1. home Hindi News
  2. national
  3. fastag new rules in hindi government took a big decision now all lanes on toll plazas will be of fastg cash will have to be expensive fastag new rules toll plaza pkj

सरकार ने लिया बड़ा फैसला : अब टोल प्लाजा पर सभी लेन होंगे फास्टैग के, कैश देना पड़ेगा काफी महंगा

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
सरकार ने लिया बड़ा फसला : अब टोल प्लाजा पर सभी लेन होंगे फास्टैग के
सरकार ने लिया बड़ा फसला : अब टोल प्लाजा पर सभी लेन होंगे फास्टैग के
फाइल फोटो

सड़क और परिवहन मंत्रालय ने यह साफ कर दिया है कि 15 तारीख की मध्यरात्रि से जिन वाहनों में फास्टैग नहीं लगे होंगे उनसे दोगुणा पैसा लिया जायेगा. अब टोल प्लाजा के सभी लेन को फास्टैग लेन ही बना दिया जायेगा. इनमें अब कैस लेने के लिए कोई लेन नहीं होगा. मंत्रालय ने यह आदेश जारी किया है.

मंत्रालय ने पहले ही यह संकेत दिये थे कि आपकी गाड़ी में 15 फरवरी तक फास्टैग होना जरूरी है. अब फास्टैग का स्टीकर ना होने से आपको दोगुणा पैसा लगेगा पहले ये समयसीमा 1 जनवरी 2021 थी, जिसे बढ़ाकर 15 फरवरी कर दिया गया था. अब स्पष्ट है कि गाड़ी में फास्टैग ना होना बड़ा महंगा साबित होगा.

इस समय कुछ बैंकों की ओर से फास्टैग जारी किए जा रहे हैं. इनमें एचडीएफसी बैंक, एक्सिस बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, कोटक बैंक, पेटीएम पेमेंट्स बैंक और आईडीएफसी फर्स्ट बैंक शामिल हैं. भारत के राष्ट्रीय राजमार्गों पर 720 से ज्यादा टोल प्लाजा पर फास्टैग पेमेंट ऑप्शन मौजूद है.

क्या है फास्टैग?

एनईटीसी यानी नेशनल इलेक्ट्रॉनिक टॉल कलेक्शन फास्टैग इलेक्ट्रॉनिक पेमेंट सिस्टम से काम करता है. इसे नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) द्वारा विकसित किया गया है और आरएफआईडी तकनीक का इस्तेमाल कर टोल प्लाजा पर वाहन को बिना रोके ही टोल का भुगता हो जाता है. फास्टैग एक स्टीकर है, जो आपकी कार के विंडशील्ड पर अंदर से चिपका होता है. ये रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (आरएफआई) बारकोड के जरिए आपकी गाड़ी की रजिस्ट्रेशन डिटेल के साथ लिंक होता है.

कहां से खरीदें फास्टैग?

कार, बस, ट्रक या दूसरे प्रकार के निजी और व्यावसायिक वाहनों को टोल प्लाजा से गुजरने के लिए फास्टैग जरूरी है. वाहन मालिकों के पास फास्टैग खरीदने के कई विकल्प मौजूद हैं. आप इसे देशभर में किसी भी टोल प्लाजा से खरीद सकते हैं. इसके लिए आपको अपने व्हीकल का रिजस्ट्रेशन डॉक्यूमेंट दिखाना होगा. फास्टैग खरीदने के लिए यह अनिवार्य केवाईसी प्रक्रिया है. फास्टैग को आप बैंकों, अमेजन, पेटीएम, एयरटेल पेमेंट बैंक आदि से खरीद सकते हैं. एसबीआई, एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, एक्सिस बैंक और कोटक बैंक से आप फास्टैग खरीद सकते हैं.

क्या है दाम?

फास्टैग की कीमत दो चीजों पर निर्भर करती है. पहला यह कि आप किस कैटेगरी के वाहन के लिए फास्टैग खरीद रहे हैं. यानी आप कार, बस, ट्रक, जीप या किसी अन्य वाहन के लिए खरीद रहे हैं. इसके अलावा, फास्टैग की कीमत इस बात पर भी निर्भर करती है कि आप इसे कहां से खरीद रहे हैं. हर बैंक की फास्टैग की फीस और सिक्योरिटी डिपोजिट को लेकर अलग पॉलिसी है.

आप कार के लिए पेटीएम से फास्टैग 500 रुपये में खरीद सकते हैं. इसमें 250 रुपये रिफंडेबल सिक्योरिटी डिपोजिट और 150 रुपये मिनिमम बैलेंस मिलता है. वहीं, अगर आप इसे आईसीआईसीआई बैंक से खरीदते हैं, तो इसके लिए आपको इश्यू फीस के रूप में 99.12 रुपये और 200 रुपये डिपोजिट रकम देनी होगी और 200 रुपये का बैलेंस रखना होगा.

कैसे करें रिचार्ज?

फास्टैग को रिचार्ज करने के दो तरीके हैं. पहला यह कि जिस बैंक से आप फास्टैग खरीद रहे हैं, उसके द्वारा क्रिएट किए फास्टैग वॉलेट को अपने स्मार्टफोन में डाउनलोड कर लें और इंटरनेट बैंकिंग, क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड से उसे रिचार्ज करें.

वहीं, दूसरा यह कि आप इसे पेटीएम, फोनपे जैसे मोबाइल वॉलेट से रिचार्ज करें. इसके अलावा आप अमेजन पे और गूगल पे से भी रिचार्ज कर सकते हैं.

कितनी होती वैधता?

एक फास्टैग जारी होने की तारीख के बाद से 5 साल तक वैध होता है. वहीं, फास्टैग अकाउंट के लिए आप जो रिचार्ज करते हैं, उसकी कोई वैधता नहीं होती है और वह जब तक आपका फास्टैग वैध रहता है, तब तक रिचार्ज वॉलेट में एक्टिव रह सकता है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें