1. home Hindi News
  2. national
  3. india meteorological department alert deep depression in bay of bengal heavy rain fall in coastal area kal hogi tej barish mausam vibhag ne alert kiya rjh

Weather forecast : टूटा 20 साल का रिकॉर्ड, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में जल प्रलय, 20 की मौत

By Agency
Updated Date
India Meteorological Department alert
India Meteorological Department alert
Photo : Twitter

नयी दिल्ली : बंगाल की खाड़ी में बने गहरे दबाव के कारण मंगलवार से आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में भारी बारिश हो रही है. अबतक यहां 20 लोगों की मौत हो चुकी है और इन राज्यों में जलप्रलय जैसी स्थिति बन गयी है. खाड़ी में बना कम दबाव का क्षेत्र सोमवार को गहरे दबाव (Deep Depression) में बदल गया और मंगलवार तड़के यह उत्तरी आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों नरसापुर और विशाखापत्तनम से गुजरा, जिसके कारण यहां बहुत तेज बारिश हुई और जगह-जगह पर जलजमाव हो गया है. मौसम के बारे में सूचना भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने पहले ही दे दी थी

आईएमडी के चक्रवात चेतावनी प्रभाग ने बताया था कि इसके प्रभाव के चलते मंगलवार को तेलंगाना में बेहद भारी बारिश की संभावना है जबकि कर्नाटक, रायलसीमा, दक्षिण कोंकण और गोवा, मध्य महाराष्ट्र एवं मराठवाड़ा के दूरस्थ क्षेत्रों में भारी से बेहद भारी बारिश का अनुमान है. उन्होंने कहा कि उत्तरी आंध्र प्रदेश, दक्षिणी ओडिशा और विदर्भ के दूर-दराज क्षेत्र में भारी बारिश की संभावना है.

आईएमडी ने कहा, '' बंगाल की खाड़ी में कल बना कम दबाव का क्षेत्र गहरे दबाव के क्षेत्र में तब्दील हो गया. इसके 13 अक्टूबर की सुबह पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने की संभावना है. इस दौरान, 55-65 किलोमीटर प्रतिघंटा की अधिकतम रफ्तार से हवाएं चलने का अनुमान है जोकि बढ़कर 75 किलोमीटर प्रतिघंटा तक पहुंच सकती हैं.''

मौसम विभाग ने कहा कि सोमवार शाम से ही बंगाल की खाड़ी, आंध्र प्रदेश, ओडिशा, तमिलनाडु और पुडुचेरी के तटीय इलाकों में तेज रफ्तार से हवाएं चलने की संभावना है उन्होंने कहा कि मंगलवार शाम तक आंध्र प्रदेश, ओडिशा, तमिलनाडु और पुडुचेरी के तटीय इलाकों में समुद्र में हालात ''खराब'' रहेंगे. ऐसे में मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी गई है. बंगाल की खाड़ी में बने गहरे दबाव के कारण ओडिशा से सटे झारखंड राज्य में भी बारिश की संभावना है.

Posted By : Rajneesh Anand

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें