1. home Home
  2. national
  3. drugs case nawab malik attack on sameer wankhede again aryan khan amh

Drugs Case: नवाब मलिक ने फिर फोड़ा एक बम, कहा- 'उड़ता पंजाब' के बाद नजर आता 'उड़ता महाराष्ट्र'

एनसीपी नेता और महाराष्‍ट्र के मंत्री ने कहा कि शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान ने क्रूज पार्टी का टिकट नहीं खरीदा था. प्रतीक गाबा और आमिर फर्नीचरवाला ही उन्हें वहां लेकर पहुंचे थे.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
मंत्री नवाब मलिक
मंत्री नवाब मलिक
twitter

Drugs Case: मानहानि का केस दायर होने के बाद भी समीर वानखेड़े पर महाराष्‍ट्र के मंत्री नवाब मलिक हमलावर नजर आ रहे हैं. रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करके मलिक ने वानखेड़े पर फिर आरोप लगाये. उन्होंने कहा कि मोहित कंबोज और समीर वानखेड़े की मुलाकात 7 अक्टूबर को हुई थी. ये मुलाकात ओशिवारा कब्रिस्तान के बाहर हुई. इसके बाद वानखेड़े घबरा गए और पुलिस से शिकायत की कि उनका पीछा किया जा रहा है. यहां किस्‍मत ने उनका साथ दिया. पास में लगा सीसीटीवी काम नहीं कर रहा था और हमें फीड नहीं मिल सका.

आगे एनसीपी नेता और महाराष्‍ट्र के मंत्री ने कहा कि शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान ने क्रूज पार्टी का टिकट नहीं खरीदा था. प्रतीक गाबा और आमिर फर्नीचरवाला ही उन्हें वहां लेकर पहुंचे थे. यह सरासर अपहरण और फिरौती का मामला है. मोहित कंबोज इस पूरे षड्यंत्र का मास्टरमाइंड है जबकि फिरौती मांगने में समीर वानखेड़े का हाथ था.

उड़ता पंजाब के बाद उड़ता महाराष्ट्र

आगे नवाब मलिक ने कहा कि विजय पगारे ने मुझे बताया, वे पिछले 7 महीने से ललित होटल में रह रहे थे. मनीष और विलास भानुशाली, सैम डिसूजा वहां आते थे. वहां लड़कियां भी आती थीं, वहां नशा करता था और वहां पैसे का लेन-देन भी होता था. उन्होंने कहा कि काशिफ खान ने हमारे मंत्री असलम शेख को पार्टी में आने के लिए मजबूर किया और हमारी सरकार के विभिन्न मंत्रियों के बच्चों को पार्टी में लाने की योजना भी बना रहे थे. असलम शेख गए होते तो उड़ता पंजाब के बाद उड़ता महाराष्ट्र नजर आता.

आर्यन खान को फंसाया गया

मामले में एक गवाह ने बताया है कि आर्यन को कुछ लोगों ने पैसा बनाने के लिए फंसाने का काम किया है. गवाह ने पुलिस को बताया है कि यह पूरी तरह से प्लानिंग के साथ किया गया है, 27 सितंबर को पूरी रणनीति को अंतिम रूप दिया गया था, जबकि 2 अक्टूबर को क्रूज जहाज पर छापा मारा गया था. इसकी पूरी योजना पहले से तैयार करके रखी गई थी. इस संबंध में अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया ने खबर प्रकाशित की है.

मलिक पर केस दर्ज

मामले को लेकर समीर वानखेड़े के पिता ध्यानदेव ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है. ध्यानदेव के द्वारा दायर मानहानि केस में कहा गया है कि मलिक ने पूर्वाग्रह से प्रेरित होकर वादी और उसके परिवार के सदस्यों के नाम, चरित्र, प्रतिष्ठा और सामाजिक छवि को अपूरणीय क्षति पहुंचाने का काम किया है. ध्यानदेव ने नवाब मलिक पर 1.25 करोड़ रुपये की मानहानि का दावा ठोका है जिसकी सोमवार को सुनवाई होनी है.

Posted By : Amitabh Kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें