1. home Hindi News
  2. national
  3. heart of asia conference meeting between foreign ministers of india and pakistan ksl

आज से शुरू हो रहा हार्ट ऑफ एशिया सम्मेलन, भारत और पाकिस्तान के विदेश मंत्रियों के बीच मुलाकात की अटकलें तेज

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर और पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी
भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर और पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी
सोशल मीडिया

नयी दिल्ली : मध्य एशियाई देश ताजिकिस्तान की राजधानी दुशांबे में आज से 'हार्ट ऑफ एशिया' सम्मेलन शुरू हो रहा है. इस सम्मेलन में पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी और भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर के बीच मुलाकात को लेकर अटकलें लगायी जा रही हैं.

पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के मुताबिक, पाकिस्तान के प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी करेंगे. जबकि, सम्मेलन में भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर भी शामिल हो रहे हैं. पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने भारत के विदेश मंत्री से मुलाकात के लिए अभी तक कोई बैठक तय नहीं है और ना ही इस संबंध में कोई प्रस्ताव दिया गया है.

पाकिस्तान के अखबार डॉन की खबर के मुताबिक, पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा है कि 'हार्ट ऑफ एशिया' सम्मेलन में भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर प्रसाद के साथ ना तो कोई बैठक तय है और ना ही कोई प्रस्ताव दिया गया है. हालांकि, सम्मेलन में दोनों मंत्रियों के बीच मुलाकात की अटकलें लगायी जा रही हैं.

मालूम हो कि 26 मार्च को दिल्ली में आयोजित 'इंडिया इकोनॉमिक कॉन्क्लेव' में पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी से मुलाकात को लेकर भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा था कि मेरा कार्यक्रम बन रहा है. मुझे नहीं लगता कि अभी तक ऐसी किसी बैठक की योजना बनी है.

उन्होंने कहा था कि भारत और पाकिस्तान के डीजीएमओ के बीच हाल में जम्मू और कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर 2003 के संघर्ष विराम समझौते की बनी सहमति का सख्ती से पालन समझदारी भरा कदम है. साथ ही कहा था कि ''पाकिस्तान के साथ हम सामान्य पड़ोसियों जैसा संबंध चाहते हैं. सभी जानते हैं कि इसका क्या अर्थ होता है. अगर इस दिशा में रुझान है, तो मैं इसका स्वागत करूंगा.''

वहीं, ताजिकिस्तान की राजधानी दुशांबे में ‘हार्ट आफ एशिया' सम्मेलन में पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी से मुलाकात के संबंध में सवाल पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि, ''मेरा कार्यक्रम प्रगति पर है. अभी तक मैं ऐसी किसी बैठक (के कार्यक्रम) होने के बारे में नहीं जानता.''

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें