1. home Home
  2. national
  3. delhi police dcp anyesh roy said 14 cyber fraudsters arrested from jamtara rjh

दिल्ली पुलिस के साइबर सेल ने झारखंड के जामताड़ा से 14 साइबर फ्रॉड को गिरफ्तार किया, ठगी के तकनीक की दी जानकारी

डीसीपी अन्येश रॉय ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि इस रैकेट का मास्टरमाइंड अल्ताफ अंसारी उर्फ रॉकस्टार और गुलाम अंसारी उर्फ मास्टर जी है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Delhi Police DCP Anyesh Roy
Delhi Police DCP Anyesh Roy
Twitter

दिल्ली पुलिस के साइबर सेल ने झारखंड के जामताड़ा से 14 साइबर फ्रॉड को गिरफ्तार किया है. यह जानकारी दिल्ली पुलिस साइबर सेल के डीसीपी अन्येश रॉय ने दी. उन्होंने बताया कि इन 14 साइबर फ्रॉड को छापेमारी करके गिरफ्तार किया गया है.

अल्ताफ अंसारी और गुलाम अंसारी है मास्टरमाइंड

डीसीपी अन्येश रॉय ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि इस रैकेट का मास्टरमाइंड अल्ताफ अंसारी उर्फ रॉकस्टार और गुलाम अंसारी उर्फ मास्टर जी है. अल्ताफ के अंडर कई कॉलर काम करते हैं. साथ ही पुलिस की गतिविधि पर नजर रखने के लिए वह लोगों को उस स्थान पर रखता है जहां से वह काम करता था.

नकली वेबसाइट बनाकर करते हैं ठगी

डीसीपी ने बताया कि गुलाम अंसारी नकली वेबसाइट बनाने में माहिर है. वह गूगल एड के जरिये उन वेबसाइट को प्रचारित करता था. अल्ताफ अंसारी एड कैंपेन चलाने के लिए प्रतिदिन 40 से 50 हजार रुपये तक खर्च करता था. डीसीपी अन्येश रॉय ने बताया कि ये लोग छोटे पैमाने पर काम करते थे और अपने कार्यों को छोटे-छोटे ग्रुप में करते थे.

यूपीआई भुगतान के जरिये धोखाधड़ी

यह साइबर फ्रॉड मुख्यत: यूपीआई भुगतान के जरिये धोखाधड़ी करते थे. इनका उद्देश्य लोगों को यूपीआई भुगतान के लिए प्रेरित करना था. केवाईसी के नाम पर भी ये लोग खूब ठगी करते हैं.

डीसीपी ने बताया कि हाल के दिनों में यह साइबर फ्रॉड तकनीक का बहुत ज्यादा इस्तेमाल कर रहे हैं. पहले वे ठगी करने के लिए लोगों को लगातार फोन करते थे और उनसे बैंक डिटेल मांगते थे, लेकिन अब वे बेवसाइट बनाते हैं और उसके जरिये लोगों को थोक में संदेश भेजते हैं और ठगी करते हैं.

Posted By : Rajneesh Anand

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें