर्ट पर मौजूद उनके सहयोगियों, शिफ्ट इंचार्ज और कुछ एयरलाइन ऑफिसर के बयान दर्ज किये जा रहे हैं. जांच में कुछ वक्त लगेगा. इसके बाद ही कुछ क्लियर हो पाएगा.

Read Also : Emergency: ‘दादी और पिता के नाम पर वोट बटोरते हैं क्या उनके कारनामों की भी जिम्मेदारी लेंगे’, कंगना का राहुल पर हमला

कपूरथला जिले की रहने वाली हैं कुलविंदर कौर

कुलविंदर कौर पंजाब की कपूरथला जिले की रहने वाली हैं. वह 2009 में सीआईएसएफ में शामिल हुई थीं और 2021 से चंडीगढ़ एयर पोर्ट पर सीआईएसएफ के Aviation Safety Group में हैं. उनके पति भी चंडीगढ़ हवाई अड्डे पर तैनात थे, जब ये घटना हुई. ऐसी खबर आई थी कि कौर देश में हुए किसान आंदोलन पर कंगना रनौत के रूख को लेकर उनसे नाराज थीं. रनौत इस बार बीजेपी के टिकट पर हिमाचल प्रदेश की मंडी सीट से लोकसभा चुनाव में खड़ी हुईं थीं और जीत दर्ज की.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें