1. home Hindi News
  2. national
  3. india china border tension chinese foreign minister wang yi statement leh ladakh pangong tso lake avh

घुसपैठ नाकाम होने के बाद अब चीन का शांति राग, विदेश मंत्री वांग यी का बयान- 'हम शांति के लिए प्रतिबद्ध'

By Prabhat khabar Digital
Updated Date

india china news : पैंगोग झील के पास चीनी घुसपैठ नाकाम करने के बाद से ही भारत सीमा विवाद पर आक्रामक है, जिसके बाद अब चीन ने वार्ता का राग अलापना शुरू कर दिया है. चीन के विदेश मंत्री ने एक कार्यक्रम में कहा है कि चीन शांति स्थापित करने के लिए प्रतिबद्ध है और इस दिशा में सरकार हमेशा बातचीत के लिए तैयार है.

चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार विदेश मंत्री वांग यी ने फ्रांस में एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि हम वार्ता के लिए हमेशा तैयार है. उन्होंने आगे कहा कि सीमा पर शांति स्थापित करने के लिए चीन सरकार प्रतिबद्ध है.

वांग यी ने कहा, चीन और भारत के बीच सीमा का अभी तक सीमांकन नहीं किया गया है. इसलिए समस्याएँ हैं. चीन अपनी संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता की रक्षा करेगा, और भारतीय पक्ष के साथ बातचीत के माध्यम से सभी प्रकार के मुद्दों का प्रबंधन करने के लिए तैयार है.

क्या है मामला- ईस्टर्न लद्दाख बॉर्डर पर भारत और चीन के बीच तनाव बढ़ता जा रहा है. 29/30 अगस्त को भारत और चीन के सैनिकों के बीच पेंगोंग त्सो झील (Pangong Lake) के पास हुई झड़प के बाद तनाव बरकरार है. ईस्टर्न लद्दाख इलाके में घुसपैठ की कोशिश कर रहे चीनी सैनिकों के प्रयास को भारतीय सेना के जवानों ने नाकाम कर दिया. वहीं अब खबर आ रही है कि भारतीय सेना ने चीन के खिलाफ प्री-एम्पटिव कारवाई करते हुए इस इलाके में अपना अधिकार जमा लिया है.

हाई अलर्ट पर भारतीय सेना- बता दें कि लद्दाख बॉर्डर पर पैंगोंग झील के पास चीनी घुसपैठ के बाद सेना अलर्ट हो गई है. 29-30 अगस्त को रात हुई इस झड़प में अब तक कोई हताहत होने की सूचना नहीं है. वहीं श्रीनगर लेह हाईवे को आम लोगों के लिए बंद कर दिया है. वहीं स्थानीय लोगों को सुरक्षित जगहों पर ले जाया गया है.

Posted by : Avinish Kumar Mishra

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें